बीजेपी पर तंज कसते हुए ‘अखिलेश’ को ही ‘नौसिखिया मुख्यमंत्री’ कह गईं मायावती, देखें-

लोकसभा चुनाव के छठे चरण का मतदान होने वाला है. और यूपी में 80 सीटों पर जीत दर्ज करने के लिए अखिलेश यादव और मायावती एक दिन में तीन से चार रैली कर रहे हैं. और बीजेपी सरकार की नाकामयाबी को जनता के सामने रख रहे हैं.

bsp president mayawati and sp president akhilesh yadav rally in bhadohi
bsp president mayawati and sp president akhilesh yadav rally in bhadohi

सपा सुप्रीमो मायावती और सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव मंगलवार को पूर्वांचल के जौनपुर और भदोही में रैलियों को सम्बोधित करने पहुंचे. यहाँ अखिलेश यादव और मायावती ने संयुक्त जनसभा की. लेकिन बातों ही बातों में मायावती अखिलेश को नौसिखिया मुख्यमंत्री कह गईं.

-----

माया ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश के प्रशासनिक अनुभव पर सवाल खड़े कर दिए उन्होंने कहा कि खिलेश पहली बार मुख्यमंत्री बने थे और ब्यूरोक्रेसी की चाल को समझ नहीं पाए. आप जानते ही हैं कि ब्यूरोक्रेसी मुख्यमंत्री को कैसे नचाती है.

अखिलेश यादव ने मुख्यमंत्री रहते यहाँ के जिले के नाम के आगे से संत रविदास नगर शब्द हटा दिया था. इसको लेकर बीजेपी भी सपा पर तंज कसती है. उसी का जवाब देते हुए माया ने अखिलेश का नाम तो नहीं लिया मगर बीजेपी पर गुस्सा निकाल दिया. उन्होंने कहा कि अब तो केंद्र और प्रदेश दोनों में आप ही की सरकार है. तो आपने ही जिले का नाम फिर से बदल कर संत का सम्मान कर दिया होता.

माया ने कहा कि सरकार बनी तो जिले का नाम फिर से संत रविदास नगर किया जाएगा और जिन जिलों के नाम बदले गए हैं, उनके नाम भी पहले जैसे किए जाएंगे.

ये बात तो सही है की सपा-बसपा का गठबंधन होने के बाद मायावती ही अपने आप को सबसे बड़ा समझती हैं. और अखिलेश खुलकर सामने नहीं आ पा रहे हैं. पीएम के दावेदारी में भी माया अपना नाम खुले तौर पर सामने रख रही हैं. जबकि अखिलेश कहते हैं की वे मायावती से मश्वरा लेकर ही कुछ कहेंगे. एक बात और भी है की माया अखिलेश से एक सीट ज्यादा पर चुनाव लड़ रही हैं.