10 जनवरी से लगेगा भव्य माघ मेला, 2500 बीघा क्षेत्रफल में आपके लिए होंगी ये सुविधाएँ, देखें-

नया साल लग गया है और देखा जाये तो साल का पहला महना ही आस्था से भरा हुआ है. क्युकी इसी महीने मकरसंक्रांति और वसंत पंचमी मौनी अमावस्या भी है. जिसमें लोग पवित्र नदियों में डुबकी लगाते हैं.

prayagraj magh mela 2020 arrangements
prayagraj magh mela 2020 arrangements

इसी को देखते हुए प्रयागराज में 10 जनवरी से माघ मेला लगने वाला है मेले के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था को बेहतर ढंग से चाक-चौबंद किया जा रहा है. इस बार मेले के लिए पांच किलोमीटर लंबा घाट बनाया जा रहा है. मेले में एलईडी लाइटों के साथ ही 50 हाईमास्क लगाए जा रहे हैं. अनुमान लगाया जा रहा है कि मेले के दौरान करीब पांच करोड़ से अधिक श्रद्धालु पहुँच सकते हैं.

प्रयागराज में माघ मेला 10 जनवरी को पौष पूर्णिमा से शुरू होकर 21 फरवरी को महाशिवरात्रि तक चलेगा. मेले में महिला सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए 243 महिला पुलिसकर्मियों को ये जिम्मेदारी दी गई है. किसी भी प्रकार की आगजनी न हो इसके लिए 13 विशेष प्रकार के फायर स्टेशन भी बनाए जाएंगे. हर मूवमेंट पर नज़र रखने के लिए पूरे इलाके में लगभग 185 सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे. और सात नाइट विजन डिवाइस भी लगाई जाएँगी.

डीआईजी केपी सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि मेले के पहले स्नान पर्व पौष पूर्णिमा पर 45 लाख, दूसरे स्नान मकर संक्रांति पर 90 लाख, बसंत पंचमी पर 60 लाख, माघ पूर्णिमा पर 45 लाख और महाशिवरात्रि पर 15 लाख श्रद्घालुओं के स्नान करने की संभावना है. इसलिए पानी में करीब पांच कि.मी. लंबी बैरिकेडिंग भी की जा रही है, जिससे नावों का संचालन नियंत्रित किया जाएगा.

पिछले साल योगी सरकार ने प्रयागराज में महाकुम्भ का आयोजन बड़े ही भव्य तरीके से करवाया था. जिसमें कई देश विदेश के यात्री यहाँ आये थे. कुंभ-2019 के आयोजन ने विश्व पटल पर अपनी ऐसी अमिट छाप छोड़ी है कि यहां कल्पवासियों की संख्या में खासा इजाफा हुआ है। संगम की रेती पर 31 सौ संस्थाओं को भूमि दी गई है.

देखा जाये तो ये माघ मेला अब तक का सबसे बड़ा मेला होगा. इस बार लगभग ढाई हजार बीघे में तंबुओं की नगरी बसाई जा रही है. स्वास्थ्य सुविधाएं देने के मद्देनजर कुल 2 चिकित्सालय बनाए गए हैं, जो 20-20 बेड के होंगे. इनके अलावा तीन आयुर्वेदिक और 3 होम्योपैथिक चिकित्सालय बनाए जा रहे हैं.

222 total views, 1 views today

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *