गठबंधन पर पहली प्राथमिकता सपा: शिवपाल यादव

उत्तर प्रदेश में जैसे-जैसे चुनाव का समय करीब आ रहा है. वैसे-वैसे अब चाचा शिवपाल भतीजे पूर्व सीएम अखिलेश यादव को लेकर नरम हो रहें हैं. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव की पार्टी 12 अक्टूबर से चुनावी प्रसार शुरू कर रही है. प्रसपा सामाजिक परिवर्तन रथ यात्रा के माध्यम से लोगो को अपनी पार्टी में जोड़ने की योजना बना रहीं है. 7 चरणों में सम्पन्न होने वाली यह रथ प्रसपा का संदेश लेकर प्रदेश के समस्त 75 जिलों का दौरा करेगी.

पूर्व मंत्री शिवपाल यादव ने कहा कि पार्टी अगर गठबंधन करती है. तो सबसे पहली प्राथमिकता सपा को दी जाएगी. लेकिन अब इंतजार की सीमा खत्म हो रही है. अगर उनके (अखिलेश यादव) द्वारा 11 अक्टूबर तक कोई जवाब नहीं आता है. तो पार्टी आगे की रणनीति बनाने के साथ-साथ दूसरे छोटे दलों पर विचार करेगी. वहीं उन्होंने कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाते हुए कहा कि प्रसपा कार्यकर्ताओं को यह विश्वास दिलाती है कि उनके सम्मान के साथ कोई समझौता नहीं किया जाएगा.

बीजेपी नहीं दे पा रही बेटियों को सुरक्षा
शिवापला सिंह यादव ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि बीजेपी सरकार बेटियों को सुरक्षा और न्याय नहीं दे पा रहीं है. जनता में सरकार के खिलाफ गुस्सा है.

ये दल शिवपाल के संपर्क में
आगले साल होने वाले चुनाव को लेकर अभी से छोटे दलों ने एक साथ आने का मन बना लिया है. इसी कड़ी में शिवपाल यादव से एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी, भीम आर्मी संस्थापक चंद्रशेखर आज़ाद, सुभासपा अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर मिल चुके हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *