अखिलेश के साथ गठबंधन में शिवपाल (Shivpal Yadav) को कितनी सीटें मिलेंगी ? गठबंधन की बात किसके घर पर हुई ?

नमस्कार दोस्तों यूपी में 2022 चुनाव से पहले बड़ा डेवलपमेंट सामने आया है..अखिलेश यादव और शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) के बीच गठबंधन हो गया है..तस्वीर तो सबने देख ली..लेकिन ये गठबंधन हुआ कैसे..कितनी सीटों पर डिल डन हुई है..और ये मुलाकात हुई कहां..कौन किसके घर गया..जो फोटो मीडिया में घूम रही है वो खीची किसने आज भीतर की सारी बातें आपको बताने वाली हूं..

दोस्तों देखिए शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) पिछले दो दिन से पार्टी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों की मीटिंग अपने पार्टी कार्यलय पर ले रहे थे..लोगों को चुनाव लड़ने के लिए और लड़वाने के लिए ट्रेंड कर रहे थे..अखिलेश यादव थे जौनपुर में अखिलेश यादव जौनपुर से 15 तारीख की रात वापस लखनऊ आ गए..16 तारीख के दिन में शिवपाल यादव रोज की तरह पार्टी कार्यालय में थे..

तभी उनके पीए कह लीजिए करीबी कह लीजिए अंकुश ने शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) को मैसेज पहुंचाया..शिवपाल यादव मीटिंग छोड़कर अपने घर चले गए..शिवपाल के घर जाने के बाद सिक्योरिटी टाइट होने लगी..चहलकदमी बढ़नी लगी तभी अखिलेश यादव शिवपाल यादव के उस गेट पर आकर रुके जिस गेट से शिवपाल यादव के परिवार के लोगों का आना जाना होता है या फिर यूं कह लीजिए कि घर के जिस हिस्से में शिवपाल यादव का परिवार रहता है..

अखिलेश यादव के साथ उनके पीए गजेंद्र सिंह थे..अखिलेश यादव घर के भीतर गए..घर के भीतर शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) की बेटी अनुभा यावद थीं..पत्नी सरला यादव थी..और बेटे आदित्य यादव थे..अखिलेश यादव के लिए चाय बनाई गई..चाय पी गई…2022 के गठबंधन के लिए अखिलेश यादव ने अपना फार्मूला शिवपाल यादव के सामने रखा..शिवपाल यादव ने अखिलेश का फार्मूला फौरी तौर पर मान लिया है..आप मान लीजिए कि शिवपाल यादव 95 प्रतिशत तैयार हो गए हैं..अब आप पूछेंगे कि इतना बता दिया है तो फार्मूला भी बता दो..दोस्तों मेरे जो सूत्र कहते हैं उस हिसाब से शिवपाल यादव सपा में विलय कतई नहीं करेंगे..

ना ही अखिलेश ऐसा चाहते हैं..शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) के साथ अखिलेश यादव गठबंधन करेंगे..इस गठबंधन में अखिलेश यादव शिवपाल यादव को 10 के अंदर सीटें देंगे..इसमें शिवपाल यादव पूरी तरह से स्वतंत्र होंगे कि वो किसको टिकट दें..किसको लड़ाएं..दूसरी बात सरकार बनने के बाद शिवपाल यादव को बड़ा मंत्रालय दिया जाएगा..डिप्टी सीएम जैसी कोई बात नहीं हुई है..

अखिलेश यादव रथ यात्रा के 6 चरण पूरे कर चुके हैं..अगला चरण रायबरेली में है..शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) रथ यात्रा के 5 चरण पूरे कर चुके हैं..6ठा चरण लखनऊ से पीलीभीत तक का है..जल्द ही दोनों नेता एक मंच पर नजर आ सकते हैं..हालांकि अभी रथ यात्राएं अलग अलग ही घूमेंगी..टिकट डिसाइड होने के बाद शिवपाल अपने कैंडीटेड की विधानसभाओं में ज्यादा ध्यान देंगे..और वहां अखिलेश यादव की रैलियां भी लगेंगी..और सपा के क्षेत्रों में शिवपाल यादव की रैलियां भी लगेंगी..

दोस्तों ये था शिवपाल (Shivpal Yadav) और अखिलेश के गठबंधन के दौरान हुई पूरी कहानी..जब शिवपाल अखिलेश को घर के बाहर छोड़ने आए तो फोटो शिवपाल यादव की तरफ से उनके पीए अंकुश ने खीची थी..इस मुलाकात का किसी को कुछ मालूम नहीं था..अंकुश…गजेंद्र सिंह..शिवपाल यादव..और अखिलेश यादव को ही इस मुलाकात की जानकारी थी..मिडिया और किसी दूसरे नेता को शिवपाल यादव और अखिलेश यादव की मुलाकात और गठबंधन के मामले की भनक तक नहीं थी..दोस्तों यूपी की राजनीति से जुड़ी बातें मैं समय समय पर आकार आपको बताती रहूंगी..ग्राउंड पर तो आप मुझे देखते ही हैं.

Disclamer- उपर्योक्त लेख लखनऊ के वरिष्ठ पत्रकार द्वारा लिखा गया है. लेख में सुचनाओं के साथ उनके निजी विचारों का भी मिश्रण है. सूचना वरिष्ठ पत्रकार के द्वारा लिखी गई है. जिसको ज्यों का त्यों प्रस्तुत किया गया है. लेक में विचार और विचारधारा लेखक की अपनी है. लेख का मक्सद किसी व्यक्ति धर्म जाति संप्रदाय या दल को ठेस पहुंचाने का नहीं है. लेख में प्रस्तुत राय और नजरिया लेखक का अपना है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *