BJP नेता पाप पुण्य कुछ भी करे उसको मत टोको : संपादकीय व्यंग्य

दोस्तों जब हिंदुस्तान में कोरोना से हाहाकार है..मरीजों के लिए एंबुलेंस नहीं हैं.. स्थितियां ये हैं कि ऑटो रिक्शा को एंबुलेंस बना दिया गया है..तब बीजेपी के बिहार से सांसद राजीव प्रताप रूडी के क्षेत्र की एंबुलेंसों में मरीज की जगह बालू ढोई जा रही हो..जब सांसद निधि से आई एंबुलेंस बीजेपी सांसद के गांव में छिपाकर खड़ी की गई हों..बालू ढोने के लिए ड्राइवर हो और मरीज ले जाने के लिए बीजेपी सांसद कहे कि ड्राइवर नहीं मिल रहे इसलिए एंबुलेंस कवर ओढ़कर खड़ी हैं..तो बीजेपी सांसद को सजा होनी चाहिए या फिर जो इन मामलों को उजाकर करे उसे हथकड़ी पहनाई जानी चाहिए..बिहार के बीजेपी राज से आप क्या उम्मीद करते हैं..वीडियो शुरू होने से पहले सोचिए जरूर..नमस्कार मेरा नाम प्रज्ञा मिश्रा है और देख रहे हैं उल्टा चश्मा यूसी..

 इंडिया इज ग्रेट..मेरा भारत महान है..और ये महानता का तमगा हमने मक्कारी से हासिल नहीं किया है..कुटिलता से हासिल नहीं किया है..ये तमगा हमने उदारता से..वीरता से..समाजकल्याण की भावना से हासिल किया है..हमने दुश्मन को भी पानी पिलाया है..हम वो हैं जो कहते हैं 100 मक्कार छूट जाएं लेकिन किसी..बेगुनाह को सजा ना होने पाए..दोस्तों बिहार में जनअधिकार पार्टी के अध्यक्ष पप्पू यादव को गिरफ्तार कर लिया गया...कहा गया तुम लॉकडाउन में बहुत उछलकूद कर रहे थे..कोविड नियमों का उल्लंघन कर रहे थे..इसलिए यू आर अंडर अरेस्ट..अपने आपको कानून के हवाले कर दो..दोस्तों इसी देश में भरे कोरोना के बीच नेताओं ने इसी बिहार और बंगाल में रैलियों का वो खौफनाक खेल खेला..जिसने देश को बर्बाद कर दिया..क्या तब किसी को कोविड नियमों के उल्लंघन पर गिरफ्तार किया गया..जवाब है नहीं देश का कानून तो अंधा है..सरकारें कानून की देवी की आंख में बंधी पट्टी अपने हिसाब से हटाती लगाती हैं..जब कोरोना से त्राहि त्राहि मची है..बिहार के नेता पप्पू यादव लोगों की मदद कर रहे थे.. उनको गिरफ्तार कर लिया गया..

            

दोस्तों पप्पू यादव को नीतीश कुमार की सरकार ने गिरफ्तार क्यों किया इसको समझने के लिए आपको 7 मई की शाम में चलना पड़ेगा जब पप्पू यादव ने छपरा में BJP सांसद राजीव प्रताप रूडी के गांव में 25 से ज्यादा एंबुलेंस छिपाकर रखने के मामले का खुलासा किया था..पप्पू यादव ने बीजेपी सांसद की करनी दुनिया के सामने उजागर करके कहा था कि..बीजेपी के पूर्व केंद्रीय मंत्री राष्ट्रीय प्रवक्ता राजीव प्रताप रूडी जी के अमनौर कार्यालय परिसर में दर्जनों एम्बुलेंस सांसद विकास निधि से खरीदी गयीं..किसके निर्देश पर यहां छिपाकर रखा गया है, इसकी जांच हो… जब मरीज एंबुलेंस ना मिलने से परेशान हैं तड़प रहे हैं तब बीजेपी सांसद ने 25 से ज्यादा सरकारी एंबुलेंस छिपाकर ढक रखी हैं..

जानकार कह रहे हैं कि पप्पू यादव की गिरफ्तारी के पीछे असली दर्द ये है कि पप्पू यादव ने बीजेपी नेता का एंबुलेंस कांड खोल दिया था..एबुलेंस वाले मामले के बाद कहा गया कि ये एंबुलेंस इसलिए खड़ी हैं..क्योंकि इनको चलाने वाला कोई नहीं है.. स्टाफ नहीं है..दोस्तो जिस देश में 10 हजार की नौकरी के लिए 10-10 लाख फार्म भरे जाते हैं उस देश में एंबुलेंस के लिए स्टाफ ना मिल रहा हो..इससे बड़ा झूठ सदी में आजतक नहीं बोला गया है..हालांकि देश को झूठ की आदत है..जो सरकार कहती है वही सही माना जाता है..सरकार ने कहा है कि पप्पू यादव ने कोविड निमयों का उल्लंघन किया है तो आप मानिए कि ऐसा ही है..बीजेपी नेता एंबुलेंस ढककर रखे या कबाड़ में बेचे क्या फर्क पड़ता है..

-----

अस्पताल में बेड नहीं है..नदियों ने लाशें तैर रही हैं..श्मसान में लाशों का अंबार है..कोरोना का टीका अस्पतालों से गायब है..रेमडीसिविर नहीं है..ऑक्सीजन नहीं है..सरकारें सो रही हैं..कोरोना काल में तमाम समाजसेवी सेवा में जुटे हैं..बीजेपी तक के नेता कांग्रेस नेता.. सरकार को छोड़कर श्रीनिवास जैसे समाजसेवी कांग्रेस नेताओं से मदद मांग रहे हैं..पप्पू यादव जैसे नेता अस्पताल अस्पताल जाकर लोगों की मदद कर रहे हैं..लेकिन सावधान अगर सरकार आपसे इंसिक्योर हुई तो..जिस समाजसेवा को आप खेल समझ रहे हैं..वो आपको जेल ले जाएगी..बिहार में पप्पू यादव की गिरफ्तारी ये संदेश देती है कि समाजसेवा करनी है तो अघा के करो…लेकिन बीजेपी नेता पाप पुण्य कुछ भी करें उसको मत टोको उनको टोकोगे तो कोरोना का ट्रीटमेंट छोड़कर सरकार आपके ट्रीटमेंट में लग जाएगी…चलते हैं राम राम दुआ सलाम जय हिंद…

-----

DISCLAMER- लेख में प्रस्तुत तथ्य/विचार लेखक के अपने हैं. किसी तथ्य के लिए ULTA CHASMA UC उत्तरदायी नहीं है. लेखक एक रिपोर्टर हैं. लेख में अपने समाजिक अनुभव से सीखे गए व्यहवार और लोक भाषा का इस्तेमाल किया है. लेखक का मक्सद किसी व्यक्ति समाज धर्म या सरकार की धवि को धूमिल करना नहीं है. लेख के माध्यम से समाज में सुधार और पारदर्शिता लाना है.

2 thoughts on “BJP नेता पाप पुण्य कुछ भी करे उसको मत टोको : संपादकीय व्यंग्य

  • May 12, 2021 at 7:38 pm
    Permalink

    प्रज्ञा जी बहुत ही इमानदार एवं निर्भिक पत्रकार

    Reply
  • May 13, 2021 at 3:36 am
    Permalink

    प्रज्ञा जी आपकी पत्रकारिता की जितनी तारीफ करें कम है, आपका बेधड़क अंदाज व दमदार तरीके से तथ्यों को रखना, निडर पत्रकारिता देखते बनती है
    हम आशा करते हैं आपका ये अंदाज बना रहेगा
    तथ्यों के साथ हमें एक जानकारी समय समय पर देती रहेंगी
    धन्यवाद

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *