बिहार बोर्ड ने की हाईकोर्ट की अवमानना, छात्र को नहीं दिए ‘एक लाख रूपए’, 32 नंबर को 2 बताकर किया था फेल

Ulta Chasma Uc  :   बिहार बोर्ड की एक बड़ी धांधली सामने आ रही है जिसके आरोप में पटना हाईकोर्ट ने बिहार बोर्ड पर एक लाख का जुर्माना लगाया है. मामला 2017 में हुई इंटर की परीक्षा का है. अल्टरनेटिव अंग्रेजी में 32 नंबर मिलने पर स्क्रूटनी का फॉर्म डालने वाले सौरभ नाम के पास छात्र को सिर्फ दो नंबर बताकर फेल कर दिया गया.

patna high court fined one lakh to bihar board
02 नंबर देकर किया फेल

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सौरभ को 32 नंबर मिले थे. जिसपर उसको शक हुआ और उसने अल्टरनेटिव अंग्रेजी का स्क्रूटनी फॉर्म डाला, जिसके बाद अधिकारीयों ने अपना गुस्सा दिखाते हुए उसको सिर्फ 2 नंबर देकर फेल घोषित कर दिया. 32 नंबर की जगह 2 नंबर देख सौरभ ने आरटीआई के द्वारा अपनी कॉपी मंगवाई, लेकिन उसको कॉपी नहीं मिली कुछ दिन इंतज़ार करने के बाद उसको फिर से 32 नंबर देकर पास कर दिया. ये सब देखने के बाद सौरभ ने पटना हाईकोर्ट में केस फाइल कर दिया.

patna high court fined one lakh to bihar board
बिहार बोर्ड

पटना हाईकोर्ट के न्यायाधीश चक्रधारी शरण सिंह ने मामले को संज्ञान में लेते हुए बिहार बोर्ड की इस गलती पर सजा सुना दी. कोर्ट ने बोर्ड पर एक लाख का जुर्माना लगा दिया.

patna high court fined one lakh to bihar board
गलती मानने के बाद दिए 32 नंबर
बिहार बोर्ड ने दी अपनी सफाई

बिहार बोर्ड ने अपनी सफाई देते हुए कहा की ये लिपिकीय भूल थी. 3 दिख ही नहीं रहा था. फिर हमने तो गलती मानी और इसे सुधारा भी. पर पटना हाईकोर्ट ने सख़्त कार्यवाही करते हुए बोर्ड की दलीलों को सिरे से नकार दिया. अपना फैसला सुनाते हुए कहा कि ’यह अक्षम्य है. बोर्ड बहुत जिम्मेदार संस्था है. उससे ऐसी उम्मीद नहीं की जा सकती. ठीक है कि आपने गलती सुधारी लेकिन इसमें इतनी देरी क्यों की? ’आपकी गलती से सौरभ का एक साल बर्बाद हुआ. इसलिए उसको मुआवजा के तौर पर एक लाख रुपया दीजिए. पर अभी नवंबर 2018 चल रहा है और अभी तक बिहार बोर्ड ने कोर्ट के आदेश का पालन नहीं किया है. अगर बोर्ड ही अपनी मनमानी करते रहेंगे तो बच्चों के भविष्य का क्या होगा ?

patna high court fined one lakh to bihar board
पटना हाईकोर्ट
पहले भी हुई हैं अंदेखी

इससे पहले भी कई मामले बिहार बोर्ड के है. इसी साल हुई इंटर की परीक्षा में भी नंबरों की हेराफेरी की गई थी. अरवल जिले के भीम कुमार नामक छात्र ने बताया था कि उसे गणित के पेपर में 35 में से 38 नंबर मिले थे. रिजल्ट में गड़बड़ी को लेकर प्रदेशभर में विद्यार्थियों ने विरोध प्रदर्शन भी किया था.

Web Title :  patna high court fined one lakh to bihar board

HINDI NEWS से जुड़े अपडेट और व्यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ FACEBOOK और TWITTER हैंडल के अलावा GOOGLE+ पर जुड़ें.