मैन्युफेक्चरिंग पर है विशेष फोकस, नया भारत ‘आत्मनिर्भर भारत’ को आगे बढ़ा रहा है: PM मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए एसोचैम फाउंडेशन वीक 2020 को संबोधित किया. इस मौके पर पीएम मोदी ने रतन टाटा को ‘एसोचैम एंटरप्राइज ऑफ दी सेंचुरी अवॉर्ड’ प्रदान किया.

pm modi address assochams foundation week program
pm modi address assochams foundation week program

अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि हमारे यहां कहा जाता है कि कर्म करते हुए 100 वर्ष तक जीने की इच्छा रखो. ये बात एसोचैम के लिए फिट बैठती है. बीते 100 सालों से एसोचैम देश की अर्थव्यवस्था को बेहतर बनाने में जुटा है. बता दें कि एसोचैम की स्थापना देश के सभी क्षेत्रों के प्रवर्तक चैंबरों ने 1920 में की थी. इसके तहत 400 से अधिक चैंबर और व्यापार संघ आते हैं. देश भर इसके सदस्यों की संख्या 4.5 लाख से अधिक है.

-----

PM मोदी ने कहा कि जो बदलाव हम देखना चाहते हैं, वे हमें संस्थानों में भी करने होंगे. हमें दुनिया की बेस्ट प्रैक्टिस को अपनाना होगा, जो सोसायटी के साथ ज्यादा इंटीग्रेशन से संभव होगा. पहले कहा जाता था कि why India अब कहा जाता है Why not India. 21वीं सदी की शुरुआत में अटल जी ने भारत को हाई-वे से जोड़ने का लक्ष्य रखा था. आज देश में भौतिक और डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर पर विशेष फोकस किया जा रहा है.

कई बार लोग कहते हैं कि ये सेक्टर बढ़िया है, ये शेयर बढ़िया है, इसमें इन्वेस्ट कर दो. हम ये देखते हैं कि सलाह देने वाला भी इसमें इन्वेस्ट कर रहा है या नहीं. महामारी के दौरान दुनिया इन्वेस्टमेंट के लिए परेशान है. आज आपके पास इन्वेस्टमेंट के लिए संभावनाएं और नए अवसर भी हैं. नया भारत, अपने सामर्थ्य पर भरोसा करते हुए, अपने संसाधनों पर भरोसा करते हुए आत्मनिर्भर भारत को आगे बढ़ा रहा है. इस लक्ष्य की प्राप्ति के लिए मैन्युफेक्चरिंग पर हमारा विशेष फोकस है. मैन्युफेक्चरिंग को बढ़ावा देने के लिए हम निरंतर बदलाव कर रहे हैं.

निवेश का एक और पक्ष है, जिसकी चर्चा आवश्यक है. ये है रिसर्च एंड टेवलपमेंट (R&D) पर होने वाला निवेश. भारत में R&D पर निवेश बढ़ाए जाने की जरूरत है. आने वाले 27 साल भारत के वैश्विक योगदान को ही तय नहीं करेंगे, बल्कि ये हम भारतीयों के सपने और निष्ठा, दोनों को टेस्ट करेंगे. ये समय भारतीय इंडस्ट्री के रूप में आपकी क्षमता, प्रतिबद्धता और साहस को दुनिया भर को दिखा देने का है.