LIVE: योगी सरकार ने पेश किया सबसे बड़ा ‘बजट’, जानिए आपको क्या मिला ?

आज उत्तर प्रदेश सरकार 2019-20 का आम बजट पेश कर रही है. योगी सरकार का ये तीसरा आम बजट है जिसको वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल पेश कर रहे हैं. वित्तमंत्री राजेश अग्रवाल ने बताया कि वर्तमान बजट का आकार 4 लाख 79 हजार 701 करोड़ 10 लाख रुपये (4,79,701,10 करोड़ रुपये) है.

uttar pradesh budget present in assembly

-----

राजेश अग्रवाल ने अपने भाषण के शुरू में पहले योगी सरकार की उपलब्धियां बताई. योगी सरकार के पूरे दो सालों के कार्यों को बताया. उसके बाद उन्होंने सरकार की घोषणाएं सुनाईं. सरकार ने सभी वर्गों को ध्यान में रखते हुए सबके लिए कुछ न कुछ दिया है. राजेश अग्रवाल ने कहा सरकार सबका साथ सबका विकास के वादे के साथ आगे बढ़ रही है. घोषणाएं करने के बाद उन्होंने वंदे मातरम् कहकर अपने भाषण को खत्म किया. इसे अब तक का सबसे बड़ा बजट कहा जा रहा है.

सरकार की उपलब्धियां
  1. सरकार ने कार्यभार संभालते ही किसानों का कर्ज माफ करने का बड़ा फैसला लिया.
  2. पिछले दो वर्ष में यूपी इन्वेस्टर्स समिट व प्रवासी भारतीय दिवस का आयोजन किया.
  3. कुंभ का आयोजन भव्य तरह से किया जा रहा है.
  4. प्रदेश की कानून-व्यवस्था में सुधार किया गया.
  5. छह लाख किसानों को क्रेडिट कार्ड दिया गया.
  6. यूरिया का दाम घटाया गया.
  7. कामधेनु योजना के तहत गोधन का संवर्द्घन किया गया.
  8. युवाओं को रोजगार देने के लिए सरकार के कई विभागों में भर्तियां की जा रही हैं.
  9. निवेश को बढ़ावा देकर विकास के द्वार खोले जा रहे हैं.
सरकार की घोषणाएं-
  1. मुख्यमंत्री आरोग्य योजना शुरू की जाएगी, इससे के लिए 111 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं.
  2. प्रादेशिक विमान सेवा के लिए 150 करोड़ दिए गए.
  3. पिछड़ा वर्ग के लिए 1516 करोड़ दिए गए.
  4. जेवर एयरपोर्ट की भूमि अधिग्रहण के लिए 800 करोड़ रुपये.
  5. आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं के लिए 1988 करोड़ रुपये.
  6. किशोरी बालिका योजना के लिए 156 करोड़ रुपये.
  7. आयुष्मान भारत के लिए 1298 करोड़ रुपये.
  8. सामान्य वर्ग के लिए 850 करोड़ रुपये.
  9. स्वच्छ ग्रामीण मिशन के लिए 58 करोड़ रुपये.
  10. स्मार्ट सिटी मिशन के लिए दो हजार करोड़ रुपये.
  11. डिफेंस कॉरिडोर की भूमि के लिए 500 करोड़ रुपये.
  12. मध्य गंगा नहर योजना के लिए 1727 करोड़ रुपये.
  13. मथुरा में डेरी के लिए 56 करोड़ रुपये.
  14. कन्या सुमंगला योजना के लिए 1200 करोड़ रुपये.
  15. बाण सागर योजना के लिए 122 करोड़ रुपये.