जेल से छूटकर आजम (Azam Khan) ने मचाया तहलका अपने एनकाउंटर का किया खुलासा..

जेल से छूटने के बाद आजमखान (Azam Khan) ने तहलका मचा दिया है..आजमखान ने रामपुर पहुंचकर एक से बढ़कर एक बड़े बड़े खुलासे किए..लेकिन सबसे बड़ी बात 23 तारीख को लेकर..

  • 23 तारीख को आमने सामने आएंगे योगी और आजम
  • विधानसभा में पूछूंगा मेरी गलती क्या थी
  • सरकार से पूछूंगा मुझसे नफरत की वजह

23 तारीख को विधानसभा के भीतर के पल बहुत रोमांचक होने वाले हैं..क्योंकि आजम खान वो नेता हैं जो बोलने में और सवाल करने में कभी पीछे नहीं रहने वाले हैं..आजम खान (Azam Khan) के जेल में रहने की वजह से राजनति मिर्च मसाले वाली खबरों का सूखा पड़ गया था..अब फिर से राजनीतिक सरगर्मी तेज होने वाली है..दोस्तों आजमखान सीतापुर जेल से छूटते ही रामपुर के लिए निकले..लेकिन बीच में पुलिस ने रोक लिया कहा इतना बड़ा काफिला नहीं जा सकता..

लिहाजा 5 गाड़ियों के साथ आजमखान (Azam Khan) को आगे भेजा गया..जैसे ही आजमखान रामपुर पहुंचे आजमखान का वही पुराना अवतार देखने को मिला..वही व्यंग्यात्मक शैली और वही ठोककर बात करने का लहजा..आजमखान ने बताया कि जेल में जेलर ने उनसे कहा था..कि जब जमानत पर छूटकर घर जाना तो अंडर ग्राउंड रहना..आपके ऊपर 89 मुकदमे हैं आपका इनकाउंटर हो सकता है..आजम खान की ये बात सुनकर सब सन्न रह गए..इसके आगे हर कोई आजम खान से ये जानना चाहता था कि

  • आजमखान अखिलेश यादव से अलग होंगे क्या
  • क्या आजमखान अपनी अलग पार्टी बना लेंगे
  • क्या आजम खान अखिलेश से नाराज हैं

आजमखान ने इस पर बड़ी सफाई से कहा कि मेरा ये हाल करने वाले मेरे अपने लोग ही हैं..अपने लोगों ने ही मेरा ये हाल किया है..यहां पर अपने लोगों से आजमखान (Azam Khan) का मतलब अखिलेश यादव से था या नहीं था..ये समझ में नहीं आया..लेकिन दोबार अपने लोग उन लोगों को कहा जिनको आजमखान ने जमीन की कीमत देककर यूनिवर्सिटी बनाई थी..फिर भी उन लोगों ने आजमखान पर मुकदमा दर्ज कराया..

आजमखान (Azam Khan) ने शिवपाल यादव सहित जेल में उनसे जितने लोग मिलने के लिए आए उन सब का शुक्रिया अदा किया…साथ में ये भी कहा कि जो लोग मिलने नहीं आए उनका भी शुक्रिया..साथ ही सुप्रीम कोर्ट में अपने वकील कपिल सिब्बल का दिल की गहराईयों से धन्यवाद कहा..

आजमखान (Azam Khan) ने एक चौकाने वाली बात कही..आजम ने कहा कि बीजेपी सरकार को ना जाने मुझसे किस बात की नफरत है..मुझे नहीं पता चल पा रहा है लेकिन जब जुल्म खत्म होता है तो जुल्म करने वाले का भी खत्मा हो जाता है..आजम अपने घर पहुंचकर अपने पूरे रौ में दिखाई दे रहे थे आजम खान ने कहा कि मैंने आजतक चीटी तक नहीं मारी है..

मेरी गाड़ी से आजतक कोई टकराया तक नही..लेकिन मुझे चुनाव में माफिया नंबर वन घोषित कर दिया गया..आजमखान (Azam Khan) ने कहा मैं कमजोर हो गया हूं..मेरी शक्ल से मेरी हालत का अंदाजा आपको लग सकता है..जेल में मुझे फांसी वाली जगह के बगल में रखा गया था..दिन होता था तो रात का इंतजार करता था..रात होती थी तो दिन का इंतजार करता था..सुप्रीम कोर्ट जिंदाबाद..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *