मुस्लिम पक्ष की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई..(Hearing in the supreme court on the petition of the Muslim side)

ज्ञानवापी मस्जिद में सर्वे को लेकर मुस्लिम पक्ष की तरफ से याचिका (Hearing in the supreme court on the petition of the Muslim side) दाखिल की गई थी..और अब सुप्रीम कोर्ट उस दाखिल की गई याचिका पर सुनवाई कर रहा है..अंजुमन इंतजामिया ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल की थी..जिसपर जस्टिस डी. वाई. चंद्रचूड़ की बेंच सुनवाई कर रहा है..अब मुस्लिम पक्ष वालों ने अपनी याचिका सुप्रीम कोर्ट में दाखिल की तो उस याचिका के खिलाफ हिन्दू सेना भी सुप्रीम कोर्ट पहुंच गयी..

मुस्लिम पक्ष के लोगों ने 1991 के प्लेसेस आफ वरशिप एक्ट की दलील दी है..जब कोर्ट में सुनवाई हो रही थी तो उस समय कोर्ट में हिन्दू सेना के वकील भी वहां पर थे..और तब कोर्ट ने उनसे पूछा कि आप किसकी तरफ हैं..तो कोर्ट के इस सवाल पर हिन्दू सेना के वकील ने कहा कि मैं हिन्दू सेना का वकील हूं..तब सुप्रीम कोर्ट ने हिन्दू सेना के वकील से कहा कि आप भी यहां पर रुकिए हमें आप की बातें सुननी है..

इसके बाद हिन्दू सेना के अध्यक्ष विष्णु गुप्ता ने मीडिया के साथ बात करते हुए कहते हैं कि सुप्रीम कोर्ट में मुस्लिम पक्ष की याचिका खारिज हो और मुस्लिम पक्ष वाराणसी कोर्ट के फैसले का सम्मान करें..

और हमारा पक्ष भी सुप्रीम कोर्ट (Hearing in the supreme court on the petition of the Muslim side) सुने..क्योंकि मुस्लिम पक्ष कोर्ट के फैसले में बाधा पहुंचाने की साजिश रच रहा है..वाराणसी में कानून के अनुसार काम चल रहा है..हमारा मानना है कि वहां कोई पूजा अधिनियम का उलंघन नहीं हो रहा है..क्योंकि वाराणसी में पूजा अधिनियम कानून लागू ही नहीं होता..

इस पूरे मामले को लेकर आॅल इंडिया पर्सनल लॅा बोर्ड ने एक बैठक बुलाई और आगे की रणनीति पर विचार किया जा रहा है..और इन सबके बाद असदुद्दीन ओवैसी ने भी मुस्लिम पक्ष को सुप्रीम कोर्ट (Hearing in the supreme court on the petition of the Muslim side) जाने की सलाह दी है..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *