शिवपाल ने लगाई संगम में डुबकी, कहा- मंदिर निर्माण में जल्दी है तो…

आये दिन संगम नगरी प्रयागराज के कुंभ में दिग्गज नेता आस्था की डुबकी लगाने पहुँच रहे हैं. बृहस्पतिवार को प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल यादव ने कुंभ मेला में पहुंचकर संगम में डुबकी लगाई.

shivpal singh yadav get holy dip in sangam prayagraj
फोटो सौ:- @shivpalsinghyadav

स्वामी कैलाशानंद के शिविर में पहुंचे शिवपाल ने कहा कि गंगा करोड़ों लोगों की आस्था का केंद्र है. इसलिए हम भी अर्धकुंभ में डुबकी लगाने आए हैं. और देश प्रदेश वासियों के सुख-समृद्धि की कामना करते हुए पूजन भी कराया है. फिर राम मंदिर निर्माण पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि मामला कोर्ट में चल रहा है, ऐसे में जल्दबाजी नहीं करना चाहिए कोर्ट के निर्णय का इंतजार करना चाहिए. हम चाहते हैं की कोर्ट के फैसले से राम मंदिर बने. अगर जल्दी है तो सरयू किनारे खाली जमीन पर काम शुरू कराएं हम भी सहयोग करेंगे.

-----

शिवपाल से पहले समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी कुंभ पहुंच कर संगम में आस्था की डुबकी लगाई थी. और बीजेपी पर तंज कसा था. संगम में स्नान करके अखिलेश ने अपनी हिंदूवादी छवि को दिखाया है और ये भी बता दिया की हिंदुत्व सिर्फ बीजेपी का एजेंडा नहीं है समाजवादी पार्टी भी उनके साथ है.

29 जनवरी को सीएम योगी ने कैबिनेट बैठक भी कुंभ में की थी. पहली बार लखनऊ से बाहर कैबिनेट बैठक की गई थी. मीटिंग से पहले योगी के साथ सभी मंत्रियों ने संगम में डुबकी लगाई थी. मगर योगी के कुंभ में डुबकी लगाने पर खूब राजनीति भी हुई थी. और कैबिनेट बैठक के बाद पूरी कैबिनेट ने ‘उरी’ फिल्म भी देखी.

अब चर्चा ये है की कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी और उनकी बहन प्रियंका भी कुंभ में स्नान करने आ सकते है. वहीं कुंभ में चल रही विहिप की दूसरे दिन की धर्म संसद में संतों ने पीएम मोदी पर भरोसा जताते हुए लोकसभा चुनाव तक राम मंदिर निर्माण को लेकर आंदोलन स्थगित करने की बात कही है. धर्म संसद में कहा गया कि केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में अर्जी देकर देकर अपनी प्रतिबद्धता जाहिर कर दी है. संतों को मोदी सरकार पर पूरा भरोसा है.