ठंड को देखते हुए योगी सरकार ने बढ़ाया शराब पीने का समय, अब इतने बजे तक जी भर के पियें

Ulta Chasma Uc  :  शराब पीने वालों के लिए योगी सरकार ने नया फ़रमान ज़ारी किया है. मौसम बदल चुका है और ठण्ड भी आ गई है. अब ऐसे में ठण्ड को दूर भगाने के लिए एक पैक तो बनता ही है. लेकिन अब आप पूरे दिन में कई पैक बना कर पी सकते हैं. और अपने दोस्तों को भी पिला सकते हैं. बिना किसी के रोकटोक के.

Yogi Cabinet Meeting alcohol beer will be available from 10 am to 10 pm
Yogi Cabinet Meeting alcohol beer
बैठक में दी गई मंजूरी

बात ये है की सरकार को शराब से ही सबसे ज्यादा फ़ायदा होता है. इसी के चलते सीएम योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में सोमवार को शराब को लेकर ही कैबिनेट बैठक हुई. जिसमें वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए नई आबकारी नीति को मंजूरी दे दी गई है. सरकार ने आबकारी राजस्व वसूली के लिए 29,302 करोड़ रुपये का लक्ष्य रख दिया है. मतलब की सरकार को शराब से करोड़ों रुपये चाहिए.

सुबह 10 बजे से रात 10 बजे तक

बैठक में योगी सरकार ने यूपी में शराब बिक्री का समय भी निर्धारित कर दिया है. अब सुबह 10 बजे से रात 10 बजे तक शराब और बीयर की बिक्री होगी. मतलब पूरे 12 घंटे आपके लिए शराब की दुकाने खुली रहेंगी. पुलिस भी इसमें दखल नहीं देगी. आप आराम से शराब खरीदें और पियें.

दामों में नहीं होगी बढ़ोतरी

इस आदेश में एक ख़ास बात और है की फुटकर दुकानों का समय दो घंटे और बढ़ाया गया है. मतलब जो गली-कूचों में शराब की दुकानें हैं वो 14 घंटे खुली रहेंगी. अब सुबह हो या शाम बस शराब ही शराब. एक बात और की शराब और बीयर के दामों में बढ़ोतरी भी नहीं की जाएगी. इसका भी फैसला बैठक में हुआ.

पीओएस मशीनों के जरिए होगी बिक्री

दूसरे राज्यों की तरह अब यूपी में भी माइक्रो ब्रेवरीज खोलने को मंजूरी दे दी गई है. सभी दुकानों में बिक्री अब पीओएस (प्वाइंट ऑफ सेल) मशीनों के जरिए ही होगी. इसके साथ ही अब महज 2% नई मॉडल शॉप खोली जा सकेंगी. ज्यादा नई दुकाने खोलने के लिए शासन से अनुमति लेनी होगी.

दुकानों के लिए रखा टारगेट

सरकार ने सभी दुकानों को एक टारगेट दिया था. शर्त थी की जो भी इस टारगेट को पूरा करेगा उसकी दुकान अगले साल के लिए रिनीवल कर दी जाएगी. 2018-19 की आबकारी नीति में कहा गया था की देसी शराब का जो दुकानदार तय लक्ष्य से 6% ज्यादा बिक्री कर लेगा उसकी दुकान अगले साल के लिए रिन्यू कर दी जाएगी. और अंग्रेजी शराब की दुकानों का रिनीवल तब होगा जब वो 40% ज्यादा बिक्री करेंगी.

आबकारी कल्पना अवस्थी ने बताया

प्रमुख सचिव आबकारी कल्पना अवस्थी ने बताया की अब तक 60 फीसदी दुकानदारों ने नवीनीकरण का लक्ष्य पूरा कर लिया है. नई नीति 2019-20 के तहत देसी शराब के दुकानदार को दो फीसदी और अंग्रेजी शराब व बीयर के दुकानदारों को 20 फीसदी अधिक की बिक्री करनी होगी.

खोलें भांग की दुकान

अगर किसी को प्रदेश में भांग की दुकान खोलनी है तो उसके ठेकों का आवंटन नीलामी से नहीं, बल्कि अब ई-लॉटरी से होगा. इस नीति में अब एक शहर में एक आवेदक को भांग की सिर्फ दो दुकानें ही खोलने को मिलेंगी.

Web Title : Yogi Cabinet Meeting alcohol beer will be available from 10 am to 10 pm

HINDI NEWS से जुड़े अपडेट और व्यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ FACEBOOK और TWITTER हैंडल के अलावा GOOGLE+ पर जुड़ें.