चूड़ी पहनकर बैठे MP-MLA से पूछिए जब लोग मर रहे थे तब तुम कहां अंडे दे रहे थे ? : संपादकीय व्यंग्य

यहां लाशें दफन हैं किसी को पता ना चले..यूपी के कितने लोग मर गए कोई जान ना पाए. सरकार कितनी नक्कारी साबित हुई ये कोई समझ ना पाए..इसलिए कब्रों से कफन गायब किये जा रहे हैं..सरकार को लगता है कि कब्रों पर कफन नहीं होंगे तो लाशें लखनऊ से नहीं दिखाई देंगी..कफन नहीं चमकेंगे तो दिल्ली से भी दिखाई नहीं देंगी..और जब लाशें दिखाई नहीं देंगी तो ये सबित हो जाएगा कि कोई मरा ही नहीं है. मरना तो लाशों से ही साबित होता है..और लाशें कफन से साबित होती हैं. इसलिए यूपी के कप्तान ने जिलों के आलाकमान को कफन गायब कराने के ऑर्डर दिए होंगे..

दोस्तों मरे हुए लोग भी सरकार को बदनाम कर रहे थे. सिस्टम श्मसान घाटों की निगरानी में व्यस्त था..सीएम के दौरों में गुब्बारे लगाने में व्यस्त था..तो फिर लोगों को टीका लगवाने के लिए कौन जगरूक करता..सिस्टम जिंदा लोगों की तरफ ध्यान ही नहीं दे पाया..ये सोच ही नहीं पाया कि वैक्सीन लगवाने के लिए जागरूकता कैसे फैलाई जाए..वैक्सीन के लिए जो डर लोगों में बैठा है उसे कैसे दूर किया जाए..हालत ये है कि 22 तारीख को बाराबंकी में जब डॉक्टर गांव वालों को वैक्सीन लगाने के लिए पहुंचे तो मारे डर के रामनगर के सिसौंडा गांव में लोग नदी में कूद गए..कुछ गांवों में लोगों ने वैक्सीनेशन करने गई टीमों पर हमला भी किया..हालत ये हैं कि कासगंज के पटियाली तहसील में एक बुजुर्ग वैक्सीनेशन के डरकर भागते हुए पाए गए..उनको लगता था कि वैक्सीन लगाने से वो मर जाएंगे..

दोस्तों सरकार करे ना करे..विपक्षी करें ना करें..आपके नेता सांसद विधायक करें ना करें लेकिन मैं प्रज्ञा मिश्रा..अपने लाखों दोस्तों बहनों भाईयों से कहना चाहती हूं कि वैक्सीन लगवाईये क्योंकि कोरोना से बचावा का इसके अलावा कोई उपाय नहीं है. वैक्सीन लगवाने से कोई मरता नहीं है..अगर आप हट्टे कट्टे हैं तो..एक आध दिन बुखार आ सकता इसके अलावा कोई दिक्कत नहीं है. मैंने अपने पापा और मम्मी दोनों को दोनों वैक्सीन लगवा दी है..पापा को एक दिन बुखार आया था. मम्मी का शरीर थोड़ा कमजोर था इसलिए दूसरी वैक्सीन में 4 दिन बुखार आया था. जो देखभाल के बाद ठीक हो गया. ये मैं अपने घर के अनुभव पर आपको बता रही हूं. वैक्सीन लगवाने से कोई मरता नहीं है.

-----

दोस्तों बीजेपी के सारे विधायक घरों में घुसे हुए हैं..सारे सांसद घरों में घुसे हुए हैं. वो और बात है कि वो अपने सीएम का सहयोग नहीं करना चाहते..उनका कहना है कि जब चार सीएम ने हमको नहीं पूछा तो अब सीएम और उनकी टीम ही हीरो बने हम काहे मरने जाएं..विधायक सीएम से नाराज थे इसलिए बाहर नहीं निकले इस बात से विधायकों का दोष कम नहीं होगा.. विधायक उस जनता के लिए बाहर क्यों नहीं निकले जिस जनता ने उनको चुनकर विधानसभा भेजा है..मुख्यमंत्री नहीं पूछ सकते तो कोई बात नहीं लेकिन जनता को चौराहे पर खड़े होकर पूछना चाहिए कि कै हो फलाने जब हम लोग मुसीबत में तब तुम घर में कौन सी पकौड़ी तल रहे थे.. हम तुम्हारी शकल नहीं देखना चाहते..वोट मांगने के लिए अपनी शक्ल दिखाने मत आना..

-----

और सांसदों को तो आपने वोट दिया नहीं है. लोकसभा चुनाव में आप वोट मोदी जी को देते हैं तो सांसदों से सवाल करने का आप लोगों का कोई अधिकार नहीं है..ऑक्सीजन अस्पताल श्मसान और वैक्सीन के बारे में मोदी जी से पूछिए अगर पूछ सकते हैं..लेकिन मैं गारंटी देती हूं कि आप पूछ नहीं पाएंगे..क्योंकि उधर सुनने का कनेक्शन कट है कहने का चालू है..उनसे देश का मीडिया नहीं पूछ पाता..और आपकी पहुंच तो पहले से अपने विधायक तक भी नहीं है….

यूपी की सरकार कोरोना पर कंट्रोल नहीं कर पाई चलिए कोई बात नहीं..हजारों लोग मर गए कोई बात नहीं लेकिन जो कर सकते थे वो भी नहीं कर पाए हैं..यूपी की सरकार अपने उत्तर प्रदेश के लोगों को कोरोना वैक्सीन के फायदे के बारे में भी नहीं बता पाई है. इससे जनता और सरकार के बीच की दूरी का पता चलता है.

चुनाव के समय कहते थे डबल इंजन की सरकार बनाईये कद्दू में तीर मार दिया जाएगा.. जनता ने डबल इंजन की सरकार बना दी लेकिन किसी कद्दू में कोई तीर नहीं मारा गया. सारी नाकामियों का सरकार के पास एक ही जवाब है कि विपक्ष ने भड़का दिया. विपक्ष ने सब गड़बड़ कर दिया. जब विपक्ष सब गड़बड़ करे दे रहा है और आप गाल बजा रहे हैं..विपक्ष आप पर भारी पड़ रहा है तो लोगों ने आपकी सरकार भजिया तलने के लिए नहीं बनाई है..आप विपक्ष के झूठ को अपने सच से हराईये..


    जब सरकारें बैकफुट पर होती हैं..जब सरकारों अनकंट्रोल्ड हो जाती हैं तो दोषारोपण करती हैं. कोई ना कोई ऐसा एक्सक्यूज खोजती है जिस पर अपनी नाकामी का ठीकरा फोड़ा जा सके और यूपी में वही हो रहा है. चलते हैं राम राम दुआ सलाम...वैक्सीन जरूर लगवाईये..सरकार किसी की भी हो बदल जाती है..आपकी जिंदगी 5 साल के किराए पर नहीं होती..आपको अपने शरीर की सरकार पूर्ण बहुतमत से चलानी है..नमस्कार...

दोस्तों मेरे लिखे संपादकीय व्यंग्य वाले लेख के लिए मेरी वेबसाइट Ultachasmauc.com पर..लेख पढिए और अपनी राय कमेंट में दीजिए..आपके कमेंट का जवाब एक घंटे के भीतर गारंटी के साथ देती हूं. और ट्विटर पर मुझे फॉलो करना बिल्कुल मत भूलिए.. @pragyalive नाम से ट्विटर पर खोजिए..चलते हैं राम राम दुआ सलाम जय हिंद…

सवाल – देशों से कफन हटाने का वीडियो कहां है ? Question – Where is the video of removing shroud from countries?

-----

जवाब- उत्तर प्रदेश के प्रयागराज का है Answer: Prayagraj belongs to Uttar Pradesh

सवाल- लाशों से कफन कौन हटवा रहा है ? Question- Who is removing the shroud from the dead bodies?

जवाब- पहले दिन भारत की मीडिया ने कहा सरकार हटवा रही है फिर सरकार ने खुद इंकार कर दिया. जिलाधिकारी ने जांज के आदेश दिए कि कौन हटा रहा है अब तक कुछ पता नहीं चला. Answer- On the first day, the Indian media said that the government is withdrawing, then the government itself refused. The District Magistrate gave orders to Janj that till now nothing has been known.

सवाल- वैक्सीन लगवाने से क्यों डर रहे हैं भारत के लोग ? Question- Why are the people of India afraid of getting vaccinated?

जवाब- लोगों को लगता है वैक्सीन लगवाने से उनकी मौत हो जाएगी Answer- People think they will die by getting vaccinated

सवाल- क्या वैक्सीन लगवाने से किसी की मौत हो सकती है Question- Can someone die by getting vaccinated?

जवाब- नहीं बिल्कुल नहीं वैक्सीन लगवान से किसी की मौत नहीं होती है Answer- No, no one dies from vaccination

सवाल- क्या वैक्सीन लगवाने के बाद बुखार आता है ? Question- Does fever come after getting vaccinated?

जवाब- जी हां हमारा पर्सनल एक्सपीरियंस है कि वैक्सीन लगवाने के बाद एक या दो दिन हल्का बुखार आता है लेकिन घबराने की जरूरत नहीं है Answer- Yes, our personal experience is that after applying the vaccine, one or two days of mild fever comes but there is no need to panic.

सवाल- आप कोरोना कंट्रोलिंग के मामले में यूपी की सरकार को कितने नंबर देना चाहते हैं ?
Question- How many numbers do you want to give to the Government of UP in the matter of Corona control?

जवाब- कमेंट में बताईये..Answer- Please tell in the comment ..

डिस्क्लेमर : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति Ulta Chasma Uc.Com उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार Ulta Chasma Uc.Com के नहीं हैं, तथा Ulta Chasma Uc.Com उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

63 thoughts on “चूड़ी पहनकर बैठे MP-MLA से पूछिए जब लोग मर रहे थे तब तुम कहां अंडे दे रहे थे ? : संपादकीय व्यंग्य

  • May 28, 2021 at 6:37 pm
    Permalink

    प्रज्ञा जी आपका एक महत्वपूर्ण विषय पर आपका ध्यान आकर्षित करवाना चाहूंगा । 6 महीने के बाद उत्तर प्रदेश में चुनाव हैं और कुछ महीने बाद उत्तर प्रदेश में दलबदलूओं की एक आंधी चलेगी जिस पार्टी को जीतता देखेंगे दलबदलू उस पार्टी की ओर हो लेंगे । बदलू हमारे समाज, देश, प्रदेश के लिए बहुत घातक होते हैं क्योंकि यह सिर्फ अपना भला करते हैं इनका जनता से कोई वास्ता नहीं होता किसी पार्टी के खिलाफ जनता में जो रोष होता है उसका यह लोग भरपूर फायदा उठाते हैं । कृपया एक वीडियो या संपादकीय उन दलबदलूओं के लिए अवश्य लिखें और जनता को जागरूक करें आपको बहुत सारे लोग सुनते और पढ़ते हैं उम्मीद है आप मेरी इस बात पर ध्यान देंगी । राम-राम, दुआ सलाम, जय हिंद🙏🙏

    Reply
    • May 28, 2021 at 6:54 pm
      Permalink

      ज़रूर

      Reply
      • May 28, 2021 at 7:29 pm
        Permalink

        Bilkul katu sattya hai ma’am.

        Reply
        • May 28, 2021 at 8:14 pm
          Permalink

          आपकी महत्वपूर्ण राय के लिए शुक्रिया

          Reply
          • May 29, 2021 at 7:50 pm
            Permalink

            Aapke kehne par website par bhi haziri de di
            Bas aap aise hi desh ke saamne sach laate rahiye

          • May 29, 2021 at 9:22 pm
            Permalink

            जुम्मन जी आपका बहुत बहुत धन्यवाद..वेबसाइट पर आर्टिकल अच्छे लगें तो जरूर पढ़िए..

          • May 31, 2021 at 10:30 pm
            Permalink

            उत्तर प्रदेश में गर्मी के समय ग्रामीण छेत्रो में बिजली की बहुत ज्यादा कटौती होती है
            हर दिन फाल्ट आंधी पानी तो दूर तेज़ हवा चलने मात्र से फाल्ट हुआ करते है
            हेल्पलाइन सिर्फ मज़ाक बना है
            शिकायत करो तो संबंधित अधिकारी को शिकायत भेज दी जाती है और संबंधित अधिकारी अस्थायी समाधान कर शिकायत बन्द करवा देते है
            फिर से इस बात की शिकायत करो कि अस्थायी समाधान किया गया है सम्बंधित अधिकारियों पर कार्यवाही की जाए तो हेल्पलाइन पर बताया जाता है कि हमारा काम है सिर्फ शिकायत दर्ज करना
            मैं बिजली बिल हर माह जमा करता हु
            अन्य ग्रामीण छेत्रो में जो बिल दे न दे उसकी जवाब देहि मेरी नही बल्कि सरकार की है
            ट्वीटर फ़ेसबुक हेल्पलाइन हर जगह शिकायत का निपटारा सिर्फ खाना पूर्ति ( अस्थायी समाधान ) किया जा रहा है क्योंकि ऊर्जा मंत्री पंडित श्रीकांत शर्मा जी को एक डाटा दिखाना है जिसमें प्रदेश में समस्याओं से संबंधित की गई शिकायत संख्या और उनका निपटारा निस्तारण जोकि अस्थाई रूप से होता है वह रिपोर्ट कार्ड जनता के सामने प्रस्तुत कर देते हैं आप चाहे तो एक बार फेसबुक पर यूपीपीसीएल पंडित श्रीकांत शर्मा इन लोगों के प्रोफाइल पर जाकर लोगों के अनगिनत कमेंट पढ़िए और खुद से निर्णय लीजिए क्या इतनी कमेंट द्वारा की गई शिकायतों का लगातार होते रहना जायज है लोगों से उनके कमेंट द्वारा मोबाइल नंबर मांगा जाता है और पर फ्रॉड करने वालों का कॉल जाया करता है मैसेज में मेल पर जो भी कोई शिकायत भेजो उस पर उत्तर एक लंबे समय के बाद दिया जाता है और निस्तारण वही खानापूर्ति मैंने तो अनेकों कोशिश है कि आपके वीडियो में रेगुलर देखता हूं और एक आपसे आखरी उम्मीद थी कि आप इस विषय पर ध्यान केंद्रित कर सकती हैं लोगों को जागरूक कर सकती हैं डटकर सवाल उठा शक्ति हैं रिपोर्टिंग के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में जा सकती हैं इसलिए मैं आपको एक सुझाव दे रहा हूं बिजली विभाग उत्तर प्रदेश ग्रामीण क्षेत्रों में ओवरलोडिंग की समस्या से परेशान रहता है जितने पावर का ट्रांसफार्मर power house मैं होता है उससे कहीं ज्यादा उस पर लोड होता है कनेक्शन बहुत ज्यादा है power house बहुत कम है जिसके कारण आए दिन फाल्ट हुआ करता है ग्रामीण क्षेत्र का इलेक्ट्रिक सिटी का इंफ्रास्ट्रक्चर अपग्रेड करने की आवश्यकता है जिस पर किसी का ध्यान नहीं है इस विषय पर आप ही हैं जो ग्रामीण क्षेत्रों में जाकर कर गया रिपोर्टिंग कर सकती हैं

          • June 1, 2021 at 2:18 pm
            Permalink

            noted, thanks for supporting आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

      • May 28, 2021 at 10:50 pm
        Permalink

        Hi Pragya ji
        How are you….may god bless you..
        You have guts to show n speak about truth…..I watch almost all news in youtube….pragyakipanna

        All the very best ..keep going

        Thanks & regards
        Ismail.A

        Reply
        • May 28, 2021 at 10:58 pm
          Permalink

          ULTA CHASMA UC भी देखा कीजिए..तारीफ के लिए आपका शुक्रिया

          Reply
          • May 29, 2021 at 5:42 pm
            Permalink

            Mam I am a huge fan of u..
            But sb yehi puchhte h modi nhi toh kon……
            What should or what can be do else

          • May 29, 2021 at 7:02 pm
            Permalink

            काबिल मोदी जी भी हैं..काबिल हैं तभी पीएम हैं..

        • May 30, 2021 at 12:37 pm
          Permalink

          Hi Paragya Mishra;
          Hope all is going well.

          This is Nadeem Alam from Nepal.
          I request you to make a video on controlling on Covid-19 in India and Nepal based on comparative study. And what are their failures.

          Reply
          • May 30, 2021 at 4:02 pm
            Permalink

            जरूर..नदीम जी आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया

      • May 30, 2021 at 12:06 pm
        Permalink

        प्रमाण दीदी,
        आपके जैसे सच्चे पत्रकार की आज देश को इस संकट के समय में जनता की आवाज उठाने के लिए बहुत जरूरत है,
        दीदी, आपसे निवेदन है की Railway/SSC exams को लेकर आवाज उठाए बहुत परेशानी में हैं आपको ज्ञात ही होंगा railway का privatization वर्तमान सरकार कर रही है और साथ ही NTPC railway exams ki लगभग 13000 post एग्जाम schedule notification आने के बाद खत्म कर रही हैं,
        हम बहुत से स्टूडेंट्स मिडिल क्लास family से belong करते हे और अब उम्र भी हो चली हे कुछ समझ नही आ रहा है पढ़े लिखे बेरोजगार हैं।
        कृपया आप सरकार का ध्यान इसपर आकर्षित करवाए,
        धन्यवाद।

        Reply
      • May 30, 2021 at 3:43 pm
        Permalink

        Inko sirf vote se matlab hai…. public ki koi parwah nahi hai…… public mar rahi hai….inko koi fark nahi padta… inko sirf apni nakami chupani hai

        Reply
        • May 30, 2021 at 3:50 pm
          Permalink

          आपकी बेशकीमती राय के लिए शुक्रिया..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बनें..

          Reply
    • May 28, 2021 at 9:49 pm
      Permalink

      dal badlu neta, dubke hue neta, dare hue neta hamare samaaj ka aaina hai. Definitely kuchh neta election haar jaaynge but samaaj badlne par he badlaab hote hai, govt badalne par nhi. Aapne Mulayam ji, mayavati ji, akhilesh ki then Yogi jI ko banaya sarkar badal kar.
      AB apne Aap ko badal kar dkho sab Nadal jaayega.

      Reply
      • May 28, 2021 at 10:15 pm
        Permalink

        एक दम ठीक

        Reply
    • May 29, 2021 at 10:58 pm
      Permalink

      Aaj aap ne bola website per ane ko to dil nahi mana ana pada

      Reply
      • May 30, 2021 at 4:16 pm
        Permalink

        सूफियान जी बहुत बहुत शुक्रिया आप लोगों की शक्ति से ही हमारी शक्ति है..

        Reply
    • June 4, 2021 at 11:47 am
      Permalink

      Pragya g himachal main bhi a ke sarkar ko thoda jagaye and apki satchi kabre yehn bhi jaruri hai

      Reply
      • June 5, 2021 at 6:24 pm
        Permalink

        nishant ji vaise to mai uttarpradesh ki ptrakar hu,lekin ap logo desh ke har kone se mujhe itna pyaar dete hain ye mere liye bahut samman ki bat hai, apki bat ka maan rakhungi himachhal ki ek report jald hi aptak pahuchegi,आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

        Reply
  • May 28, 2021 at 6:52 pm
    Permalink

    If this Corona is only simple desease – your article is good.
    If this Corona is tool to damage economy of INDIA – your article is partially OK.
    If this Corona is starting point of Virus War- out need to review your thought process.

    often we are act like blind ppl. I hope You read the story of The Elephant and 6 blind men. Our whole system ( samaaj, govt., Political parties, media, Capitalist, MARXIST) all play game with handle one truth. All are right but no one able to make complete truly picture. If want to do some unique. Think 360 degree.

    THANKS

    Reply
  • May 28, 2021 at 8:15 pm
    Permalink

    Pragya ji jis bahaduri aur bebaki se aap such batati hain aur dikhati hain jitni tarif ki jaye kam hai desh me koi mard patrakar hai toh wo aap hain aise hi jami rahiye.

    Reply
    • May 28, 2021 at 8:18 pm
      Permalink

      शुक्रिया सर..आप लोग ही हमारी ताकत हैं..

      Reply
  • May 29, 2021 at 12:48 am
    Permalink

    Mai aap ka har ek lekh aur video dekhta hu aap ese hi reality aur jamini haqikat ko logo tk pahuchao ham log aap ko support krte rhenge aur aap ke channel ko bhi share krte rhenge

    Reply
    • May 29, 2021 at 12:24 pm
      Permalink

      धन्यवाद अवनीश जी..

      Reply
      • May 29, 2021 at 8:04 pm
        Permalink

        Mam!!! Plz plz plz!!! Make a video on rupa tirkey case from Jharkhand, sahebganj 🙏🙏🙏

        Reply
  • May 29, 2021 at 2:02 am
    Permalink

    प्रज्ञा मिश्रा जी मैं आपका बहोत बड़ा फैन हूँ क्यू कि आप सच बोलती हैं ना सिस्टम से डरती हैं ना सरकार से मेरी ईश्वर से प्राथना है की आप पर कोई भी मुसीबत ना आये आप जियें हजारों साल।।

    Reply
    • May 29, 2021 at 12:24 pm
      Permalink

      आपकी मेरे लिए चिंता और शुभकामनाओं के लिए धन्यवाद..हम सब एक परिवार की तरह हैं..

      Reply
  • May 29, 2021 at 5:41 pm
    Permalink

    Mam I am a huge fan of u..
    But sb yehi puchhte h modi nhi toh kon……
    What should or what can be do else

    Reply
  • May 29, 2021 at 5:52 pm
    Permalink

    Mam in today’s video i saw ur are smiling at last i am ur recent subscriber but i have seen ur video’s saw i wanna say that kii today i have seen first tym u where smiling u look more beautiful while smiling

    Reply
  • May 29, 2021 at 7:45 pm
    Permalink

    Hii!! Hello mam jii namskar🙏🙏

    Reply
    • May 29, 2021 at 9:24 pm
      Permalink

      नमस्कार

      Reply
  • May 29, 2021 at 9:38 pm
    Permalink

    सर्जिकल स्ट्राइक में पाकिस्तान कि लासे अंधेरे में गिन लिए और यहां लाशों का आंकड़ा नहीं बता पा रहे हैं मैडम निडर पत्रकारिता के लिए धन्यवाद

    Reply
    • May 29, 2021 at 10:42 pm
      Permalink

      अमित जी आपकी राय के लिए शुक्रिया

      Reply
  • May 29, 2021 at 10:06 pm
    Permalink

    Aap aapna App launch kr digiye! Pragya mamm! I like ur interaction n gesture!

    Reply
    • May 29, 2021 at 10:29 pm
      Permalink

      I WIIL THINK ABOUT THIS

      Reply
      • May 30, 2021 at 2:17 pm
        Permalink

        Mam ..my name is virendra makvana..143/1, shant shree trikam saheb nivaas, b/h dmart mall , bapunagar,ahmedabad-380025.
        Mam hamare waha Corona kaal me bhi demolition karvaane logo ko ghar se bedkhal kiya jaa raha hai..yaha sabke ghar 2 maal k hai fir usko jabardasti slum declare karke redevelopment laa rage hai..actual me yaha BJP ka ek leader hai jo apni kabza ki zameen jo slum jese padi hai usko legal karvaane k liye ye development laya hai..means legal jagah k redeveloping k wajah se uski illegal jagah bhi redevelopment me jayegi and wo sab fir officially uski ho jayegi..hum Haha 60 years se rehte hai..hamaare sable ghar bhi abhi bane hue hai..aur well maintained hai..for bhi forced kiya jaa raha hai development k liye..Corona kaal me government ne demolition ka mana kiya hai fir bhi yaha logo k ghar tode has rahe hai mam..plzz help us..my number is 8140121855

        Reply
        • May 30, 2021 at 2:22 pm
          Permalink

          Mam agar aap help na kar sake to sirf itni information dijiyega ki India me kitne time tak rehne k baad wo zameen aapki hoti hai?? Yaa kabhi nahi hoti???? This is the worst use of PM aavaas yojna..

          Reply
          • May 30, 2021 at 3:53 pm
            Permalink

            आपकी बेशकीमती राय के लिए शुक्रिया..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बनें..

        • May 30, 2021 at 3:56 pm
          Permalink

          जरूर हम आपको अहमदाबाद में रिपोर्टर का नंबर देंगे उनको फोन करके पूरी बात बताईये..

          Reply
  • May 30, 2021 at 1:18 am
    Permalink

    आपको सादर नमन,,
    आपका लेख पढ़ा बहुत प्रभावी, सत्य और व्यंग्यात्मक कलमबाजी।
    बस एक बात खटक गई,
    हेडलाइन में चूड़ी पहनने वाली बात।
    चूड़ी पहनना कमजोरी और अकर्मण्यता की निशानी है ऐसा प्रतीत हो रहा है।
    मार्गदर्शन कीजिए
    🙏🙏🙏🙏🙏
    🙏🙏🙏🙏🙏🙏

    Reply
    • May 30, 2021 at 4:12 pm
      Permalink

      आपकी अपत्ति दर्ज की जाती है..

      Reply
  • May 30, 2021 at 11:42 am
    Permalink

    please tell me how to handle andbhakts who say Modi is everything on only basis of religion not on the facts and works he had done.

    Reply
    • May 30, 2021 at 4:05 pm
      Permalink

      नियो जी आपकी बेशकीमती राय के लिए शुक्रिया..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बनें..

      Reply
  • May 30, 2021 at 11:55 am
    Permalink

    मैम मुझे ये बात नही समझ नही आ रहा है कि जो हमारे नेशनल मीडिया है इन सबको बिना जमीनी अस्तर पे जाए सब अनुमान लगा ले रहे है अभी मैं abp न्यूज का एक वीडियो देखा जिसमे थोड़ा बहुत इधर उधर बता कर लास्ट में ये बोल दिया की देश में सब ठीक चल रहा है और मोदी जी ही लोगो को ज्यादा पसंद है ।
    लेकिन लोकल न्यूज जैसे आपका उल्टा चश्मा ,न्यूज क्लिक, HW news , बेबाक, और भारत समाचार ये लोग तो असल में जमीनी अस्तर पे जाकर देख कर बताते है फिर भी कुछ लोगो को नेशनल मीडिया ही अच्छी लगती क्यू ? क्यू की वो सिर्फ नफरत फैलाते है इसलिए

    Reply
    • May 30, 2021 at 4:04 pm
      Permalink

      ताहिर जी आपकी बेशकीमती राय के लिए शुक्रिया..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बनें..

      Reply
  • May 30, 2021 at 3:56 pm
    Permalink

    Pragya ji aap kafi acha kaam ker rhe ho aap sahi mayne me reporter ho jo apni desh ki sachi baat hum logo ke samne puri himmat aur puri sachai se rakte ho aap aise hi kaam kerte rhe last me jeet sirf aur sirf sach ki hoti hai aur jahan sach hai wahan prayga aur sakshi jasie wonder women hai thank u so much

    Reply
    • May 30, 2021 at 4:03 pm
      Permalink

      विजय आपकी बेशकीमती राय के लिए शुक्रिया..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बनें..

      Reply
      • May 30, 2021 at 5:12 pm
        Permalink

        Pragya ji poster lagane walo ko 24 hour me jail me dal diya lala ramdev ji kiu bahar hai jinno humare corona warrior ko itna galt bola ?

        Reply
  • May 30, 2021 at 5:12 pm
    Permalink

    Bahut sahi!!! jab desh ka main stream media sarkar ki gulami kar raha hai to aise me kuch gine chune aap jaise journalist h jo Janta ki “Mann ki bat” ko sarkar tak majbuti ke sath pahuncha rahi hain.
    Aise hi mehnat karti rahiye.

    Reply
  • May 30, 2021 at 11:50 pm
    Permalink

    Plz help me mam

    Reply
    • May 31, 2021 at 3:55 pm
      Permalink

      आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

      Reply
  • May 31, 2021 at 10:10 pm
    Permalink

    I love you Pragya ji

    Reply
  • June 1, 2021 at 8:31 am
    Permalink

    मैंने दो कविताएं लिखी हैं और मैं एक कविता जो इस समय देश में चल रहा है इस पर लिखना चाहता हूं मुझे लगता है वह कविताएं प्रज्ञा भाभी के व्यक्तित्व से मैच करेंगे जो घर आप लोग मौका देंगे तो मैं आप के माध्यम से वह प्रस्तुत करना चाहूंगा भविष्य में आप उत्तर अवश्य लिखना कांटेक्ट नंबर 94 52 अट्ठासी 7885

    वैसे मैं छात्र हूं कंपटीशन की तैयारी करता हूं तो अभी लेखन के लिए ज्यादा फोकस नहीं कर पाता हूं

    Reply
  • June 2, 2021 at 7:44 pm
    Permalink

    Twitter या सोशल मीडिया पर कुछ भी अनर्गल लिखते रहिए, फैसला जमीन पर होता है। जनता को पता है किसे पूछना है और क्या पूछना है।

    जनता सब जानती है और ये कटु सत्य है कि फैसला ट्वीटर पर लिखने पढ़ने वाले नहीं करते वे तो बस खम्बों से बंधे है, फैसला स्वतंत्र लोग करते हैं।

    Reply
    • June 5, 2021 at 6:35 pm
      Permalink

      आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

      Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *