नरेन्द्र मोदी देश की नहीं सिर्फ अंबानी की चौकीदारी कर रहे हैं: राहुल गांधी

आगामी चुनावों को देखते हुए कांग्रेस ने भी अपनी कमर कस ली है, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी लोगों को अपने पक्ष में करने के लिए रैली को संबोधित करने में लग गए हैं. 1993 में 18 राज्यों में कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों की सरकार थी. आज ये हालत है की कांग्रेस सिर्फ 4 राज्यों में ही रह गई है. अब कांग्रेस की लाज बचाने ही राहुल गाँधी मैदान में उतरे हैं. ताकि बीजेपी और बीएसपी के असर को कम किया जा सके.

राहुल ने लगाए आरोप

राहुल गाँधी ने केंद्र सरकार के साथ ही राज्य की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर निशाना साधते हुए कहा की हमने 10 दिन के अंदर 70 हजार करोड़ रुपये किसानों का कर्ज माफ किया, वहीं बीजेपी ने साढ़े तीन लाख करोड़ रुपये भारत के 15-20 सबसे अमीर अरबपतियों का कर्जा माफ किया. बीजेपी सरकार के इस अहंकार को युवा ही तोड़ेगा. राहुल ने कहा, मैंने मोदी जी से कहा था कि आप भारत के प्रधानमंत्री हो, न की अरबपतियों के. मैंने पीएम ऑफिस में भी जाकर कहा था कि किसानों का कर्ज माफ कीजिये, जिस तरह आपने अरबपतियों का माफ किया है. इस पर मोदी जी ने कहा था की मुझे प्रधानमंत्री नहीं बनना मुझे तो चौकीदार बनना है. अब पता चला गया है कि मोदी जी सिर्फ अंबानी की चौकीदारी कर रहे हैं.

सोशल इंजीनियरिंग करेगी कांग्रेस

द ग्रैंड ओल्ड इंडियन पार्टी कांग्रेस अब महज चार राज्यों में सिमट कर रह गई है. अब चार राज्यों में चुनाव होने हैं ऐसे में कांग्रेस के पास पूरा मौका है की वो अपने राज्यों की संख्या बढ़ा सके. इसलिए राहुल गाँधी ने अपने सभाओं में सरकार पर निशाने बाजी तेज कर दी है. इस वक्त कांग्रेस पंजाब, कर्नाटक, मिजोरम और मेघालय में कांग्रेस की सरकार है. विधानसभा चुनाव में जीत के लिए कांग्रेस ‘सोशल इंजीनियरिंग’ भी करेगी। जातीय समीकरणों के साथ उम्मीदवार चुनाव मैदान में उतारने की तैयारी कर रही है।

-----