मुलायम (Mulayam Singh Yadav) को नेताजी ऐसे ही नहीं कहते, संसद में जोश देखकर सब रह गए हैरान..

मुलायम सिंह यादव

नमस्कार दोस्तों मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) को यूं ही नेताजी नहीं कहते..मुलायम सिंह यादव का नाम नेताजी लोगों ने बहुत सोच समझकर रखा है..इसकी एक बानगी संसद में देखने को मिली दोस्तों हुआ ये कि नेताजी मुलायम सिंह यादव जैसे ही संसद पहुंचे..वहां 12 सांसद धरना दे रहे थे..मुलायम ने पूछा यहां क्यों बैठे हो भाई..चलो अंदर चलो..

सांसदों ने बताया कि नेताजी हमको बीजेपी सरकार में असंवैधानिक तरीके से संसद से निष्कासित कर दिया गया है इसलिए हम यहां धरना दे रहे हैं..पहले गांधी प्रतिमा के पास धरना दे रहे थे..बारिश की वजह से यहां सीढ़ियों पर बैठकर धरना दे रहे हैं..मुलायम सिंह यादव के भीतर का लीडर जाग उठा मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) ने तुरंत कहा..लाओ मुझे लिखकर दो..मैं देखता हूं कैसे को निष्कासित कर सकता है..चलो लिखकर दो.. मुलायम सिंह यादव का इस उम्र में उनके ये तेवर जिसने भी देखे वे हैरान रह गया..

दोस्तों मुलायम सिंह यादव अब बुजुर्ग हो गए हैं..संसद व्हील चेयर पर आते हैं..ज्यादा दूर चलने में थक जाते हैं..लेकिन उनके भीतर का नेता..अब भी उतने ही जोश में है..अपने जन्मदिन पर मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) ने कम से कम 2 हजार लोगों के साथ सिंगल सिंगल फ्रेम में फोटो खिंचवाए हैं..इस इस उम्र में भी मुलायम सिंह यादव किसी को निराश नहीं करते..सबने कहा कोविड काल है नेताजी जन्मदिन पर किसी से पर्सनली नहीं मिलेंगे नेताजी ने कहा..कार्यकर्ता हैं मिलना चाहते हैं फोटो खिचाना चाहते हैं..तो हम फोटो जरूर खिचाएंगे..दोस्तो वीडियो के बारे में अपनी राय कमेंट करके जरूर बताईये..

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *