CM योगी ने की बड़ी कार्रवाई, 600 भ्रष्ट अधिकारियों पर गिरी गाज, 200 को किया जबरन रिटायर

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार भ्रष्टाचार के खिलाफ चेतावनी देते आ रहे हैं. मगर अब उन्होंने एक बड़ी कार्रवाई कर दी है. 600 से ज्यादा अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ सीएम योगी ने कार्रवाई की है.

up cm yogi adityanath take big action corrupt officer
up cm yogi adityanath take big action corrupt officer

योगी सरकार ने 200 से ज्यादा अधिकारियों और कर्मचारियों को जबरन रिटायर कर दिया है. और 400 से ज्यादा अधिकारियों और कर्मचारियों को बृहद दंड दिया है. इसके तहत अब इन 400 का प्रमोशन नहीं होगा, साथ ही उन्हें दूसरी जगह भेज दिया जाएगा. सीएम योगी ने ज्यादातर आईएएस और आईपीएस अफसरों पर कार्रवाई की है. इन सभी अधिकारियों की लिस्ट तैयार कर केंद्र सरकार को भेज दी गई है. अब केंद्र सरकार इस पर आखिरी फैसला लेगी.

-----

योगी सरकार के प्रवक्ता और ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने बताया कि ये पहली सरकार है जिसने 600 से ज्यादा अधिकारियों और कर्मचारियों के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोप में कार्रवाई की है.

अभी सोमवार शाम को ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानून व्यवस्था को चुस्त दुरुस्त बनाने के लिए कई पुलिस अधिकारियों के तबादले किये हैं. गाजियाबाद, आगरा, संतकबीरनगर, बाराबंकी समेत कई जिलों की कमान नए कप्तान को दे दी गई है.

इससे पहले सीएम योगी आदित्यनाथ ने महिलाओं और बालिकाओं से छेड़खानी करने और उन्हें परेशान करने वालों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करने के आदेश दिए थे. उन्होंने कहा है कि प्रत्येक रेंज से नाबालिग बच्चियों के साथ हुए जघन्य अपराधों के 10-10 मामले चिन्हित कर, फास्ट ट्रैक अदालतों में मुकदमा चलाकर अपराधियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाए.

सीएम योगी ने पुलिस अधीक्षकों को भी निर्देश दिए थे कि किसी भी पुलिसकर्मी के खिलाफ अगर अवैध वसूली की शिकायत मिलती है तो उसके खिलाफ तत्काल एफआइआर दर्ज कराएं. इसके साथ ही योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को भ्रष्टाचार पर नकेल कसने के साफ संकेत दिए थे. उन्होंने कहा है था कि जो भी अधिकारी भ्रष्टाचार में लिप्त पाया जायेगा उसकी संपत्ति जब्त कर ली जाएगी.