वाघा बॉर्डर से आएगा भारत का लाल ‘अभिनंदन’, इस तरह पाकिस्तान को टेकने पड़े घुटने

आखिरकार पाकिस्तान को भारत के आगे घुटने टेकने पड़ गए. पाकिस्तान ने एक दिन पहले बुधवार को हुई वायु स्ट्राइक Air Strike के बाद एक भारतीय विंग कमांडर को गिरफ्तार कर लिया था. जिसे 48 घंटे बाद आज पाकिस्तान रिहा कर रहा है.

pakistan pm imran khan says wing commander abhinandan to be released
pakistan pm imran khan says wing commander abhinandan to be released

आज भारत का लाल विंग कमांडर अभिनंदन पाकिस्तान से भारत लौटने वाला है. गुरुवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने उनकी रिहाई का एलान किया था. इमरान खान ने कहा था कि वो भारतीय पायलट अभिनंदन को शुक्रवार को रिहा करेंगे. इतना ही नहीं इमरान ने ये भी कहा की हम दोनों मुल्क की शांति के लिए भारतीय कमांडर की रिहाई कर रहे हैं. हम जंग नहीं चाहते, मैं नरेंद्र मोदी से हर मुद्दे पर बात करना चाहता हूँ.

-----

विंग कमांडर अभिनंदन अटारी-वाघा बॉर्डर के रास्ते वतन लौट सकते हैं. अभिनंदन के माता पिता अपने बेटे को लेने घर से निकल चुके हैं वे जब चेन्नई से दिल्ली पहुंचे तो फ्लाइट में मौजूद सभी लोगों ने उनका ताली बजाकर स्वागत किया, उसके बाद दिल्ली से वो सीधा फ्लाइट से अमृतसर के लिए निकल गए. विंग कमांडर की वापसी के चलते वाघा बॉर्डर पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं. ख़बर है कि दोपहर करीब दो बजे विंग कमांडर अभिनंदन वतन वापस लौट रहे हैं.

बुधवार को भारतीय कमांडर के गिरफ़्तार होने के बाद भारत ने कई देशों के साथ मिलकर पाकिस्तान पर दबाव बना लिया था. भारत ने साफ़ कह दिया था की भारतीय कमांडर सुरक्षित चाहिए और जल्दी वापस दो, अगर उसे कुछ भी हुआ तो पाकिस्तान को भारी नुक्सान होगा. उसके बाद पाकिस्तान ने घुटने टेक दिए और अमन की बात करने लगा.

अमेरिका ने भी भारतीय वायुसेना के पायलट विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को भारत को सौंपने के पाकिस्तान के फैसले का स्वागत किया है. अमेरिकी विदेश मंत्रालय के एक प्रवक्ता ने कहा, “हम पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की इस प्रतिबद्धता का स्वागत करते हैं कि पाकिस्तान उसकी हिरासत में बंद भारतीय पायलट को शुक्रवार को रिहा करेगा.” हालांकि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने पहले ही अच्छे सन्देश देते हुए कह दिया था की भारत और पाकिस्तान के बीच अच्छी ख़बर आ रही है. जल्द ही दोनों देशो में चल रहा विवाद ख़त्म होने वाला है.