UP की 11 विधानसभा सीटों पर मतदान कल, EVM में बंद हो जाएगी 110 उम्मीदवारों की क़िस्मत

उत्तर प्रदेश की 11 विधानसभा सीटों पर होने वाले उपचुनाव के लिए प्रचार-प्रसार शनिवार शाम 6 बजे से थम चुका है. अब कल यानी 21 अक्टूबर को इन सीटों पर वोट डाले जाएंगे.

up by poll election 2019 campaign stop
up by poll election 2019 campaign stop

उत्तर प्रदेश की जिन 11 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव हो रहा है उनमें गंगोह, रामपुर, इगलास :सुरक्षित:, लखनऊ कैण्ट, गोविन्दनगर, मानिकपुर, प्रतापगढ, जैदपुर:सु:, जलालपुर, बलहा:एससी: और घोसी शामिल हैं. इन सभी सीटों पर अलग-अलग पार्टियों से कुल 110 उम्मीदवार मैदान में हैं. और सबसे ज्यादा 13 प्रत्याशी लखनऊ कैण्ट और जलालपुर सीटों पर हैं. घोसी में 12, गंगोह, प्रतापगढ़ और बलहा में 11-11 प्रत्याशी, गोविन्दनगर और मानिकपुर में 9-9, रामपुर, इगलास और जैदपुर में 7-7 प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं. इन सभी के भाग्य का फैसला सोमवार की शाम को ईवीएम में कैद हो जाएगा और फिर 24 अक्टूबर को परिणाम की घोषणा होगी.

-----

इस बार भाजपा, बसपा, सपा और कांग्रेस ने सभी सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारे हैं. ऐसे में मुकाबले बड़े ही रोमांचक होंगे. गोरखपुर, फूलपुर, कैराना और नूरपुर उपचुनाव में पराजय का स्वाद चख चुकी भाजपा एक बार फिर विधानसभा उप चुनाव की कसौटी पर है. वहीं आखिरी दौर में विपक्ष ने भी घेराबंदी की है. पुरानी हार से सबक लेकर भाजपा फूंक-फूंक कर कदम रख रही है. सपा और कांग्रेस भी अपनी-अपनी ताकत लगा रही हैं.

वहीं विपक्ष दल कुछ सीटों के परिणाम में उलटफेर होने की उम्मीद भी लागाए हुए हैं. क्युकी 9 सीटें पहले से बीजेपी के पास हैं. रामपुर और जलालपुर सीटें एसपी और बीएसपी के पास थीं. और रामपुर सपा के लिए ‘नाक की सीट है’ और इसके लिए अखिलेश यादव भी पूरा जोर लगाए हुए हैं. इसके अलावा इगलाश, घोसी और गंगोह पर विपक्षी दल अपना दावा कर रहे हैं.

बतादें कि बीजेपी उम्मीदवारों के समर्थन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, महामंत्री संगठन सुनील बंसल और प्रदेश सरकार के मंत्रियों ने कई चुनावी सभाएं और बैठकें की हैं. वहीं कांग्रेस के लिए प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू और सपा के लिए प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल सहित कई नेताओं ने भी प्रचार किया है.

अब देखना ये है की कल जनता किसको अपना बहुमूल्य वोट देकर विजय करती है. और किसको हार का सामना करना पड़ेगा