चुपके से बीजेपी में शामिल हुए ‘माफिया डॉन’ राजन तिवारी, ये हैं इनके संगीन अपराध

अगर आप कोई भी बड़ा क्राइम किये हैं तो आप किसी भी बड़ी पार्टी में शामिल हो जाइये. इससे आपके जितने भी पाप होंगे सब माफ़ हो जायेंगे और आप जैसे गंगा नहा लेंगे. हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्युकी देश की राजनीति में यही चल रहा है.

bihar mafia don rajan tiwari joined bharatiya janata party
bihar mafia don rajan tiwari joined bharatiya janata party

बिहार के जाने माने माफिया डॉन राजन तिवारी शुक्रवार को भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गए. और वे अपने सभी कर्मों से पवित्र हो गए है. राजन तिवारी पहले राजद के साथ थे. फिर उन्हें उपेंद्र कुशवाहा का साथ मिला. इसके बाद वो बसपा के साथ हो लिए. और अब फाइनली भाजपा में शामिल हो गए हैं. दिलचस्प ये है कि पार्टी को भी ऐसे ही दमदार गुंडे ही चाहिए ताकि वे अपनी धौंस चला सकें.

-----

राजन तिवारी बिहार का कुख्यात माफिया है. भाजपा के वरिष्ठ नेता आशुतोष टण्डन ने लखनऊ में उन्हें पार्टी की सदस्यता ग्रहण कराई. पार्टी ज्वाइन करने के बाद राजन ने ‘फिर एक बार मोदी सरकार’ का नारा लगाया. भाई लगाएंगे ही अब बीजेपी में आकर पवित्र जो हो गए हैं. थोड़ा गुणगान तो जरुरी ही है. बतादें कि राजन अबतक दो बार विधायक रह चुके हैं. ख़बर ये भी उठ रही है कि कि राजन को चुपके से भाजपा ने सदस्यता दिलाई है.

राजन बिहार की कई बड़ी वारदातों में शामिल रहा है. कभी बिहार से लेकर यूपी तक राजन तिवारी का खौफ महसूस किया जाता था. राजन उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जिले के सोहगौरा गांव के रहने वाले हैं. राजन तिवारी के नाम हत्या, अपहरण, लूट जैसे कुल 11 केस हैं. गोरखपुर में जन्में राजन तिवारी सबसे पहले 90 के दशक में श्री प्रकाश शुक्ला के गैंग में शामिल हुए.

फिर जब यूपी पुलिस ने उनको मोस्ट वॉन्टेड घोषित किया तो वे बिहार चले गए, वहां नई गैंग बनाई बाहुबली बने और फिर विधायक. अब कहा जा रहा है कि तिवारी के बीजेपी में शामिल होने से पार्टी को पूर्वांचल में फायदा मिल सकता है.