लखनऊ के इन सड़े-गले खम्बों से होने वाली हैं कई मौतें, 52 बच्चे झुलसे, देखें खम्बों की जर्जर तस्वीरें-

उत्तर प्रदेश के बलरामपुर में सोमवार को एक बड़ा हादसा हो गया. बस ये कहिये की किसी की जान नहीं गई. सीएम योगी आये दिन मंत्रियों और अधिकारियों को सही ढंग से काम करने की नसीहत दे रहे हैं. मगर अधिकारियों के कानों में जूं तक नहीं रेंग रही है.

power line wire falls down in balrampur lucknow up
power line wire falls down in balrampur lucknow up

इसी लापरवाही की वजह से सोमवार को बलरामपुर जिले के उतरौला कोतवाली क्षेत्र के एक प्राथमिक विद्यालय की छत पर हाईटेशन विद्युत तार गिर जाने से करीब 52 बच्चे करंट की चपेट में आ गए. खबरों के मुताबिक, सभी बच्चों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इनमें से छह की हालत काफी गंभीर बताई जा रही है.

उतरौला के क्षेत्राधिकारी (सीओ) मनोज यादव ने बताया कि प्राइमरी स्कूल की छत पर हाईटेंशन तार गिर जाने से करीब 52 बच्चे करंट की चपेट में आ गए हैं. गनीमत रही कि बिजली की सप्लाई रुकवाई गई, जिस कारण बच्चों की जान को खतरा नहीं हुआ. घायल बच्चों को उतरौला के सीएचसी में भर्ती करवाया गया है. अब सभी बच्चे खतरे से बाहर हैं.

इस मामले को लेकर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने ट्वीट किया है और छात्रों के जल्द स्वस्थ होने की प्रार्थना की है. उन्होंने लिखा कि जनपद बलरामपुर के एक स्कूल में हाईटेंशन तार गिरने से कई बच्चों के गंभीर रूप से झुलसने की दुखद खबर प्राप्त हुई है. जिला प्रशासन जल्द से जल्द घायलों बच्चों को हर संभव चिकित्सीय सहायता प्रदान करें. भगवान से दुर्घटना में घायल हुए बच्चों के शीघ्र स्वास्थ लाभ की प्रार्थना करता हूँ.

ये घटना कोई नई बात नहीं है ऐसी ही और भी कई घटनाएं होने वाली हैं. क्युकी नेताओं और अधिकारियों ने तो अपनी आँखे बंद कर रखी हैं. तो हम ही बता देते हैं. ये लखनऊ के काकोरी के वो बिजली के खंम्बे है जिनसे 11 हजार वोल्टेज का करेन्ट दौड़ता है, ना जाने कब ये नीचे गिर जाए और बेगुनाह और मासूम लोगों की मौत हो जाये.

अगर इन सबसे कोई बड़ी घटना हो जाये तो इसकी ज़िम्मेदारी कौन लेगा ? इसमें पूरी लापरवाही बिजली विभाग की है. अधिकारियों ने तो अपनी आँखों पर पट्टी बांध रखी है तो लोगों ने ही अपनी शुरक्षा के लिए कुछ कंम्बो में पालीथीन भी बंधी है. जिससे बरसात के वजह से कर्रेंट नीचे न आ जाये

लेकिन इस बेक़सूर लोगों को ये नही पता कि जर्जर खम्बे कब उनके घर या आम पब्लिक के ऊपर गिर जाए. और उनकी जान चली जाए.

काकोरी के लगभग सैकड़ो लोहे के खम्बे नीचे से जर्जर हो चुके है और ऊपर से 1100 वोल्टेज का करेंट दौड़ रहा है. आप तस्वीरों के ज़रिये देख सकते हैं. लाल घेरे में जर्जर खम्बे सीमेंट के भी खम्बे हैं जो बीच से ही टूटे हुए हैं. बस किसी तरह तारों को रोक रखा है.

योगी सरकार के ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा को इसे संज्ञान में लेकर सभी ख़राब खम्बों को जल्द से जल्द ठीक करवाने चाहिए और ऐसे लापरवाह अधिकारियों पर सख्त कार्यवाही करनी चाहिए.

1,345 total views, 1 views today

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *