प्रचंड जीत के बाद PMO पहुंचे मोदी, कहा- आप लोगों ने मेरी अपेक्षा से ज्यादा काम किया

17वीं लोकसभा चुनाव में जनता ने प्रचंड बहुमत के साथ एक बार फिर देश की बागडोर नरेंद्र मोदी के हाथों में दे दी है. वहीं शपथ ग्रहण से पहले नरेंद्र मोदी ने पीएमओ के अधिकारियों और कर्मियों को संबोधित किया है.

pm modi interacts with pmo staff
pm modi interacts with pmo staff

उन्होंने कहा कि मेरी सोच पीएमओ को प्रभावी बनाने की नहीं है, बल्कि दक्ष बनाने की है. क्युकी अगर किसी को कोई काम होता है तो एक व्यक्ति दूसरे को कहेगा, ये कर दो. दूसरा तीसरे को कहेगा, भाई ये कर देना, बहुत जरुरी है. जबकि दक्षता का लाभ ये है कि कोई काम पहले व्यक्ति के पास ही पूरा हो जाता है. यही इसके फायदे हैं. आपने मेरा भरपूर साथ दिया है. समय से पहले दिया है. इसके लिए मैं पूरी टीम का अभिनंदन करता हूँ.

-----

मैं, मेरे भीतर के छात्र को मरने नहीं देता, जीवित रखता हूं. इससे मुझे आपलोगों से बहुत कुछ सीखने का अवसर मिला है. मैं, हमेशा से लोगों से कुछ न कुछ सीखता आया हूं. आगे भी सीखता रहूंगा. जनता को सरकार से काफी अपेक्षाएं हैं और इन अपेक्षाओं से टीम पीएमओ को डटकर काम करने की ऊर्जा मिलेगी.
मोदी ने कहा कि कोई भी परिणाम तब तक नहीं मिलता, जब तक कोई समर्पित टीम नहीं मिलती है, सपने कितने ही सुहाने क्यों न हों, तब तक परे नहीं होते जब तक साथियों की सोच काम को लेकर एक जैसी नहीं होती है. पीएम ने बीज गणित के फॉर्म्युले का जिक्र कर पीएमओ कर्मियों की ऊर्जा के बारे में बताया.

मेरा अब तक का अनुभव है कि आप लोगों ने मेरी अपेक्षा से ज्यादा परिणाम दिया है. आपमें से कई लोग हैं, जिन्होंने बहुत प्रधानमंत्री और मंत्री देखे हैं, लेकिन मैं पहला प्रधानमंत्री हूं, जिसने आपको देखा है. आपने मुझे कभी अकेलापन महसूस नहीं होने दिया, काम का बोझ मुझ पर नहीं आने दिया. आधिकारिक बयान में कहा गया कि प्रधानमंत्री ने पिछले पांच साल में समूचे PMO की प्रतिबद्धता और प्रयासों की सराहना की. और उन्होंने हर किसी से फिर उसी प्रतिबद्धता से और मेहनत करके भारत के लोगों की उम्मीदों और आकांक्षाओं पर खरा उतरने का आग्रह किया.