विजय संकल्प रैली में बोले PM मोदी, भारत अब हर चुनौती को ‘चुनौती’ देता है

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विजय संकल्प रैली को संबोधित करने के लिए आज रविवार को हरियाणा के रोहतक पहुंच गए हैं. यहां वे कई विकास परियोजनाओं का शिलान्यास और लोकार्पण करेंगे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी इस विजय संकल्प रैली में चुनावी बिगुल भी फूंकेंगे.

prime minister narendra modi vijay sankalp rally in rohtak haryana
prime minister narendra modi vijay sankalp rally in rohtak haryana

रैली स्थल के सामने पीएम मोदी का 70 फीट तो सीएम मनोहर लाल का 60 फीट ऊंचा कट आउट पहली बार रोहतक में लगाया गया है. प्रधानमंत्री मोदी ने मंच पर आते ही भारत माता के जयकारे की उदघोष के साथ हरियाणवी बोली में अपना भाषण शुरू किया.

-----

पीएम ने कहा कि उन्हें तीसरी बार रोहतक में आने का मौका मिला है. वे एक बार फिर समर्थन मांगने के लिए आए हैं. लोकसभा चुनाव में भाजपा को सभी दस सीटें जिताने के लिए हरियाणा के लोगों का आभार जताया. कहा कि मैं हरियाणा का जितना भी धन्यवाद करूं वो कम है.

जनता के समर्थन से ही सरकार बड़े फैसले ले पाई है. सीएम मनोहर लाल सरकार की तारीफ करते हुए बोले कि सरकार ने जैसे काम किया ये जनसैलाब उसी का जीता जागता उदाहरण है. मनोहर लाल की जन आशीर्वाद यात्रा भले ही रोहतक में समाप्त हो गई हो लेकिन ये जन आशीर्वाद यह बता रहा है कि भविष्य में जनता किसके साथ है.

पांच साल पहले मनोहर लाल जी के बारे में भांति-भांति की बातें सुनाई देती थी, लेकिन आज उनके सुशासन से हरियाणा का हर परिवार मनोहर बन गया है. अब हरियाणा के लोग कंफ्यूज हो रहे हैं. कोई मनोहर बोलते हैं तो कोई नमोहर, लेकिन, दोनों नाम एक ही हैं.

पीएम मोदी ने कहा कि वे ऐसे समय में यहां आए हैं जब उनकी सरकार के सौ दिन हो रहे हैं. ये सौ दिन विकास के रहें हैं. विश्वास के रहें हैं. देश में बड़े-बड़े परिवर्तन के रहे हैं. जन संकल्प के रहे हैं. जनहित के उद्धार में रहे हैं. सौ दिन में जो भी बड़े फैसले लिए गए हैं उनके प्रेरणा 130 करोड़ भारतवासी हैं.

आपके विश्वास से ही सरकार कृषि से लेकर राष्ट्र की सुरक्षा के फैसले लिए हैं. अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए काम किया है. देश में बैंकिंग व्यवस्था को सुधारने के लिए फैसले लिए गए हैं. इस बार संसद के सत्र में जितना काम किया गया है उतना पिछले साठ साल में नहीं किया गया है.

दशकों पूर्व की चुनौती हो या भविष्य की चुनौती, भारत हर चुनौती को चुनौती देता है. जम्मू-कश्मीर या लद्दाख का मामला हो या गंभीर होता जल संकट, 130 करोड़ों लोगों ने समाधान तलाशने शुरू कर दिए हैं.

इन प्रोजेक्ट का लोकार्पण
  • दुल्हेड़ा डिस्ट्रीब्यूटरी का पुनर्वास
  • रोहतक में सस्ते आवास
  • कन्या महाविद्यालय, बड़ौली व मंकोला (पलवल), पुन्हाना(नूंह), उगलान (हिसार) व कालांवाली (सिरसा)
  • कुरुक्षेत्र के थानेसर, लाडवा, शाहबाद व पिहोवा में केंद्रीकृत नियंत्रित एवं निरीक्षण प्रणाली के साथ-साथ ऊर्जा-क्षम स्ट्रीट लाइट परियोजना
  • समेकित कमांड एवं नियंत्रण कक्ष, फरीदाबाद
इन प्रोजेक्ट का शिलान्यास
  • शीतला माता देवी चिकित्सा महाविद्यालय, गुरूग्राम
  • एबीडी फरीदाबाद स्मार्ट सिटी में सड़क तंत्र सेंटर
  • मेगा फूड पार्क, आईएमटी रोहतक
  • समेकित कमांड एवं नियंत्रण केंद्र, करनाल
  • पुलिस परिसर, भोंडसी में 576 आवास का निर्माण