UP में 17 मई सुबह 7 बजे तक बढ़ा लॉकडाउन, जारी रहेंगी आवश्यक सेवाएं

उत्तर प्रदेश में एक बार फिर लॉकडाउन को आगे बढ़ा दिया है. अपर मुख्य सचिव सूचना नवनीत सहगल ने इसकी पुष्टि की है. लॉकडाउन 17 मई सुबह सात बजे तक के लिए बढ़ा दिया गया है.

लॉकडाउन से प्रदेश के एक्टिव केसों में 50 हजार की कमी

दरअसल पंचायत चुनावों के बाद से गांवों में संक्रमण फैलने का खतरा बहुत बढ़ गया है. कर्फ्यू हटाने पर गांवों में संक्रमण में और तेजी आ सकती है. वहीं, 14 मई को ईद का त्यौहार है. ऐसे में, कोई खतरा न लेते हुए लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला लिया गया है. वहीं अभी हफ्ते भर के लॉकडाउन से प्रदेश के एक्टिव केसों में 50 हजार से ज्यादा की कमी आई है. ऐसे में सरकार तुरंत लॉकडाउन में ढील देकर कोई जोखिम नहीं लेना चाहती है.

लॉकडाउन से कोरोना काबू में है

सरकार ने भी माना है कि लॉकडाउन के चलते कोरोना के हालात काबू में हैं. बीते छह दिन में कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या बढ़ी है तो नए केसों में भी गिरावट शुरू हो गई है. आंकड़ें देखें तो 30 अप्रैल को 3.10 लाख से ज्यादा एक्टिव केस थे. अब ये घटकर 2.54 लाख रह गए हैं.

लॉकडाउन के दौरान इन लोगों को छूट

औद्योगिक गतिविधियों को छूट दी गई है मतलब कि आप किसी कंपनी या फैक्ट्री में काम करते हैं तो आई-कार्ड दिखाकर आ-जा सकते हैं. मेडिकल और जरूरी वस्तुओं की आपूर्ति से जुड़े ट्रांसपोर्टेशन को भी छूट दी गई है. डॉक्टर, नर्स, पैरामेडिकल स्टॉफ, अस्पताल के अन्य कर्मचारी, मेडिकल दुकान और व्यवसाय से जुड़े लोगों के लिए छूट है. ई-कॉमर्स ऑपरेशंस मतलब आप ऑनलाइन पोर्टल के जरिए मिले जरूरी सामान के ऑर्डर डिलीवर कर सकते हैं.

-----

इसके आलावा मेडिकल इमरजेंसी, दूरसंचार सेवा, डाक सेवा, प्रिंट, इलेक्ट्रॉनिक, इंटरनेट मीडिया से जुड़े कर्मचारियों को ई-पास बनवाने की जरूरत नहीं है. वे अपने संस्थान का आई-कार्ड दिखाकर आ जा सकते हैं. इसके साथ ही योगी सरकार ने मॉस्क न पहनने वालों पर कड़ी कार्रवाई के निर्देश भी दिए हैं. बिना मास्क के बाहर निकलने वालों पर पहली बार एक हजार रुपये जुर्माना लिया जाएगा. दूसरी बार 10 गुना ज्यादा जुर्माना देना होगा. प्रदेश सरकार ने कोरोना प्रोटोकॉल कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *