मन की बात: बच्चों के लिए होगी ये प्रतियोगिता, विजेता देखेगा लैंडर-रोवर की चंद्रमा पर लैंडिंग

आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में जल संरक्षण से लेकर कश्मीर तक कई मुद्दों पर बात की. बतादें कि पीएम मोदी अपने दूसरे कार्यकाल में दूसरी बार मन की बात कार्यक्रम कर रहे हैं.

prime minister narendra modi address mann ki baat
prime minister narendra modi address mann ki baat

पीएम मोदी ने कहा कि अब किताबें ज्यादा नहीं पढ़ पाता, लेकिन लोगों से जानने का मौका जरूर मिलता है. इस वक्त देश में जल संरक्षण को लेकर प्रभावी प्रयास हो रहे हैं. जल संरक्षण दिल को छू जाने वाला विषय है. राज्य सरकार हों या एनजीओ हों जलसंरक्षण के लिए युद्ध स्तर पर कुछ-ना-कुछ कर रहे हैं. चंद्रयान-2 से मुझे विश्वास और निर्भिकता की सीख मिली है. 2019 का साल भारत के लिए बहुच अच्छा रहा है.

-----

22 जुलाई को पूरे देश ने गर्व के साथ देखा कि कैसे चंद्रयान-2 ने श्रीहरिकोटा से अंतरिक्ष की ओर अपने कदम बढ़ाए. चंद्रयान-2 के प्रक्षेपण की तस्वीरों ने देशवासियों को गौरव और जोश से भर दिया. हमें याद रखना चाहिए कि जीवन में भी मुश्किलों को पार करने का सामर्थ्य हमारे भीतर ही है. मुझे भरोसा है कि यह मिशन युवाओं को विज्ञान के प्रति प्रेरित करेगा. अब हमें सितंबर में लैंडर और रोवर के उतरने का इंतजार है.

वहीं पीएम मोदी ने बच्चों के भविष्य को लेकर एक बड़ा ऐलान किया है. उन्होंने कहा कि मैं देश के विद्यार्थी दोस्तों के साथ, युवा साथियों के साथ एक बहुत ही दिलचस्प प्रतियोगिता के बारे में जानकारी साझा करना चाहता हूं और देश के युवक-युवतियों को निमंत्रित करता हूं. ‘‘MyGov.com पर 1 अगस्त से स्पेस से जुड़ी एक प्रतियोगिता की शुरुआत की जा रही है. सभी राज्यों के स्कूल इसमें भाग लें. और प्रतियोगिता में विजेताओं को सरकार अपने खर्च पर श्रीहरिकोटा लेकर जाएगी और वे लैंडर-रोवर की चंद्रमा पर लैंडिंग देख पाएंगे.

पीएम मोदी ने मेघालय राज्य सरकार को बधाई दी और कहा कि मेघालय देश का पहला ऐसा राज्य बन गया है, जिसने अपनी जल-नीति तैयार की है. वहीं हरियाणा सरकार को भी बधाई देते हुए कहा कि हरियाणा में उन फसलों की खेती को बढ़ावा दिया जा रहा है, जिनमें कम पानी की जरूरत होती है और किसान का भी कोई नुकसान नहीं होता है.