न्यूज एंकर रोहित सरदाना और शूटर दादी चंद्रो तोमर का कोरोना से निधन, PM मोदी ने जताया दुःख

देश में कोरोना वायरस की दूसरी लहर दिन पर दिन खतरनाक होती जा रही है. बीते 24 घंटे में देश में 3.86 लाख से ज्यादा नए कोरोना मरीज सामने आए हैं और 3500 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई है.

सीनियर एंकर रोहित सरदाना का निधन

आजतक न्यूज चैनल के सीनियर एंकर रोहित सरदाना का कोरोना के चलते निधन हो गया. 42 साल के रोहित सरदाना ने नोएडा के एक निजी अस्पताल में आखिरी सांस ली. जैसे ही उनके निधन की खबर लोगों को मिली हर कोई स्तब्ध रह गया. बताया जा रहा है कि सुबह दिल का दौरा पड़ने की वजह से उनका निधन हो गया. चैनल के LIVE शो में रोहित के साथी एंकर्स चित्रा त्रिपाठी, अंजना ओम कश्यप और सईद अंसारी रो पड़े.

कुछ दिन पहले रोहित कोरोना वायरस से संक्रमित भी हो गए थे लेकिन बाद में उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई थी. बता दें रोहित सरदाना ने देश के बड़े मीडिया संस्थानों में काम किया और अपनी अलग पहचान बनाई थी. साथी एंकर चित्रा त्रिपाठी ने बताया कि दो दिन पहले ही रोहित ने बताया था कि वह रिकवर हो रहे हैं. जल्द ही वापस ऑफिस जॉइन करेंगे, लेकिन अचानक इस खबर ने सबको झकझोर दिया है.

-----

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जताया शोक

एंकर के निधन पर मीडिया जगत के साथ-साथ राजनीतिक, उद्योग, खेल और एंटरटेनमेंट जगत में भी शोक की लहर दौड़ पड़ी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट किया और लिखा, ‘रोहित सरदाना ने हम सभी को अकेला छोड़ दिया. ऊर्जा से भरपूर वो हमेशा से देश की प्रगति के लिए सोचते थे. एक दयालु आत्मा के रूप में उन्हें हमेशा से याद किया जाएगा.’ सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी दुःख जताते हुए लिखा कि ”वरिष्ठ पत्रकार श्री रोहित सरदाना जी का निधन अत्यंत दुःखद है। वह जनपक्षीय पत्रकारिता के अप्रतिम हस्ताक्षर थे। प्रभु श्री राम से प्रार्थना है कि वह दिवंगत आत्मा को शान्ति व शोकाकुल परिजनों को यह अथाह दुःख सहने की शक्ति प्रदान करें। ॐ शांति”

-----

शूटर दादी चंद्रो तोमर का निधन

वहीं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सुर्खियां बटोर चुकी और राष्ट्रीय स्तर पर 50 से ज्यादा पदक जीतकर कामयाबी हासिल करने वाली बागपत के जौहड़ी गांव निवासी अंतरराष्ट्रीय शूटर दादी चंद्रो तोमर का भी निधन हो गया है. कुछ दिन पहले ही उनकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आ गई थी. उन्हें सांस लेने में दिक्कत महसूस हो रही थी. वे 89 साल की थीं. मेरठ के मेडिकल कॉलेज में उनका इलाज चल रहा था.

ये भी पढ़ें-

रोहित सरदाना जी भी नहीं रहे..2 मई की काउंटिंग रोकिए वर्ना अनर्थ होगा : संपादकीय

रैलीबाज नेताओं का कोरोना कांड : संपादकीय व्यंग्य

-----