गणतंत्र दिवस: दुनिया ने देखी भारत की ताक़त, PM मोदी ने शुरू की नई परंपरा, देखें-

71वें गणतंत्र दिवस को पूरे देश में हर्षोल्लास के साथ मनाया जा रहा है. इस खास मौके पर दुनिया ने भारत की सैन्य ताकत का दम भी देखा. इसके साथ ही देश के कई राज्यों की झाकियां भी दिखाई गईं.

republic day parade 2020 in delhi rajpath
republic day parade 2020 in delhi rajpath

इस गणतंत्र दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 48 साल पुरानी परंपरा को तोड़ते हुए एक नई परंपरा की शुरुआत कर दी है. दरअसल, हर साल युद्धवीरों की शहादत को सलाम करने के लिए इंडिया गेट स्थित अमर जवान ज्योति जाया जाता था.

Photo: Twitter PIB_India

लेकिन इस बार पीएम मोदी वहां नहीं गए, बल्कि हाल ही में नवनिर्मित राष्ट्रीय युद्ध स्मारक जाकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी है. इस मौके पर देश के पहले सीडीएस के अलावा तीनों सेनाओं के प्रमुखों ने उनकी अगवानी की.

Photo: Twitter PIB_India

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ध्वजारोहण कर समारोह की शुरुआत की. गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री एस. जयशंकर समेत मोदी सरकार के ज्यादातर मंत्री इस मौके पर मौजूद रहे. इसके अलावा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और एच डी देवेगौड़ा, कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद भी उपस्थित थे.

पारंपरिक कुर्ता पजामा और जैकेट पहने हुए मोदी बाद में राजपथ पहुंचे और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और मुख्य अतिथि से मुलाकात की. इस मौके पर प्रधानमंत्री ने भगवा पगड़ी पहनी हुई थी. राष्ट्रीय ध्वज फहराने के दौरान बैंड ने राष्ट्रगान बजाया और 21 तोपों की सलामी दी गई.

71वें गणतंत्र दिवस के मुख्य अतिथि ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोलसरानो रहे. ये राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ राजपथ पहुंचे. बोलसरानो भारत के चार दिवसीय यात्रा पर शुक्रवार को भारत आए थे. बतादें कि पीएम मोदी ने ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोलसरानो को नवंबर में ब्राजील में 11 वें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन के दौरान आमंत्रित किया था.

Photo: Twitter PIB_India

इस ख़ास मौके पर 22 झांकियां प्रदर्शित की गई, जिनमें से 16 विभिन्न राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों की थीं और छह मंत्रालयों, विभागों और राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की थीं. इनमें जम्मू कश्मीर की झांकी ‘बैक टू विलेज’ सबसे खास रही.

Photo: Twitter PIB_India

राजपथ पर वायुसेना के सुखोई 30एमकेआई विमान ने 900 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से उड़ान भरी. पांच जगुआर विमानों ने 780 किमी प्रति घंटे की गति से राजपथ पर उड़ान भरी. नौसेना के डोर्नियर विमानों ने आकाश में शौर्य का प्रदर्शन किया. वहीं भारतीय वायुसेना में हाल ही में शामिल किए गए हेवीलिफ्ट हेलीकॉप्टर चिनूक और अटैक हेलीकॉप्टर अपाचे ने भी पहली बार फ्लाईपास्ट में हिस्सा लिया.

वहीँ इस बार गणतंत्र दिवस पर नारी शक्ति का भी एक अलग अंदाज देखने को मिला. कैप्टन तानिया शेरगिल ने राजपथ पर परेड का नेतृत्व किया. तान्‍या सैन्य बैकग्राउंड से आती हैं. सेना के सिग्नल कोर में कैप्टन तान्या पंजाब के होशियारपुर से हैं. वहीं केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) की महिला बाइकर्स ने अपने साहसिक करतब से लोगों का दिल जीत लिया. सीआरपीएफ की इन बाइकर्स को ‘महिला डेयरडेविल्स’ के नाम से जाना जाता है.

Photo: Twitter PIB_India

5,028 total views, 1 views today

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *