अयोध्या में अवैध कब्जे में बीजेपी विधायक का नाम अखिलेश ने साधा निशाना..

अयोध्या में अवैध जमीन पर कब्जे करने वाले 40 लोगों की लिस्ट सामने आई है..इस लिस्ट में अयोध्या (Illegal Occupation in ayodhya) के मेयर ऋषिकेश उपाध्याय, मिल्कीपुर विधानसभा के पूर्व बीजेपी विधायक गोरखनाथ बाबा, बीजेपी विधायक वेद प्रकाश गुप्ता औऱ अयोध्या की 2 करोड़ की जमीन को 18 करोंड़ में बैनामा कराने वाला आदमी सुल्तान अंसारी और उनके पिता नन्हे मियां का भी नाम शामिल है..

अब इस मामले के सामने आने के बाद अखिलेश यादव ने एक पेपर की कटिंग ट्वीट करते हुए कहा कि- हमने पहले भी कहा है फिर दोहरा रहे हैं… ‘भाजपा के भ्रष्टाचारी कम-से-कम अयोध्या को तो छोड़ दें..’

अयोध्या विकास प्राधिकरण (Illegal Occupation in Ayodhya) ने जिन घरों को गिराया उसमें से कुछ पूर्व सैनिक भी हैं..और वो अपनी शिकायत लेकर अखिलेश यादव के पास पहुंचे..इस पर समाजवादी पार्टी ट्वीट करते हुए कहा कि-आज अयोध्या के पूर्व सैनिकों ने मा. राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री अखिलेश यादव जी से सपा कार्यालय पर मुलाकात की।

योगी सरकार ने रजिस्ट्री होने के बावजूद पूर्व सैनिकों के निर्माणाधीन घरों पर बुलडोज़र चला दिया।

सरकार पीड़ितों को घर बनाने की अनुमति दे अन्यथा उनका पैसा वापस करे..

अयोध्या (Illegal Occupation in Ayodhya) के सांसद लल्लू सिंह ने भू माफिया को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को एक पत्र लिखा था..जिस लेटर में उन्होंने अयोध्या में जमथरा से गोलाघाट तक भूमाफिया की ओर से नजूल और सरयू नदी जमीन पर जो अवैध कब्जों की एसआईटी से जांच कराने की मांग की थी..और खबर ये है कि उस पत्र की वजह से ये कार्रवाई की गई है..बीजेपी सांसद लल्लू सिंह ने मुख्यमंत्री को लिखे उस पत्र में भू-माफियाओं के बीच बड़े गठजोड़ की बात कही है..

समाजवादी पार्टी ने कहा-अयोध्या में अयोध्या में भाजपाइयों का पाप!

भाजपा के महापौर, नगर विधायक और पूर्व विधायक भू-माफियाओं के साथ मिलकर बसा रहे अवैध कॉलोनियां।

जिम्मेदार विभागों से सांठगांठ कर अबतक 30 अवैध कॉलोनियां बसाकर सरकार को अरबों रुपए के राजस्व का लगाया चूना।

मामले की हो जांच। दोषियों के खिलाफ हो कार्रवाई..

योगी सरकार के सत्ता में आने के बाद लगातार इन भूमाफियाओं पर कार्रवाई तो कर रही है..लेकिन बीजेपी के ही नेता विधायक अयोध्या जैसी पावन नगरी की जमीनों पर अपना कब्जा (Illegal Occupation in Ayodhya) जमाने में लगे हुए हैं..अब देखने वाली बात ये होगी की क्या योगी सरकार का बुलडोजर बीजेपी के इन नेताओं पर भी चलेगा..या फिर ये मामला यूं ही रफादफा कर दिया जाएगा..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *