उन्नाव: आपस में भिड़े ट्रक और वैन, धमाके के साथ लगी आग, 7 लोग जिंदा जले

उत्तर प्रदेश के उन्नाव में रविवार देर शाम एक बड़ा हादसा हो गया. उन्नाव हरदोई मार्ग पर बांगरमऊ कोतवाली क्षेत्र के नसिरापुर गांव के पास एक ट्रक और वेन में भिड़त हो गई.

road accident in unnao van collision with truck
road accident in unnao van collision with truck

भिड़त के बाद वेन में आग लग गई. वेन में दो युवक दे बच्चे और दो महिला कुल छह लोग सवार थे. वेन के छतिग्रस्त होने से उसके दरवाजे नहीं खुल पाये जिसकी वजह से उसमें फंसे ड्राइवर समेत सभी सात लोग जिंदा जल गए हैं. सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे दमकल कर्मियों ने करीब चालीस मिनट बाद आग पर काबू पाया. इसके बाद वेन को क्रेन से खींचकर ट्रक से अलग किया गया है.

हादसे के वक्त मोजूद पास के गांव वालों ने बताया कि ट्रक की टक्कर के बाद वेन में एक तेज धमाका हुआ फिर उसमें आग लग गई. वैन में आग की लपटें इतनी तेज थी कि कोई भी वेन के पास जाने की हिम्मत नहीं जुटा पाया.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस भीषण सड़क दुर्घटना में लोगों की मृत्यु पर गहरा शोक व्यक्त किया है. दिवंगत लोगों की आत्मा को शांति प्रदान करने की कामना की. साथ ही सीएम योगी आदित्यनाथ ने उन्नाव के जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक को तत्काल घटनास्थल पर पहुंचकर राहत-बचाव कार्य कराने के निर्देश दिए दिए हैं. और घायलों की तुरंत समुचित चिकित्सा की व्यवस्था करने के आदेश दिए हैं.

बाताया जा रहा है कि वैन का टायर फटने पर वेन बेकाबू हो गई और सामने से आ रहे ट्रक से टकरा गई. टक्कर इतनी तेज थी कि तेज धमाके के साथ वेन में आग लग गई. वहीं वन में एलपीजी सिलेंडर लगा होने से आग और तेजी से फैल गई. बेकाबू आग ट्रक में भी लग गई. लेकिन ट्रक चालक और क्लीनर उसे जलता छोड़कर वहां से भाग निकले. वैन के अन्दर से सात शव मिले हैं शवों की शिनाख्त कराने की कोशिश जारी है.

बता दें कि 10 जनवरी 2020 को कन्नोज में बस और ट्रक की भीषण टक्करके बाद दोनों में आग लग गई थी. जिसमें 2 लोगों के जिंदा जल कर मौत हो गई थी. गुरसहायगंज से जयपुर जा रही स्लीपर बस जीटी रोड पर एक ट्रक से भिड़ गई थी. ये हादसा इतना भीषण था कि टक्कर लगते ही ट्रक का डीजल टेंक फट गया और एक तेज धमाके के साथ ट्रक और बस दोनों में आग लग गई स्लीपर बस में फंसे यात्रियों को तो निकलने तक का मौका नहीं मिल सका. यात्री चीखते चिल्लाते रहे और आग में झुलस कर मर गए.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *