23 को विधासभा में दहाड़ेंगे आजम दुनिया को बताएंगे 27 महीनों का दर्द..

जेल से बहर निकलकर लोगों से हाथ मिलाते..सबको जी भरकर देखते..कभी खुश होते कभी भावुक होते ये आजम खान है..आजम खान 26 महीने बाद जेल से जमानत पर बाहर निकले हैं..आजम खान (Azam Khan Out Of Jail) पर 89 मुकदमे हैं..धीरे धीरे करके सभी में आजमखान को बेल मिल गई है..आजमखान जब सीतापुर जेल से छूटे तो शिवपाल यादव उनके साथ थे..अब सबके जहन में एक ही सवाल है कि जेल से छूटने के बाद आजम खान का अगला मूव क्या होगा..

क्या 26 महीने जेल में बिताने के बाद आजमखान शांति से बैठ जाएंगे
क्या आजमखान और अखिलेश मिलकर आगे की रणनीति बनाएंगे
क्या आजमखान अखिलेश से दूरी बनाकर नए रास्ते पर चलेंगे
या आजम और शिवपाल मिलकर यूपी में तीसरे मोर्चा बनाएंगे

दोस्तों हमारी जानकारी के मुताबिक आजमखान तीन दिन तक रामपुर में रहेंगे..तीसरे दिन यानी 23 तारीख को लखनऊ आएंगे..क्योंकि आजमखान समाजवादी पार्टी से विधायक हैं इसलिए विधानसभा में अखिलेश यादव के खेमे में बैठेगें और विधानसभा के भीतर आजमखान ((Azam Khan Out Of Jail) जोरदार भाषण देंगे..आजम खान क्या कहेंगे क्या नहीं कहेंगे…ये तो नहीं मालूम लेकिन तीन दिन के भीतर आजमखान का अगला मूव क्या होगा वो पता चल जाएगा..सूत्र कहते हैं आजमखान अखिलेश यादव से नाराज नहीं हैं..आजमखान मुलायम सिंह यादव से नाराज हैं..

सियासत आजमखान की रगों में बहती है..हवा खिलाफ हो या साथ आजम (Azam Khan Out Of Jail) चुप बैठने वाले नेता नहीं हैं..आजम खान यूपी में गैर बीजेपी गैर कांग्रेसी और गैर समाजवादी मोर्चे के पक्ष में हैं..ये कोशिश की जा रही है कि यूपी के 20 करोड़ मुस्लिमों को एक ऐसी छतरी के नीचे लाया जाए जहां मुस्लिमों की अलग से बारगेनिंक पावर डेवलप की जाए..अगर मुस्लिमों का अपना दल होगा अपना विधायक होगा..रामपुर के बेहद करीबी सूत्र कहते हैं कि आजम खान अखिलेश यादव से नाराज नहीं हैं..लेकिन बदले हुए वक्त को देखते हुए मुस्लिमों का अपना अगल राजनीतिक पावर सेंटर तैयार करने के मूड में हैं जिससे मुस्लिमों का अपना अलग राजनीतिक महत्व विधानसभा और लोकसभा में बढ़ सके..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *