अडानी के पोर्ट से तालिबानी (Taliban) ड्रग्स पकड़ी गई : संपादकीय व्यंग्य

PRAGYA KA PANNA
PRAGYA KA PANNA

दोस्तों अफगानिस्तान पर कब्जा तालिबानियों (Taliban) ने किया..भक्त मंडली कीर्तन हिंदुस्तान में करने लगी..नहीं सही बात करने जा रही हूं..वीडियो स्किप मत करना वैसे भी मैं कभी इल्लॉजिकल बात करने नहीं आती हूं..क्योंकि फालतू का समय ना तो मेरे पास है और ना ही आपके पास…दोस्तों भक्त मंडली ने कहना शुरू किया कि देखा अगर हमने शेर नहीं पाला होता तो हिंदुस्तान भी आफगानिस्तान बन जाता..

हमारा शेर गुर्राता है और तालिबान थर्राता है..मुस्लिम लोगों के मुंह में माईक ठूसे जाने लगे बताओ तुम तालिबान के बारे में क्या सोचते हो..बताओ तुम्हारे विचार क्या हैं..भारत के मुसलमानों को तालिबान से क्या फायदा या नुकसान हुआ या होगा ये मुझे नहीं मालूम लेकिन शेर के पाले हुए शेर यानी आदरणीय अडानी के पोर्ट से 9 हजार करोड़ रूपए की तालिबानी हेरोइन पकड़ी गई है..कितने की फिर से सुनो 9 हजार करोड़ रूपए की ड्रग्स पकड़ी गई है..और ये ड्रग्स आई है अफगानिस्तान से..हां तालिबानियों के अफगानिस्तान से..

दोस्तों बताईये एक तरफ अफगानिस्तान और तालिबान (Taliban) को लेकर भक्त मंडली आफत काटे हुए थी दूसरी तरफ 3 हजार किलो तालिबानी ड्रग्स फूफा जी के पोर्ट पर उतर रही है..ऐसा तो हो नहीं सकता कि अफगानिस्ता से चलकर कोई जहाज आ रहा है..किसी को कुछ मालूम ना हो..किसी की कोई नजर ही ना पड़ी हो..इस समय अफगानिस्तान से आने वाली चीटी को भी नंगा करके जांचा जा रहा है

तो फिर पानी के जहाज पर लदा हुआ इतना बडा कंटेनर भारत की सीमा में आ गया और 3 हजार किलो हेरोईन लेकर भारत की सीमा में घुस भी गया.. है ना कमाल…घुसा तो घुसा..मोदी जी के गुजरात में अडानी साबह के पोर्ट पर उतर भी गया..कैसे…क्यों…भारतीय मीडिया ये खबर पुदीनहरा की तरह घोलकर पी गया है..बोल नहीं रहा है केवल डकार ले रहा है..क्योंकि मुझे लगता है इस कांड के बाद अब ड्रग्स या हेरोईन हाजमा दुरुस्त करने वाला चूरन घोषित कर दिया जाएगा…मैं याद करवाऊंगी..याद कीजिए सुशांत केस में यही मीडिया वाले दिन रात 24 घंटे..ड्रग्स ड्रग्स ऐसे चिल्लाते थे..जैसे भारत पर ड्रग्स बम का हमला हो गया हो..

दीपिका चरसी है..फलानी..गंजेड़ी है..ढिमकानी..रिया हुक्केड़ी है..एक एक ग्राम ड्रग्स पर नंगा नाच करने वाले फूफा जी के पोर्ट पर उतरी 3 हजार किलो तालिबानी (Taliban) ड्रग्स पर मुंह में ताला लगाकर बैठे हैं..अब आगे आने वाली नस्लों को नहीं बचाना है क्या..या ड्रग्स लीगल हो हई है..क्यों भईया कुछ दिन पहले ड्र्ग्स के लिए कैमरा लेकर बंबई में लोगों के घरों में घुसे जा रहे थे..

तालिबानी (Taliban) सबको मारे पीटे दे रहे थे..लोग जहाज से लटक लटककर भी तालिबान से नहीं भाग पा रहे थे..लेकिन 9 हजार करोड़ रूपए की ड्रग्स तालिबान से खिसकते हुए गुजरात आ गई..नहीं नहीं 3 हजार किलो हेरोईन में पहिए थोड़ी लगे थे..ना ही इसलिए आ गई होगी क्योंकि अफगानिस्तान में पेट्रोल सस्ता है..इसलिए वो सोच रही होगी कि सस्ते तेल और खाली समय का लाभ उठाकर भारत देश के गुजरात राज्य में अडानी जी के पोर्ट पर छुट्टी मना लिया जाए..गुजरात के कच्छ के मुंद्रा पोर्ट पर इतनी बड़ी मात्रा में ड्रग्स की स्मगलरिंग इतिहास में पहली बार हुई है..2 कंटेनर्स से करीब 3000 किलो हेरोइन जब्त की गई है ये हेरोईन अफगानिस्तान से इम्पोर्ट कर लाई गई थी…कोई पूछ रहा था तो बता रहे थे..टेल्कम पाउडर लाए हैं..

तालिबानी ससुरे अफगानिस्तान में पाउडर लगाते नहीं हैं..वो बहुत गंधईले हैं..इसलिए पाउडर भारत ले आए हैं..अजि अफगानिस्तान में आदमी तो आदमी खुशबू भी नहीं रहना चाहती..इसीलिए भारत ले आए हैं..और जब चेक किया गया तो पाउडर की आड़ में ड्रग्स निकली..2 लोग भी पकड़े गए हैं..मामला देश के बड़े मामा के पोर्ट का है..अडानी जी के पोर्ट पर युवाओं को बर्बाद करने वाला जहर पकड़ा गया है तो गोदी मीडिया ने मुंह पर टेप मार लिया है..हो सकता है जब मुंह से टेप हटाएं तो ये बताएं कि दरअसल वो हेरोईन दवाई बनाने के लिए लाई गई थी..21वीं सदी में इस ड्रग्स से मानव कल्याण किया जाएगा..

जिस मुद्रा पोर्ट पर ये 9 हजार करोड़ की ड्रग्स पकड़ी गई है वो पोर्ट गौतम अडानी की कंपनी का है..इसका मालिकाना हक अडानी पोर्ट के पास है अडानी पोर्ट गौतम अडानी की कंपनी है. राजस्व खुफिया निदेशालय यानी DRI और कस्टम के ऑपरेशन में हेरोइन की बरामदगी हुई है, जिसे जब्त कर लिया गया है.. हेरोइन ले जाने वाले कंटेनर्स को आंध्र प्रदेश के विजयवाड़ा से लाया गया था..अफगानिस्ता की जिस कंपनी ने ये ड्रग्स भेजी है उस कंपनी का नाम हसन हुसैन लिमिटेड है..

दोस्तों इस ड्रग्स से भारत को उतना खतरा नहीं है जितना धर्म की अफीम से है..शायद ये बात भारत का मीडिया भी जानता है इसिलिए 9 हजार करोड़ की अफगानिस्तानी ड्रग्स पर चुप है..और तालिबानी (Taliban) उत्पात पर भारत के मुसलमानों के मुंह में माइक डालकर 24 घंटे के चैनल पर 12-12 घंटे तांडव करता है..

Disclamer- उपर्योक्त लेख लखनऊ के वरिष्ठ पत्रकार द्वारा लिखा गया है. लेख में सुचनाओं के साथ उनके निजी विचारों का भी मिश्रण है. सूचना वरिष्ठ पत्रकार के द्वारा लिखी गई है. जिसको ज्यों का त्यों प्रस्तुत किया गया है. लेक में विचार और विचारधारा लेखक की अपनी है. लेख का मक्सद किसी व्यक्ति धर्म जाति संप्रदाय या दल को ठेस पहुंचाने का नहीं है. लेख में प्रस्तुत राय और नजरिया लेखक का अपना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *