रिया चक्रवर्ती, सैमुअल और दीपेश ने कुबूला सच, नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो सफलता के करीब, पढ़ें बयान-

सुशांत सिंह राजपूत मामले में ड्रग्स का मामला सामने आने के बाद से नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) पूरी तरह से एक्शन में है. एनसीबी ने रिया चक्रवर्ती को समन जारी किया था जिसके बाद रविवार को काफी घंटे रिया से पूछताछ हुई है. एनसीबी की रिया से कल भी पूछताछ जारी रहेगी.

sushant singh case ncb cbi investigation drugs angle
sushant singh case ncb cbi investigation drugs angle

इससे पहले ड्रग्स मामले में एनसीबी रिया के भाई शोविक को गिरफ्तार भी कर चुकी है और सुशांत के हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा के घर छापेमारी के बाद उन्हें भी गिरफ्तार किया गया था और शनिवार को दोनों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है.

एनसीबी की पूछताछ में रिया चक्रवर्ती ने कुबूल किया है कि 17 मार्च को सैमुअल मिरांडा ड्रग्स लेने जैद के पास गया था, उसकी जानकारी उसे थी. न सिर्फ इसकी जानकारी थी बल्कि वो और शोविक ड्रग्स पैडलर जैद से ड्रग्स के लिए कॉर्डिनेशन कर रहे थे. रिया ने बताया कि वह अपने भाई शोविक के जरिए सुशांत के लिए ड्रग्स मंगवा रही थी.

रिया ने बताया कि उसे मालूम था कि उसका भाई शोविक सुशांत सिंह राजपूत के लिए ड्रग्स पैडलर बासित से ड्रग्स खरीदता था. वहीं बासित रिया के घर भी आता जाता था. बतादें कि एनसीबी ने रिया के भाई शोविक समेत 7 अन्य लोगों को गिरफ्तार भी की है. इसमें सैमुअल, करण, कैजान, दीपेश और जैद का नाम शामिल है. वहीं आशंका जताई जा रही है कि रिया की गिरफ्तारी भी हो सकती है.

शनिवार को शोविक और मिरांडा को कोर्ट में पेश किया गया था. शोविक चक्रवर्ती और सैमुएल मिरांडा को 9 सितंबर तक के लिए रिमांड में रखने का आदेश दिया गया है. वहीं ड्रग पैडलर कैजान इब्राहिम को जमानत पर छूट मिली है.

गिरफ्तार सैमुअल और दीपेश ने पूछताछ में एनसीबी को बताया है कि सुशांत के घर पर ड्रग पार्टी काफी आम थी. पार्टी में कई दोस्त आया करते थे. कुछ बॉलीवुड सेलेब्स भी इन पार्टी में शामिल हुआ करते थे. सैमुअल ने ये कुबूल किया कि वो 2019 से 20 तक सुशांत के लिए ड्रग्स का इंतजाम किया करता था. इस सब में सैमुअल ने रिया के भाई शोविक का अहम रोल बताया है.

सैमुअल ने ये भी कुबूला की शोविक ने उन्हें एक दोस्त सूर्यदीप का नंबर दिया था, उससे उसे करमजीत नाम के एक सप्लायर का नंबर मिला जो 2500/- रुपये में एक पैकेट ड्रग उपलब्ध कराया करता था. बतादें कि करमजीत वाटरस्टोन क्लब, प्राइम रोज अपार्टमेंट (रिया का घर) और माउंट ब्लेक अपार्टमेंट (सुशांत का घर) पर वीड डिलीवर करता था.

बड़ी बात ये है कि दीपेश सांवत ने कुबूल कर लिया है कि वो सुशांत और रिया दोनों को ड्रग सप्लाई किया करता था. जबकि रिया लगातार ये दावा करती आई हैं कि वे ड्रग्स नहीं लेती थीं. पूछताछ में एनसीबी को पता चला कि दीपेश उस सिंडिकेट का एक्टिव मेंबर था, जो हाईप्रोफाइल लोगों और सेलेब्रिटीज को ड्रग सप्लाई करता था. एनसीबी ने बताया कि दीपेश के बयान और डिजिटल एविडेंस के आधार पर यह बात एकदम पक्की हो चुकी है.

एनसीबी के डिप्टी डायरेक्टर केपीएस मल्होत्रा ने साफ़ साफ़ बताया है कि जो कोर्ट में रिमांड पेपर जमा हुआ था, वो सबूत के आधार पर था. बाकी केवल बॉलीवुड ही हमारा टारगेट नही है, जो भी ड्रग की खरीद-फरोख्त में आएगा, उस पर कार्रवाई करेंगे.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *