PM मोदी ने शराब से कर दी सपा-रालोद-बसपा की तुलना, कहा- ये ‘सराब’ बर्बाद कर देगी-

लोकसभा चुनाव 2019 के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज गुरुवार को यूपी की क्रांतिधरा मेरठ से चुनावी बिगुल फूंक दिया है. इसके साथ ही उन्होंने यूपी में हुए सपा-बसपा और रालोद के गठबंधन पर भी एक बड़ा बयान दे दिया है.

pm modi election rally starts in meerut says sp bsp rjd alliance
pm modi election rally starts in meerut says sp bsp rjd alliance

मोदी ने उप्र में महागठबंधन को लेकर कहा, ”सपा का स, रालोद का र, बसपा का ब मतलब ‘सराब’, और अच्छी सेहत के लिए ‘सराब’ से बचना चाहिए. ये ‘सराब’ आपको बर्बाद कर देगी. मोदी से इस बयान के बाद सियासत गरमा गई है. बतादें 2014 के लोकसभा चुनावों में भी मोदी ने मेरठ से ही प्रचार अभियान का आगाज किया था.

पीएम मोदी ने अपनी सभा में भारी संख्या में भीड़ देखकर बोले की दिल्ली ही नहीं दुनिया का मीडिया जिसे भी 2019 का जनादेश देखना हो वो इस जनसैलाब को देख सकता है। भारत मन बना चुका है। भारत के 130 करोड़ लोग मन बना चुके हैं। देश में एक बार फिर मोदी सरकार बनने जा रही है. मोदी ने कहा 1857 में इसी जगह से स्वतंत्रता का बिगुल बजा था. यही कारण है कि नए भारत के निर्माण के लिए यहां से शुरुआत करने जा रहा हूं.

पश्चिमी उप्र में प्रथम चरण में आठ लोकसभा सीटों पर 11 अप्रैल को चुनाव होंगे. जिसमें सहारनपुर, कैराना, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, मेरठ, बागपत, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर की सीटें शामिल हैं. वहीँ मोदी ने राहुल के 72000 रुपये देने पर तंज कसते हुए कहा कि जो खाते नहीं खुलवा सकता, वह खाते में पैसा क्या डालेगा?

पीएम मोदी ने पुलवामा हमले में शहीद हुए बसा टीकरी के लाल अजय कुमार को मंच से श्रद्धांजलि दी. और चौधरी चरणसिंह को भी नमन किया. फिर बोले कि पांच साल पहले मैंने आशीर्वाद मांगा था. और आप लोगों ने भरपूर प्यार दिया. तभी मैंने कहा था कि आपका ये प्यार ब्याज सहित लौटाऊंगा. मैं अपने कामों का हिसाब दूंगा और दूसरों का हिसाब भी लूंगा. ये दोनों काम साथ-साथ चलने वाले हैं. एक तरफ दमदार चौकीदार है तो दूसरी तरफ जालसाजी वंशवाद है, दागदारों की भरमार है.

उन्होंने आगे कहा कि जमीन हो या फिर अंतरिक्ष सर्जिकल स्ट्राइक का साहस आपके इसी चौकीदार की सरकार ने करके दिखाया है. हम सभी मिलकर बीते 5 वर्षों में भारत को जिस स्थिति से निकालकर लाए हैं, उसको और मजबूत करना है. आज स्थिति ये है कि कुछ दिन पहले जो चौकीदार को चुनौती देते फिरते थे वो आज रोते फिरते हैं. मोदी ने पाकिस्तान को घर में घुसकर क्यों मारा, आतंकियों के अड्डे नष्ट क्यों किए, इन बातों पर रो रहे हैं.