14 अप्रैल तक पूरा देश लॉकडाउन, लगी पूर्ण पाबंदी, घर में रहें. घर में रहें. और बस घर में रहें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 5 दिन में दूसरी बार कोरोनावायरस के मुद्दे पर देश के नाम संबोधन किया है. जिसमें उन्होंने सबसे बड़ा ऐलान कर दिया है. कोरोना वायरस का कहर रोकने के लिए पूरी दुनिया का सबसे बड़ा लॉकडाउन भारत में शुरू हो चुका है.

pm narendra modi address nation speech stay at home
pm narendra modi address nation speech stay at home

ये लॉकडाउन 21 दिन का है. जो मंगलवार रात 12 बजे से शुरू हो चुका है और 14 अप्रैल रात 12 बजे ख़त्म होगा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को कोरोना वायरस के प्रकोप से बचने के लिए देशवासियों को एक मंत्र दे दिया है. ये मंत्र है घर में रहें.. घर में रहें.. और बस घर में रहें. उन्होंने साफ कहा कि आने वाले 21 दिन हमारे यानि भारत देश के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं. कोरोना से बचाव का इसके अलावा कोई दूसरा तरीका नहीं है.

प्रधानमंत्री मोदी की इस घोषणा का मतलब है कि अगले 21 दिनों तक न कोई ट्रेन चलेगी, न हवाई जहाज उड़ेंगे और न ही बसें चलेंगी. यानी सब पर पाबंदी रहेगी, सब कुछ बंद रहेगा. देश की 130 करोड़ से ज्यादा की आबादी अपने घरों में रहेगी. ये जनता कर्फ्यू से ज्यादा सख्त होगा, ये एक तरह से कर्फ्यू ही है. पीएम मोदी ने कहा की बाहर निकलना क्या होता है, ये 21 दिन के लिए भूल जाइए. 21 दिन नहीं संभले तो आपका देश और आपका परिवार 21 साल पीछे चला जाएगा.

कोरोना से तभी बचा जा सकता है, जब घर की लक्ष्मण रेखा ना लांघी जाए. साथ ही पीएम मोदी ने चेतावनी भी दी है कि अगर लापरवाही जारी रही तो भारत को इसकी बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ सकती है. और ये कीमत कितनी चुकानी पड़ेगी, इसका अंदाजा लगाना मुश्किल है.

वहीं मरीजों के इलाज के लिए और देश के स्वास्थ्य सेवा को और मजबूत बनाने के लिए केंद्र सरकार ने 15 हजार करोड़ रुपये का प्रावधान किया है. इसका उपयोग जांच सुविधाओं को बढ़ाने, अस्पतालों में आइसोलेशन बेड बढ़ाने, आईसीयू में बेड की संख्या बढ़ाने, वेंटिलेटर की संख्या बढ़ाने के लिए होगा. यही नहीं, मेडिकल और पैरा मेडिकल कर्मचारियों की ट्रेनिंग का काम भी किया जाएगा.

संक्रमण के चक्र को तोड़ना है तो सोशल डिस्टेंसिंग करनी ही होगी. देश के हर जिले, गांव, शहर गली-मुहल्ले में बाहर आने पर पूरी सख्ती से पाबंदी होगी. अभी भी नहीं संभले तो कई परिवार तबाह हो जाएंगे. पीएम मोदी ने सभी देशवासियों से हाँथ जोड़कर कहा है कि आप सबसे प्रार्थना है कि आप सब इस समय जहां भी हैं, वहीं बने रहें. देश में ये लॉकडाउन तीन सप्ताह के लिए होगा.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *