कांग्रेस में शामिल हुईं बीजेपी की सांसद ‘सावित्री बाई फूले’, कही ये बात-

बहराइच से बीजेपी सांसद रहीं सावित्री बाई फूले ने बीजेपी का साथ छोड़कर, कांग्रेस का हाथ थाम लिया है. फूले बहुत दिनों से बीजेपी में गरीब, दलितों के आरक्षण के लिए लड़ाई लड़ रहीं थीं. मगर बीजेपी ने उनकी एक न सुनी.

savitri bai phule joined congress
savitri bai phule joined congress

बहराइच से बीजेपी सांसद रहीं सावित्री बाई फूले ने 6 दिसंबर 2018 को ही पार्टी से इस्तीफा दे दिया था. इस्तीफ़े के साथ ही उन्होंने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा था कि पार्टी समाज में विभाजन पैदा कर रही है. जाति-धर्म के नाम पर लोगों को बांट रही है. बीजेपी दलित, पिछड़ा व मुस्लिम विरोधी है और आरक्षण खत्म करने की साजिश रच रही है. सावित्री बाई पहले भी कई बार दलितों का नाम लेकर योगी सरकार बरस चुकीं हैं.

-----

सावित्री बाई फूले ने दिल्ली में शनिवार को कांग्रेस पार्टी ज्वाइन कर ली है. इस दौरान उनके साथ पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी, उत्तर प्रदेश पूर्वी क्षेत्र की सचिव प्रियंका गांधी व उत्तर प्रदेश पश्चिम क्षेत्र के सचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया मौजूद थे. पार्टी ज्वाइन करने के बाद फुले ने कहा, ‘बीजेपी की दलित विरोधी नीतियों के चलते देश के पिछड़ों, दलितों और मुस्लिमों ने बीजेपी को सत्ता से हटाने का फैसला किया है. बीजेपी को सिर्फ कांग्रेस ही रोक सकती है, इसलिए हम कांग्रेस का साथ देंगे और बीजेपी को रोकेंगे.

इससे पहले सावित्री बाई फूले के सपा में जाने की अटकले थीं. सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव से फूले मिलीं भी थीं. सावित्री को लगता था की बीजेपी ने उन्हें अनदेखा कर दिया शायद अखिलेश कुछ साथ दे दें. इसी बात को लेकर वो अखिलेश के पास मिलने पहुंची थी. अखिलेश यादव से मिलकर सावित्री ने प्रदेश के हालात पर चर्चा की. सावित्री ने बीजेपी सरकार के दलित व पिछड़ा विरोधी कदमों की जानकारी दी. इसके साथ ही उन्होंने बहराइच लोकसभा सीट को लेकर भी चर्चा की. फुले का मन है की इसी सीट से वे चुनाव लड़ें.

पर लगता है अखिलेश से भी सावित्री बाई फूले की बात नहीं बन पाई जिसके बाद उन्होंने कांग्रेस को चुन लिया और उसमें शामिल हो गईं.