PM मोदी ने निवेशकों को 7 क्षेत्रों में निवेश करने का दिया न्योता, कहा- भारत अवसरों की भूमि

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘यूएस-इंडिया बिजनेस काउंसिल’ की ओर से आयोजित ‘इंडिया आइडियाज सम्मेलन’ को संबोधित किया. काउंसिल के गठन के 45 वर्ष पूरे होने पर इस सम्मलेन का आयोजन किया गया था.

pm modi address india idea summit
pm modi address india idea summit

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इंडिया आइडियाज समिट को संबोधित करते हुए निवेशकों को भारत में निवेश करने के लिए न्योता दिया है. उन्होंने स्वास्थ्य, रक्षा और ऊर्जा समेत अन्य क्षेत्रों में निवेश के लिए अवसर गिनाए. इस दौरान उन्होंने कहा कि भारत अवसरों की भूमि के रूप में उभर रहा है. भारत अमेरिका स्वभाविक सहयोगी हैं. दोनों देश आगे भी रिश्तों को नई ऊंचाई पर ले जाएंगे.

उन्होंने कहा कि पिछले छह वर्षों के दौरान हमने अपनी अर्थव्यवस्था को अधिक सुधार योग्य बनाने के लिए कई प्रयास किए हैं. इन सुधारों की वजह से प्रतिस्पर्धात्मकता, पारदर्शिता, डिजिटाइजेशन, इनोवेशन और पॉलिसी स्थिरता बढ़ी है. कोविड-19 के दौरान भी भारत ने 20 अरब डालर का प्रत्यक्ष विदेशी निवेश आकर्षित किया है.

उन्होंने दुनिया को डिफेंस, सिविल एविएशन समेत 7 क्षेत्रों में निवेश का मौका देते हुए कहा कि भारत अपार संभावनाओं का देश बनकर उभर रहा है. भारत ने आत्मनिर्भर भारत का नारा दिया है. इसके लिए हम आपकी भागीदारी का इंतजार कर रहे हैं. भारत खुशहाल और मजबूत दुनिया के लिए अपना योगदान कर रहा है.

पीएम मोदी ने एक उदाहरण देते हुए कहा कि हाल ही में एक रिपोर्ट सामने आई है, इसमें कहा गया कि भारत में पहली बार शहरी इलाकों से ज्यादा ग्रामीण इलाकों में इंटरनेट यूजर हैं. टेक्नॉलजी में अवसरों का मतलब है कि 5G टेक्नॉलजी, बिग डेटा ऐनालिटिक्स, क्वांटम कंप्यूटिंग, ब्लॉक चेन और इंटरनेट ऑफ थिंग्स में भी अवसर पैदा होने वाले हैं.

भारत आपको हेल्थकेयर में इनवेस्टमेंट के लिए न्योता दे रहा है. भारत का हेल्थकेयर सेक्टर सालाना 22% से ज्यादा की दर से बढ़ रहा है. हमारी कंपनियां मेडिकल टेक्नोलॉजी, टेलीमेडिसिन और डाइग्नोस्टिक के प्रोडक्शन में तरक्की कर रही हैं. आज पूरी दुनिया भारत को लेकर सकारात्मक है. ऐसा इसलिए है, क्योंकि भारत खुलेपन, अवसरों और तकनीक का सबसे बेहतर कॉम्बिनेशन दे रहा है.

भारत आपको रक्षा और अंतरिक्ष में निवेश करने के लिए आमंत्रित करता है. हम रक्षा क्षेत्र में निवेश के लिए एफडीआइ कैप को 74% तक बढ़ा रहे हैं. इस साल अप्रैल से जुलाई के बीच भारत में 20 बिलियन डॉलर का विदेशी निवेश हो चुका है. हम सभी मानते हैं कि दुनिया को बेहतर भविष्य की जरूरत है. हम सभी को मिलकर भविष्य को अंजाम देना है.

भारत आपको ऊर्जा क्षेत्र में निवेश के लिए आमंत्रित करता है क्योंकि भारत गैस आधारित अर्थव्यवस्था में विकसित हो रहा है. अमेरिकी कंपनियों के लिए निवेश के बड़े अवसर होंगे. स्वच्छ ऊर्जा में भी अवसर हैं. भारत के पावर सेक्टर में प्रवेश करने का यह सबसे अच्छा समय है.

सिविल एविएशन (नागरिक उड्डयन) बेहतर विकास की संभावनाओं वाला एक और क्षेत्र है. अगले आठ सालों में हवाई यात्रियों की संख्या दोगुनी होने की उम्मीद है. भारत की शीर्ष एयरलाइंस आने वाले दशक में एक हजार से भी ज्यादा नए विमानों को शामिल करने की तैयारी कर रही हैं.

भारत आपको फाइनेंस और इंश्योरेंस के क्षेत्र में निवेश के लिए न्योता देता है. भारत ने इंश्योरेंस में एफडीआई की सीमा 49% कर दी गई है. इंश्योरेंस इंटरमीडियरीज में अब एफडीआई की सीमा 100 फीसदी कर दी गई है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *