बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे बनकर हुआ तैयार..प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगें शुभारम्भ..

दोस्तों बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे बनकर तैयार हो चुका है..और आज इस एक्सप्रेस वे का प्रधानमंत्री नरेंन्द्र मोदी जी इसका लोकार्पण करेंगें..उद्धाटन से पहले ही अखिलेश यादव ने सरकार को लेकर ट्वीट करते हुए कहा कि-आधे-अधूरे बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे (Bundelkhand Expressway) के उद्घाटन की हड़बड़ी बताती है कि इसका डिज़ाइन भी ऐसे ही चलताऊ बना है तभी डिफ़ेंस कॉरिडोर के पास होने के बाद भी यहाँ भाजपा सरकार, सपा काल में बने आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे जैसी हवाई पट्टी न बना पाई। इसे चित्रकूट तक विकसित न करना दूरदृष्टि की कमी है..

आइए जानते हैं इसके अन्दर क्या-क्या खासियत क्या है..इस एक्सप्रेस-वे (Bundelkhand Expressway) की लंबाई 296 किलोमीटर है..और इसके चारों तरफ काफी जमीन भी है कि भविष्य में कभी जरुरत पड़ने पर इसको और चौड़ा करके 6 लेन तक बढ़ाया जा सके..

इस एक्सप्रेस-वे (Bundelkhand Expressway) के बन जाने के बाद चित्रकूट, बांदा, महोबा, हमीरपुर और जालौन के लोगों के लिए दिल्ली का सफर काफी आसान हो जाएगा..क्योंकि अब तक था कि चित्रकूच पहुंचने में लगभग 700 किलोमीटर की दूरी तय करनी पड़ती थी..इसमें 12 से 14 घंटे का टाइम लगता था..औऱ अब इस एक्सप्रेस वे बन जाने के बाद ये दूरी सिर्फ 630 किलोमीटर की रह जाएगी और काफी टाइम भी बचेगा..

इस एक्सप्रेस-वे (Bundelkhand Expressway) पर 250 से ज्यादा छोटे पुल, 6 टोल प्लाजा और 12 से ज्यादा बड़े पुल और 4 रेल पुल बनाए गए हैं,15 से ज्यादा फ्लाईओवर, 24 घंटे पुलिस पेट्रोलिंग की सुविधा और एंबुलेंस की सुविधा भी उपलब्ध कराई जाएगी..

एक्सप्रेस-वे (Bundelkhand Expressway) पर दोनों तरफ से कंटीली तार का बाड़ लगाया गया है..जिससे की यहां पर कोई भी पशु ना आने पाए..और अगर गलती से भी कोई पशु कभी आ भी जाता है तो कैटल कैचर व्हीकल की भी व्यवस्था की गई है जो उसे पकड़ने के काम आएगी..296 किलोमीटर के इस एक्सप्रेस वे पर जनता की आसानी के लिए 4 जन सुविधा केंद्र भी बनाए गए हैं..और 4 पेट्रोल पंप भी बनाए जाएगें..

बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे (Bundelkhand Expressway) को बनाने में 14850 करोड़ रुपए का खर्च आया है..इस एक्सप्रेस वे को बनाने के लिए 36 महिनों का लक्ष्य रखा गया था..लेकिन 8 महिने में पहले ही पूरा हो गया..प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फरवरी 2020 में बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे का शिलान्यास किया था..ये एक्सप्रेस-वे 8 नदियों बागे,श्यामा, केन, बिरमा, यमुना, चन्दावल, बेतवा और सेंगर से होकर गुजरता है..