‘अच्छे भविष्‍य’ की चाह में निकले थे विदेश, ‘भूमध्‍य सागर’ में पलट गई सबकी ज़िंदगी, 170 लापता

एक अच्छी जिन्दगी की चाह में कई लोग दूसरे देश में जाते हैं. ताकि अपना उज्वल भविष्य बना सकें. मगर उनको ये नहीं पता होता है कि रास्ते में ही मौत उनका इंतज़ार कर रही है. हर साल की तरह इस बार भी कुछ ऐसा ही हुआ.

170 migrants missing in two mediterranean incidents Morocco and Libya
170 migrants missing in two mediterranean incidents Morocco and Libya

भूमध्य सागर ने एक बार फिर से दूसरे देश जाने वाले लोगों को अपने आगोश में ले लिया है. पहला हादसा शुक्रवार को लीबिया के नागरिकों से भरी नौका के साथ हुआ और अगले ही दिन शनिवार को दूसरा हादसा मोरक्को की नौका के साथ हो गया. इन दो अलग अलग हादसों में करीब 170 लोग लापता हो गए हैं. ये दोनों नौकाएं मोरक्को और लीबिया की थीं. ये दोनों नौकाएं इटली जा रहीं थीं.

इन हादसों की जानकारी जैसे ही इटली को मिली तुरंत इटली की नौसेना के हेलीकॉप्टर हादसे की जगह पर पहुंचे. मगर तब तक सब कुछ तहस-नहस हो चुका था. इटली की नौसेना ने लीबिया की नौका पर सवार सिर्फ तीन लोगों को ही सुरक्षित बचा पाई. और तीन के शव भी समुद्र से निकाले. बाकियों का कुछ पता नहीं चल सका. इसी तरह मोरक्को की नौका पश्चिमी भूमध्य सागर में डूबी. इस हादसे में करीब 47 लोगों को जिंदा भी बचा लिया गया. इटली ने इन दोनों हादसों की जानकारी मोरक्को और लीबिया को दी. जिसके बाद वहां से एक मर्चेंट शिप समुद्र के घटना स्थल पर पहुंची.

हादसे के करीब ग्यारह घंटों तक ठंडे पानी में रहने के बाद धीरे धीरे लोगों की सांसे थमने लगीं. और देखते ही देखते भूमध्य सागर ने एक-एक करके सबको लील लिया. लापता हुए लोगों में दस महिलाएं, दो बच्चे और एक दो माह का नवजात भी शामिल है. इटली की सेना द्वारा बचाए गए तीनों लोगों को हाइपोथर्मिया की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है. ये तीनों लोग लीबिया के बताये जा रहे हैं.

आपको बता दें कि इस वर्ष के शुरूआती दो सप्ताह में करीब 4449 लोग समुद्र के रास्ते इटली पहुंचे हैं. पिछले वर्ष इनकी संख्या करीब तीन हजार थी. पिछले वर्ष करीब 2300 लोगों की मौत हुई थी-

  • जनवरी 2018 में लीबिया तट के पास भूमध्य सागर में एक अस्थायी नौका के डूबने से 90 से 100 प्रवासी लापता हो गए थे. इस नौका में 150 से अधिक लोग सवार थे.
  • फरवरी 2017 में लीबिया की राजधानी से लगे भूमध्य सागर के पश्चिमी तट पर करीब 74 प्रवासियों के शव बरामद किए गए.
  • मार्च 2017 में लीबिया के पास भूमध्य सागर में दो नौकाओं के डूबने से करीब 250 लोगों की मौत हो गई थी.
  • जून 2016 में भूमध्य सागर यूनानी द्वीप क्री के निकट एक नौका पलट गई थी. जिस पर 700 से अधिक लोग सवार थे. जिसमें करीब 300 लोग ही जीवित बच पाये थे.
  • मई 2016 में लीबिया के जुवारा से 35 समुद्री मील की दूरी पर एक शरणार्थी नौका के पलटने से 20 से 30 लोगों की मौत हो गई थी.
  • नवंबर 2016 में नौका के पलटने से करीब 240 लोगों की जान चली गई थी. ये सभी खुशहाल जिंदगी की चाह में लीबिया से निकले थे.
  • अप्रैल 2015 में लीबिया के उत्तरी भाग में नौका के डूब जाने से कम से कम 50 लोगों की मौत हो गई थी. जिसमें करीब 700 प्रवासी सवार थे.

team ultachasmauc

We are team pragya mishra..we are team ulta chasma uc..we are known for telling true news in an entertaining manner..we do public reporting..pragya mishra ji is public reporter..