जनसंख्या नीति बनाए सरकार, फिर उसे लागू करें, इसके लिए हम देशभर में आंदोलन करेंगे: भागवत

देश में CAA, NRC और NPR के बाद क्या अब जनसंख्या नियंत्रण कानून आने वाला है ? राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने इसको लेकर एक बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि संघ जनसंख्या नियंत्रण को लेकर पूरे देश में आंदोलन करेगा.

rss chief mohan bhagwat said government take steps to control population
rss chief mohan bhagwat said government take steps to control population

मोहन भागवत ने कहा कि संघ का अगला एजेंडा जनसंख्या नियंत्रण कानून को लेकर देशभर में आंदोलन करना है. हम हमेशा से दो बच्चों के समर्थन में रहे हैं. हालांकि, इस संबंध में अंतिम निर्णय केंद्र सरकार को लेना है. सरकार को ऐसे कदम उठाने चाहिए, जिससे जनसंख्या पर लगाम लग सके. जनसंख्या देश के लिए एक बड़ी समस्या है. लेकिन ये एक बड़ा संसाधन भी हो सकती है. सरकार देश में आम राय बनाने के बाद ही जनसंख्या नीति बनाए और फिर उसे लागू करे.

किस इंसान के कितने बच्चे होंगे यह संघ नहीं जनसंख्या नीति तय करेगी. भारत में जन्म लेने वाला हर शख्स हिन्दू है. हिन्दू किसी धर्म का नहीं, दर्शन और चिंतन का नाम है। हमें गर्व है कि हम पराक्रमी पूर्वजों की संतान हैं. हम सब हिन्दू हैं और जब-जब हम इस बात को भूले हैं तब-तब देश पर विपत्ति आई है. इसलिए सब मिलकर रहो. एक दूसरे को बर्दाश्त करना नहीं, स्वीकार करना सीखो. हिन्दू और हिन्दुत्व ने हमेशा वसुधैव कुटुम्बकम का संदेश दिया है.

भागवत ने कहा कि पिछले 70 साल में हम लोगों ने कितनी प्रगति की है ये हमें इजरायल जैसे छोटे से देश से सीखना चाहिए. जिसने न सिर्फ अपनी आजादी के लिए कई लड़ाई लड़ी बल्कि वो दुनिया के शक्तिशाली और समद्ध देशों में शामिल हुआ. आज इजरायल की दुनिया में धाक है. हमारा देश करोड़ों की जनसंख्या वाला देश बन गया है. लेकिन अभी हमें और मजबूत होने की जरूरत है.

संविधान कहता है कि हमें भावनात्मक एकजुटता लाने की कोशिश करनी चाहिए. वो भावना क्या है? भावना ये है कि ये देश हमारा है. हम अपने महान पूर्वजों के वंशज हैं. विविधता के बावजूद हमें साथ रहना है और इसे ही हम हिंदुत्व कहते हैं. रुढ़िवादियों से मुक्त जिस भारत की गांधी जी ने कल्पना की थी उस तरह के भारत के निर्माण की कल्पना करना जरूरी है.

164 total views, 1 views today

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *