मंच पर आमने-सामने आये योगी और अखिलेश, जमकर एक-दूसरे पर निकाली भड़ास-

लोकसभा का चुनाव सिर पर है और सभी पार्टियां अपनी अपनी पटकथा लिखने में लगी हुई हैं. सियासी सुरमायें भी अपने नए नए हथकंडे अपना रहे हैं. तमाम दिग्गज़ नेता इस चुनावी दंगल में कूद पड़े हैं. अभी ने अपनी एड़ी-चोटी का ज़ोर लगा रखा है.

yogi aditynath and akhilesh yadav statement on lok sabha elections 2019
yogi aditynath and akhilesh yadav statement on lok sabha elections 2019

आज एक प्राइवेट टीवी चैनल पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा. सपा-बसपा के क्या क्या कारनामें हैं उनको सभी जानते हैं. आप 2014 में ही देख लीजिये तब बीएसपी की जीरो सीटें आई थीं, अब अगर जीरो से किसी को गुणा करेंगे तो जीरो ही आएगा. अमेठी भी बीजेपी जीतेगी और आजमगढ़ भी बीजेपी ही जीतेगी.

-----

पीएम मोदी की तारीफ करते हुए सीएम बोले, आज मोदी एक ब्रांड बन चुका है. पहले दुनिया में लोग हमें अच्छी नजर से नहीं देखते थे, मगर आज भारत के लोग विदेश जाते हैं तो कहाँ के लोग पूछते हैं कि अच्छा उस भारत से हो जहां मोदी प्रधानमंत्री हैं.

वहीँ प्रियंका गाँधी पर बोलते हुए कहा कि प्रियंका जी पहली बार चुनावी समर में नहीं उतरी हैं. 2017 में उन्होंने ही तो दोनों लड़कों को मिलाने का काम किया था. लेकिन यूपी की जनता होशियार और समझदार है. जनता ने दोनों लड़कों को खारिज कर दिया. कांग्रेस आज प्रदेश के अंदर कहीं है ही नहीं.

अखिलेश यादव ने भी योगी का जवाब देते हुए कहा कि, प्रदेश की जनता चाहती है कि वर्तमान सरकार यहां से जाए. इससे बेहतर गठबंधन नहीं हो सकता था इसलिए हमारी पार्टी ने यह गठबंधन किया. लोगों को खबर नहीं है, गोरखपुर की जीत के बाद नेता जी (मुलायम सिंह यादव) ने सबसे पहले बधाई मायावती जी को दी थी.

अखिलेश ने कहा, हमारा तो एक दो दलों का गठबंधन है, बीजेपी भी तो बताए देशभर में उनका कितनी पार्टियों के साथ गठबंधन है. अगर हमारा महामिलावट का गठबंधन है तो बीजेपी का गठबंधन कौन सा इसके लिए डिक्शनरी देखनी पड़ेगी? प्रधानमंत्री मदी के ट्विटर पर चौकीदार लिखने पर अखिलेश यादव ने कहा- अब चायवाले की पोस्ट खाली है, मैं अपने नाम के आगे चायवाला लिख लूंगा. मैं तो पहले से ही दूधवाला हूं.