प्रियंका और शिवपाल के बीच गठबंधन तय, फ़ोन पर हुई बात, इस दिन करेंगे ऐलान

आगामी लोकसभा चुनाव को देखते हुए सभी पार्टियां अपने अपने फायदे के लिए गठबंधन करने में लगी हुई हैं. यूपी में सबसे पहले बठबंधन सपा-बसपा का हुआ. वही अब दूसरे बठबंधन की ख़बर सामने आ रही है.

shivpal singh yadav called priyanka gandhi loksabha election
shivpal singh yadav called priyanka gandhi loksabha election

यूपी में अब दूसरा गठबंधन कांग्रेस और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के बीच होने जा रहा है. कांग्रेस के कुछ सूत्रों के मुताबिक, प्रसपा के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव और प्रियंका गांधी वाड्रा के बीच टेलीफोन पर बातचीत हुई है. मगर प्रियंका गांधी प्रदेश में अपने कार्यक्रमों के चलते ज्यादा व्यस्त हैं. लेकिन उन्होंने 2 दिन बाद मिलने का समय दिया है. अब आशा जताई जा रही है कि जल्द ही दोनों की मुलाकात संभव हो सकती है.

कांग्रेस के प्रतिनिधि का कहना है कि कांग्रेस और प्रसपा दोनों दलों के बीच चुनावी गठबंधन करीब-करीब तय माना जा रहा है. समाजवादी पार्टी से अलग होकर शिवपाल सिंह यादव ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी का गठन किया है. और सपा के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़ने को तैयार भी हैं. मगर शिवपाल चाहते हैं कि किसी पार्टी को साथ ले लिया जाये. इसलिए उन्होंने प्रियंका को फोन लगा दिया.

कांग्रेस महासचिव की जिम्मेदारी संभालने के बाद संगठन को मजबूत करने में जुटी प्रियंका गांधी छोटे दलों के साथ गठबंधन की संभावनाओं को भी तलाश कर रही हैं. इसी बीच कल उन्होंने महान दल के साथ गठबंधन भी किया है. प्रियंका के एक दूत ने शिवपाल सिंह यादव से मुलाकात की है. शिवपाल यादव और प्रियंका के प्रतिनिधि के बीच गठबधन को लेकर वार्ता जारी है.

गठबंधन को लेकर बातचीत चल रही है या नहीं इस बात का खंडन न तो कांग्रेस की तरफ से किया गया है और न ही शिवपाल यादव की तरफ से. मतलब गठबंधन होना लगभग तय माना जा रहा है. शिवपाल पहले भी ये कह चुके हैं की कांग्रेस अगर हमसे गठबंधन करना चाहे तो हम तैयार हैं. बतादें की प्रियंका गाँधी के आने से यूपी में कांग्रेस पहले मजबूत तो होने लगी है.

अब अगर प्रियंका और शिवपाल गठबंधन करते हैं तो यूपी में सपा-बसपा को कई दिक्कतें आ सकती हैं. और सीटों पर भी इसका असर पड़ सकता है. वहीँ बीजेपी के लिए फिर इन चारों पार्टियों से भिड़ना एक चुनौती हो सकती है.