पाकिस्तान से भारत लौटा ‘ग़दर’ का रियल हीरो, ‘प्रेमिका’ की इस ‘गलती’ से छह साल तक रहा क़ैद

Ulta Chasma Uc  :  ग़दर फिल्म में अभिनेत्री अमीषा पटेल (फ़िल्मी नाम शकीना) गलती से भारत में छूट जाती है. फिर भारत में सनी देवल से प्यार हो जाता है. बीच में अमरीश पुरी अपनी बेटी को पाकिस्तान ले जाते है. और सनी देवल उसे ढूंढते हुए अवैध रूप से पाकिस्तान पहुँचते हैं. फिर वहां क्या होता है आप सब जानते हैं. ठीक उसी तरह रियल लाइफ में भी ऐसा ही कुछ हुआ है.

pakistan released indian national hamid ansari
pakistan released indian national hamid ansari

ये बात है 2012 की मुंबई में रहने वाले भारतीय नागरिक हामिद निहाल अंसारी को फेसबुक पर एक पाकिस्तानी लड़की से प्यार हुआ. फिर क्या था मोहब्बत इतनी बढ़ गई की भाई बन गए सनी देवल और पहले अफगानिस्तान गए फिर वहां से अवैध रूप से पाकिस्तान का बॉर्डर पार कर घुस गए अपनी प्रेमिका से मिलने. पाकिस्तान पहुँच कर जब वे अपनी प्रेमिका से मिले तो मानों पूरा जहां मिल गया हो. उसकी प्रेमिका ने ही उसके रुकने का इंतजाम करवाया.

पकड़ लिए गए अंसारी

लेकिन ऊपर वाले को शायद ये मंज़ूर न था और फ़िल्मी हीरो की तरह उन्हें भी पाकिस्तानी खुफिया एजेंसियों ने एक जासूस समझ कर पकड़ लिया. वो इसलिए क्युकी उनके पास उनका पहचान पत्र मिला और वो था फर्जी बस गिरफ्तार हो गए हामिद निहाल अंसारी. उसके बाद फर्जी पहचान पत्र रखने के आरोप में पाकिस्तान ने उन्हें 15 दिसंबर 2015 को तीन साल कैद की सजा सुना दी. और इस तरह उनकी मोहब्बत वहीं अधूरी रह गई.

प्रेमिका से हुई गलती

पाकिस्तानी जांच में पता चला की जो पहचान पत्र हामिद के पास मिला है वो उसकी फेसबुक वाली गर्ल फ्रेंड ने ही भेजा था. इधर हामिद पाकिस्तान में अपनी मोहब्बत गवां बैठे और उधर हामिद के माता-पिता ने उनको बचाने के लिए पूरा जोर लगा दिया था. वे दिल्ली के पाकिस्तानी उच्चायोग के रोज़ चक्कर लगाने लगे. जिसके लिए उन्हें अपना पुश्तैनी घर बेचकर दिल्ली आना पड़ा. ताकि वे हर हफ्ते पाकिस्तानी उच्चायोग जाकर बेटे के केस के लिए गुहार लगा सकें. हामिद के पिता ने तो बैंक की नौकरी भी छोड़ दी थी.

6 साल बाद लौटे भारत

फिलहाल अब 2012 से लेकर 19 दिसंबर 2018 पूरे छः साल बाद हामिद निहाल अंसारी पाकिस्तान से रिहा कर दिए गए हैं. और वे अटारी बॉर्डर से भारत आये हैं. अटारी बॉर्डर पर हामिद को लेने के लिए उनके माता-पिता और भाई पहुंचे. हामिद की मां फौजिया मुंबई में एक कॉलेज की वाइस प्रिंसिपल हैं. हामिद का परिवार वर्सोवा मेट्रो स्टेशन के पास रहता है.

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने बताया कि ‘अंसारी को उसकी सजा पूरी होने के बाद रिहा किया जा रहा है और उसे भारत भेजा जा रहा है. इस पर भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया कि भारत चाहता है कि पाकिस्तान उन भारतीय नागरिकों और मछुआरों की मुश्किलों का भी अंत करे जिनकी राष्ट्रीयता की पुष्टि हो चुकी है और जो सजा पूरी करने के बावजूद पाकिस्तानी जेलों में बंद हैं.

web title- pakistan released indian national hamid ansari

HINDI NEWS से जुड़े अपडेट और व्यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ FACEBOOK और TWITTER हैंडल के अलावा GOOGLE+ पर जुड़ें.