बीजेपी सांसद ने कहा..महंगाई है ही नहीं ढूंढते रह जाओगे..

दोस्तों महंगाई को लेकर आर एल डी पार्टी के नेता जयंत चौधरी ने राज्यसभा में महंगाई पर सरकार (Jayant Chaudhary) को घेरा और क्या कहा ये सुनिए..

जयंत चौधरी ने महंगाई को कंट्रोल करने का फॉर्मूला बता दिया है..औऱ अगर उस फॅार्मूले पर काम किया जाए तो महंगाई कम हो सकती है..उन्होंने कहा – “देश में हर 2-3 महीने में हीं अगर (Jayant Chaudhary) चुनाव करा दिए जाए तो, फिर ये सरकार पेट्रोल-डीज़ल के दाम नहीं बढ़ने देगी”

जयंत चौधरी ने एक ट्वीट किया जिसमें उन्होंने कहा-किसी किसान ने आत्महत्या नहीं की।
महंगाई नहीं है!
कृषि क़ानून किसान के हित में थे।
क़ानून वापसी देशहित में थी।
किसान आंदोलन मोदी जी की देन है

अमृतकाल है!!!
मोदी जी को धन्यवाद दो!

राज्यसभा में महंगाई पर जयंत चौधरी ने सरकार को घेरा लेकिन महंगाई को लेकर विपक्ष के हमलों पर बीजेपी सांसद जयंत सिन्हा ने सदन में कहा कि महंगाई है ही नहीं..ढूंढते रह जाओगे..सिर्फ इतना ही नहीं जयंत सिन्हा ने तो यहां तक कह दिया कि आंकड़ों से नहीं गरीब की थाली तो वस्तुओं से भरी हुई है और उनसे ही गरीबों का पेट भरा जा रहाा है..वो मोदी सरकार (Jayant Chaudhary) भर रही है..ये वास्तविकता है जो आपको पसंद नहीं आई..आप महंगाई ढूंढ रहें हो लेकिन महंगाई मिल ही नहीं रही क्योंकि महंगाई मिल नहीं रही..

जयंत सिन्हा के ये कहने के बाद जयंत चौधरी ने कहा कि-सत्ता का सुख ले रहे कुछ भले आदमी दावा कर रहे हैं की महंगाई है ही नहीं….. आपका क्या मानना है?
दोस्तों आपको अगर महंगाई लगती है..तो कमेंट बॅाक्स में जरुर बताइए..और जिन्हें नहीं लगती वो भी कमेंट बॅाक्स में जरुर बताएं..

अब जैसे ही जयंत चौधरी ने ये ट्वीट किया तो उनके इस ट्वीट पर लोगों ने ट्वीट करना शुर कर दिया..
एक यूजर ने कहा कि-जयंत भाईसाहब
जो स्वयं काले शीशे के मोटरकार में घूम रहा हो उसे मंहगाई बेरोजगारी (Jayant Chaudhary) क्या ही दिखेगी।
1116 रुपये सिलेंडर भरवाया कुछ कर तो नही सकते पर बद्दुआ तो दे ही सकते है जिसकी जॉब न हो वह परिवार कैसे मैनेज करता होगा वही जाने..

एक दूसरे ने कहा कि-सत्ता के नशे में इतने चूर हैं ना महंगाई का पता, जनता हाहाकार (Jayant Chaudhary) कर रही है ना उसका पता। सिर्फ इसलिए कि जेब से तो कुछ खर्च करना पड़ता नहीं, आका आदेश कर देंगे गुर्गे घर भर देंगे..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *