रेलवे ट्रैक पर तंबू लगाकर बैठा गुर्जर समुदाय, 14 ट्रेनें रद्द, जानें पूरा मामला-

पांच फीसदी आरक्षण की मांग को लेकर राजस्थान के सवाई माधोपुर में गुर्जर समुदाय के लोग मकसूदनपुरा गांव के पास ट्रेन की पटरियों पर तम्बू लगा कर बैठे हैं. गुर्जर समुदाय का ये प्रदर्शन दो दिन से चल रहा है.

protest of gujjars for reservation in rajasthan
protest of gujjars for reservation in rajasthan

गुर्जर आंदोलन की वजह से रेलवे ने आज शनिवार को 14 ट्रेनें रद्द कर दीं हैं. और चार के मार्ग बदल दिए हैं. शुक्रवार को भी इस आंदोलन से 25 ट्रेनों पर असर पड़ा था. गुर्जर समाज ने शुक्रवार शाम को ही दिल्ली-मुंबई रेलवे ट्रैक पर अपना कब्जा कर लिया और वहीं पर डेरा जमा लिया. इसके साथ ही विभिन्न जिलों में सड़कों पर जाम लगा दिया. और आरक्षण नहीं मिलने तक रेल और सड़क यातायात को थामने की सरकार को चेतावनी भी दे दी है.

सवाईमाधोपुर के मलारना स्टेशन और नीमोदा रेलवे स्टेशन के बीच गुर्जरों ने ट्रैक पर ही तंबू लगा लिया है और अलाव जलाकर बैठे हैं. गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला ने कहा कि शुक्रवार शाम चार बजे तक का अल्टीमेटम दिया था, जो खत्म हो चुका है. इस बार समझौता नहीं होगा. सीधे आरक्षण की चिट्ठी चाहिए. बैंसला ने कहा कि गुर्जर सहित रायका, बंजारा, गाडि़या लुहार और रेबारी जातियों को पांच फीसद आरक्षण देने को लेकर 20 दिन पहले अल्टीमेटम दिया गया था.

उधर राज्य सरकार ने भी गुर्जर आंदोलन को देखते हुए भारी पुलिस बल तैनात करने के साथ ही गुर्जर बहुल इलाकों में इंटरनेट सेवा बंद कर दी है. सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि सरकार बातचीत के लिए तैयार है. मगर बैंसला का कहना है कि किसी भी बातचीत के लिए सरकार को ट्रैक पर ही आना पड़ेगा. राजस्थान सरकार ने पर्यटन मंत्री विश्वेंद्र सिंह, स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा और सामाजिक न्याय विभाग मंत्री भंवरलाल मेघवाल की कमेटी बनाई है. जिन्हें गुर्जरों को मनाने का जिम्मा दिया गया है.

शनिवार को ये रद्द की गईं

19020 देहरादून-बांद्रा एक्सप्रेस
19021 बांद्रा टर्मिनस-लखनऊ एक्सप्रेस
12415 इंदौर-नई दिल्ली सुपारफास्ट एक्सप्रेस
12416 नई दिल्ली-इंदौर सुपारफास्ट एक्सप्रेस
12909 बांद्रा-निजामुद्दीन गरीब रथ