कोरोना से लोगों को प्राइवेट में मरना चाहिए था..फालतू बदनामी हो गई : संपादकीय व्यंग्य

Pragya Ka Panna Editorial
Pragya Ka Panna Editorial

लेव बदनामी हो गई..लाखों आदमी मर गया..लेकिन ये रोते घूम रहे कि इतकी बदनामी हो गई..लोग लाश बनकर गंगा में बहते रहे..इनका दर्द ये है कि इनकी बदनामी हो गई..श्मसानों में जगह नहीं थी लोग गंगा किनारे दफन हो गए…तमाम घर उजड़ गए बच्चे अनाथ हो गए..लेकिन ये परेशान केवल इसलिए थे कि इनकी बदनामी हो रही थी..

ऑक्सीजन के लिए लोग लाइन लगाए खड़े थे..अस्पतालों में जगह नहीं थी..दवाओं की कालाबाजारी हो रही थी..श्मसान आग उगल रहे थे..लेकिन इनको लगता था कि कुछ भी हो जाए लेकिन बदनामी ना हो..इनका बस नहीं चल रहा था वरना ये लोगों से कह देते कि भइया जरा प्राइवेट में मर लो..बाहर हमारी थोड़ी बदनामी हो रही है..

भाईलोगों ने बदनामी बचाने के लिए श्मसानों पर नोटिस लगा दी थी..भले ही ये भगवान से नहीं डरते हों..लेकिन बदनामी से डरते हैं..ऐसा लगता था जैसे भारत में लोगों ने मर मरकर इनको जबरन बदनाम कर दिया..मीडिया मरे को भी जिंदा बताए तब इनको खुशी होती है..जो सच दिखाए वो बदनाम गैंग का गुर्गा बता दिया जाता है..एक बात बहुत क्लियर कहती हूं..

-----

सुनिये मिस्टर जब आपकी सरकार नहीं थी तब भी हमारे महान भारत देश का नाम था अब भी है और आगे भी रहेगा लेकिन भारत की जितनी भद्द आपने पिटवाई है ना..उतनी किसी ने नहीं पिटवाई..जब भारत को वैक्सीन की जरूरत है तब वैक्सीन बनाने वाला पूनावाला डरकर लंदन भाग गया..कहा भारत में मुझे खतरा है तब बदनामी नहीं हुई..या वो डंका बजने के खाते में रखा जाए..

-----
                        आपदा में मदद के तौर पर केन्या जैसे गरीब देश ने भारत को मूंगफली चाय कॉफी वगैरह खाने पीने के लिए भेजा है..भारत को ये दिन दिखा दिया कि केन्या जैसा देश हमें राहत भेज रहा है..ये भी डंका बजने में गिना जाएगा कि हमारा डंका बज रहा था इसलिए गरीब अफ्रीकी देश ने हमको मूंगफली भेजी है...है ना...राष्ट्रवाद की नकली घुट्टी की शीशी से अंधभक्ति का लेवल उतारिए तब दिखाई देगा कि आपके कर्मों की सजा भारत ने भोगी है. और उससे निकली आह को अखबारों ने छापा..सत्य के सामने आने को आप बदनामी कहते हैं..

आप कहिए जो अखबरों ने छापा है ..जो विदेशी मीडिया ने छापा है वो सब झूठ है..अगर सच छापा है तो बदनामी कैसी..और अगर सड़क बनाने वाले ठेकेदार ने दो कौड़ी की सड़क बनाई..जिस पर गिर गिरकर लोगों की मौतें होती हों उससे देश की नहीं ठेकेदार की बदनामी होती है..

PWD उसे अगला टेंडर नहीं देता..उसी तरह से देश है..अगर एक पार्टी की सरकार नाकाम साबित हुई तो उससे महान भारत देश की बदनामी नहीं होती..उस पार्टी की सरकार की नाकामी दिखाई देती है..जिसने देश को बदनामी की दशा तक पहुंचा दिया हो.

बताईये पोस्टर लगाने से बदनामी हो गई.. किसी ने लिखकर पूछ लिया कि भाई ये बताओ हमारे बच्चों की वैक्सीन विदेश क्यों भेज दिया तो बदनामी हो गई..इन्हीं का नाम है बाकी तो तब काना भाटा खकर पैदा हुए थे उनका कुछ है ही नहीं..एक एक आदमी की मौत की जिम्मेदार देश की सरकार है..इसमें किसी को कोई डाउट नहीं होना चाहिए…

जो खुद बदनामी बदनामी चिल्लाते हैं वो दूसरों की बदनामी का जाल बिछाते हैं..ये कह रही हैं ममता बनर्जी.. ममता ने कहा कि प्रधानमंत्री बैठक में मुझे बुलाया गया था मैं गई थी और प्रधानमंत्री परमीशन से आई थी..लेकिन बाद में खाली कुर्सियों की फोटो डाल दी..क्यों क्योंकि बंगाल की और बंगाल की मुख्यमंत्री की बदनामी हो जाए..ममता बनर्जी का कहना है कि बंगाल के भले के लिए अगर प्रधानमंत्री के पैर भी छूने पड़ें तो वो छू लेंगी

लेकिन प्रधानमंत्री बंगाल को और बंगाल की मुख्यमंत्री को बदनाम ना करें..वैसे इससे भी देश की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बदनामी हो सकती है कि भारत के प्रधानमंत्री जी की बुलाई बैठक में उनके ही देश की मुख्यमंत्री नहीं आतीं जैसे गुजरात का सीएम रहते हुए मोदी जी तब के प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की बैठक में ना जाकर करते थे…वैसे खाली कुर्सी दिखाने से बदनामी होती है लेकिन ये बदनामी प्रधानमंत्री वाले बीजेपी खेमे को सूट करती है..इस बदनामी से सहानुभूति मिलती है..इसलिए ये वाली बदनामी अच्छी है..चलते हैं राम राम दुआ सला..

-----

दोस्तों और लेख के लिए आप हमारी वेबसाइट ULTACHASMAUC.COM पर आकर लेख, रिसर्च रिपोर्ट और संपादकीय व्यंग्य पढ़ सकते हैं..यहां कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं..दोस्तों इन दिनों मेरी वेबसाइट वाली और यूट्यूब फेसबुक वाली टीम के बीच तगड़ा कॉम्पटीशन चल रहा है..यूट्यूब और फेसबुक तो आप प्यार बरसाते ही हैं..

लेकिन वेबसाइट सूखाग्रस्त है..इसीलिए वेबसाइट वाली टीम अलग से मेहनत करके एक एक कमेंट मुझे दिखाती है..वहां मुझसे आपके सवालों के जवाब जरूर लिए जाते हैं…दोस्तों मुझे ट्विटर पर फॉलो जरूर करिए.. जिससे मैं सरकार और उनके पत्रकार दोनों से बराबरी के लेवल पर आकर बात कर सकूं..मेरी ट्विटर आडी है @PRAGYALIVE बाकी जितने लोग यूट्यूब और फेसबुक पर वीडियो देखते हैं..

वो सब्सक्राइब जरूर करें..जिससे आपको मेरे वीडियो बिना खोजे मिलते रहेंगे..आप वीडियो देख तो लेते हैं लेकिन सब्सक्राइब करना भूल जाते हैं..जैसे आप मुझे नहीं भूलते वैसे ही सब्सक्राइब करना भी मत भूलिए..बिल्कुल फ्री है भईया..चलते हैं राम राम दुआ सलाम जय हिंद..

सवाल- ममता बनर्जी कौन हैं ? Question- Who is Mamta Banerjee?

जवाब- ममता बनर्जी बंगाल की मुख्यमंत्री हैं Answer- Mamta Banerjee is the Chief Minister of Bengal

सवाल- नरेंद्र मोदी कौन हैं ? Question- Who is Narendra Modi?

जवाब – नरेंद्र मोदी भारत के प्रधानमंत्री हैं Answer – Narendra Modi is the Prime Minister of India.

सवाल- क्या भारत के प्रधानमंत्री की मीटिंग में ममता बनर्जी नहीं आती हैं ? Question- Does Mamata Banerjee not attend the meeting of the Prime Minister of India?

जवाब- नरेंद्र मोदी और ममता बनर्जी के बीच मनमुटाव है जिसकी वजह से दोनों के बीच दूरी है Answer- There is a conflict between Narendra Modi and Mamta Banerjee, due to which the distance between the two

सवाल- क्या भारत देश की कोरोना के मामले में बदनामी हुई है ? Question- Has the Indian country become infamous in the case of Corona?

जवाब- नहीं हमारे भारत देश की बदनामी नहीं हुई है. भारत देश की सरकार कोरोना को कंट्रोल करने में कमजोर रही. देश की नहीं सरकार को आलोचना झेलनी पड़ी Answer- No, our country of India has not been defamed. The Indian government was weak in controlling Corona. The government, not the country, had to face criticism

सवाल- क्या भारत के बारे में विदेशी मीडिया ने गलत जानकारी छापी Question- Did foreign media print wrong information about India?

जवाब- विदेशी मीडिया ने भारत में कोरोनी की वास्तविक स्थिति अपने अखबारों में छापी Answer- Foreign media published the real situation of Coroni in India in their newspapers

डिस्क्लेमर : इस आलेख में व्यक्त किए गए विचार लेखक के निजी विचार हैं. इस आलेख में दी गई किसी भी सूचना की सटीकता, संपूर्णता, व्यावहारिकता अथवा सच्चाई के प्रति Ulta Chasma Uc.Com उत्तरदायी नहीं है. इस आलेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई हैं. इस आलेख में दी गई कोई भी सूचना अथवा तथ्य अथवा व्यक्त किए गए विचार Ulta Chasma Uc.Com के नहीं हैं, तथा Ulta Chasma Uc.Com उनके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी नहीं है.

118 thoughts on “कोरोना से लोगों को प्राइवेट में मरना चाहिए था..फालतू बदनामी हो गई : संपादकीय व्यंग्य

  • May 30, 2021 at 5:41 pm
    Permalink

    प्रज्ञा जी जय हिंद उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने 2020 21 और 22 में नियम बना दिया है जो लोग डिप्लोमा पॉलिटेक्निक डी फार्मा B.Ed आदि कर रहे हैं उनके छात्रवृत्ति नहीं दी जाएगी उसमें कंडीशन लगा दी गई है कि संबंधित कॉलेज को एनबीए या नेक द्वारा ग्रेडिंग प्राप्त हो तब सामान्य एवं अनुसूचित जाति के छात्रों को छात्रवृत्ति देंगे इससे पूरे उत्तर प्रदेश में बहुत छात्र आहत हुए और वंचित रह गए हैं कृपया इस पर भी वीडियो बनाएं

    Reply
    • May 30, 2021 at 6:01 pm
      Permalink

      जुगन सिंह जी आपकी समस्या जरूर उठाई जाएगी

      Reply
      • May 30, 2021 at 7:11 pm
        Permalink

        Greetings
        pragya /जी

        मैं अपने कुछ विचारों को आपसे साझा करना चाहता हूं! हमारे यहां शिक्षा का स्तर सिर्फ किताबों तक ही है! धरातल पर इसका कोई विशेष लाभ नहीं होता
        क्या ऐसा नहीं हो सकता की पांचवी के बाद सभी विद्यार्थियों को कोई भी ऐसा विषय लेना अनिवार्य हो जिससे कि विद्यार्थी का भविष्य उज्जवल हो सके!

        उदाहरण के तौर पर
        सपोर्ट, सिंगिग ,आर्ट ,मशीनरी टेक्नोलॉजी ,बेसिक इलेक्ट्रॉनिक इत्यादि ! और समय-समय पर संस्थानों में ले जाकर प्रशिक्षण देते रहे!

        लाभ
        विद्यार्थियों को अपनी आजीविका चलाने में लाभ होगा और वो किसी पर निर्भर नहीं रहेंगे ! जिससे कि बेरोजगारी भी कम होगी और सरकार की जो मूल समस्या है रोजगार वह भी कम होगी!

        Regards
        Faheem khan

        Reply
        • May 31, 2021 at 4:03 pm
          Permalink

          आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

          Reply
          • May 31, 2021 at 8:30 pm
            Permalink

            नमस्ते प्रज्ञा दीदी मैने लाइव यूट्यूब पर आपको 100 से ज्यादा कॉमेंट किए लेकिन आपके ज्यादा कॉमेंट के कारण आप शायद जवान नहीं दे पाई ,मेरा जवाब था कि आपकी माताजी अब कैसी है ,उनकी तबियत ठीक है ? मुझे आप जैसा ही बनना है पर मेरे। पास स्त्रोत नहीं कि को8 मेरी सहायता कर सके ,प्लीज़ अगर आप चाहे तो मुझसे एफबी ,insta या ईमेल पर बात कर सकती है मुझे बहुत खुशी होगी ,आपको देखकर मुझे जुनून आता है कि मैं ऐसे ही करूं बस क्या करूं मुझे कोई सहायता नहीं करता आपकी अति

          • June 1, 2021 at 2:25 pm
            Permalink

            thanks for supporting 🙂 meri maa ab theek hain apko logo ki dua kaam ai.. आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

          • June 1, 2021 at 6:59 am
            Permalink

            प्रज्ञा जी आपसे निवेदन है आप एक विडियो उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती के सम्बन्ध में बनाये l जो 2015 ,2018(A), 2018(B) में हुयी जो भर्ती तो की गयी लेकिन अभ्यर्थियों का बिना मेडिकल कराये फाइनल रिजल्ट घोषित कर दिया गया उसके बाद मेडिकल परीक्षण में हजारो अभ्यर्थी फेल व अनुपस्थित रहे जिससे हजारो की संख्या मे पद रिक्त रह गये, जो बोर्ड द्वारा दोबारा नही भरे गये 2015 मे 3500+ तथा 2018(A) पुलिस भर्ती में 5200+ तथा 2018(B) मे भी 7000+ पद रिक्त रहने की सम्भावना है आप से निवेदन है कि आप वीडियो बनाकर सरकार को चेताये जिससे हजारों अभ्यर्थियो का भविष्य उज्ज्वल हो आपकी महान कृपा होगी l

          • June 1, 2021 at 2:12 pm
            Permalink

            noted,आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

          • June 1, 2021 at 4:47 pm
            Permalink

            प्रज्ञा जी लगातार आप सब के मुद्दे उठाती हैं क्या हम लोगों के लिए आप आवाज नहीं बन सकती,योगी जी तक हमारी आवाज़ नहीं पहुंचा सकती ,उत्तर प्रदेश में प्राथमिक ( बेसिक) में शिक्षक भर्ती के लिए हम लोग लगातार प्रयास करके थक चुके हैं जबकि 1.5 लाख पद खाली है,आत्महत्या जैसे खयाल आते है अब तो

          • June 1, 2021 at 7:18 pm
            Permalink

            noted 🙂 आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

          • June 1, 2021 at 7:53 pm
            Permalink

            प्रज्ञा जी आपसे अनुरोध है कि बिकरु कांड में जिस बेकसूर खुसी दुबे की प्रकरण को उजागर करे।क्या कसूर है उस 3 दिन की दुल्हन का जो निकम्मी सरकार की नाकामियो को छिपाने के लिए उसकी हत्या करने का प्रयास जारी है।उसकी हालत बेहद नाजुक है ।कृपया उस खबर को दिखाए वो बिन मौत मार जाएगी।

          • June 1, 2021 at 10:06 pm
            Permalink

            भइया बहुत उजागर किया..

          • June 4, 2021 at 8:18 am
            Permalink

            Super hai

      • May 30, 2021 at 9:13 pm
        Permalink

        प्रज्ञा जी आपकी पत्रकारिता उल्लेखनीय है सरकार के विपक्ष में बोलना अपने आप मे एक बड़ी बात है।
        मैडम एक विभाग है कौशल विकास मंत्रालय जिसे आप अनपढों का मंत्रालय कह सकती है। इसने इतिहास में जो भी नियम बनाये कुछ न कुछ गलत और ऐसे बनाये जैसे किसी दुसरे गोला के आदमी के लिए बनाए हो। बहर हाल इसी विभाग के अंतर्गत आई टी आई भी आता है ए तो बिना पेंदी के लोटा है समझ मे ही नही आता है ये लोग आई टी आई चलाते है है भैंस का तबेला। मुझे अपनी जिंदगी में शायद ही विश्वास हो कि ये विभाग कभी सुधार सकता है। आज मैं आपको लिखते समय सोच रहा हु की क्या लिखूं क्या छोड़ दु सभी काम तो गड़बड़ है। आई टी आई 99% छात्र नकल करके पास होते है एक भी कालेज में क्लास 2019 के बाद नही चली है उसी आनन फानन में DGT ने निर्णय लिया कि पेपर ऑनलाइन होगा सभी प्राइवेट आईटीआई वाले विरोध करने लगे उसी में इस विभाग ने पेपर करने तरीके ऐसे बनाये थे कि सुन के हसी आएगी 1 घंटे पहले एडमिट कार्ड मिलता था और सेंटर का पता चलता था। ऐसे बहुत से कारनामे है जो आपको बताने है। कई सरकारी आईटीआई एक टीचर के भरोसे पे चलती है।

        Reply
        • May 31, 2021 at 4:00 pm
          Permalink

          साजिद जी आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

          Reply
      • May 30, 2021 at 9:28 pm
        Permalink

        @Pragya Mishra ji, I’m Mastan Malik from Delhi. I’m your biggest fan of u. I’m biggest fan of your honesty, your a such true journalism, my Question is.. why Patna’s teacher Khan sir announce his true name, ??

        Reply
        • May 31, 2021 at 3:57 pm
          Permalink

          ये तो वो ही बता सकते हैं मस्तान जी

          Reply
      • May 31, 2021 at 11:23 pm
        Permalink

        Mam.. first of all Hat’s Off to You meri pyari DD @ PragyaMishra ji.. Dd i am really very proud that in the age of Andhbhakti you are one of the best journalists that reveals the actual views and policies of the currupt govt..
        Dd plz do raise an issue for private education, competition exams and for jobs..

        Dd i have been preparing for competitive exams for 3 years but no jobs are awailable. I have also the burden of my family now. We are small farmers . Father can no longer bear expanses in such covid situations 🙏🙏

        Reply
        • June 1, 2021 at 2:17 pm
          Permalink

          noted your issue, आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

          Reply
    • May 30, 2021 at 6:30 pm
      Permalink

      Apke Aawaz me dum hai ,
      Apki patrakarita ko salam.
      Aur Sachchai Dikhane k liye thank you .
      Logo ko aapke is sampadan ko padna chahiye.
      And …..
      I can say very confidently that you are the original mirror of democracy and journalism.
      Other journalist should learn from this truethnes, bravery and journalism which you do.
      Thank you

      Reply
      • May 31, 2021 at 4:04 pm
        Permalink

        आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

        Reply
    • May 31, 2021 at 2:07 pm
      Permalink

      लोग मरें तो मरें तो सरकार का क्या जाता है। सरकार बेवजह बदनामी से डर रही है । सरकार ये भूल गई है कि बदनामी तो उसकी होती है जिसकी कोई इज्जत हो । इतना सब होने के बाद इस सरकार की क्या बदनामी
      होगी? जो पहले से ही बदनाम है ।

      Reply
      • May 31, 2021 at 3:44 pm
        Permalink

        विक्रम जी आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

        Reply
      • May 31, 2021 at 3:53 pm
        Permalink

        आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

        Reply
    • May 31, 2021 at 7:55 pm
      Permalink

      Jha pr UAPA laga kar har journalist ko jail me dal dete hai, aisi jagah pr aap itna aggressive reporting karti hai, aapko dar ni lgta ?

      Reply
      • June 1, 2021 at 2:44 pm
        Permalink

        jo satya ke rah par chlaten hain unhen dar kaisa, आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

        Reply
    • June 5, 2021 at 10:03 am
      Permalink

      प्रज्ञा जी आपसे निवेदन है आप एक विडियो उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती के सम्बन्ध में बनाये l जो 2015 ,2018(A), 2018(B) में हुयी जो भर्ती तो की गयी लेकिन अभ्यर्थियों का बिना मेडिकल कराये फाइनल रिजल्ट घोषित कर दिया गया उसके बाद मेडिकल परीक्षण में हजारो अभ्यर्थी फेल व अनुपस्थित रहे जिससे हजारो की संख्या मे पद रिक्त रह गये, जो बोर्ड द्वारा दोबारा नही भरे गये 2015 मे 3500+ तथा 2018(A) पुलिस भर्ती में 5200+ तथा 2018(B) मे भी 7000+ पद रिक्त रहने की सम्भावना है आप से निवेदन है कि आप वीडियो बनाकर सरकार को चेताये जिससे हजारों अभ्यर्थियो का भविष्य उज्ज्वल हो आपकी महान कृपा होगी l

      Reply
      • June 5, 2021 at 6:18 pm
        Permalink

        sure, noted आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

        Reply
  • May 30, 2021 at 6:13 pm
    Permalink

    प्रज्ञा जी आपकी हर एक वीडियो देखी, लेख पढ़ें… सच के लिए आपका अंदाज़े-बयां बहुत पसंद है…

    आशा है आप किसी लेख या वीडियो में गुजरात की भी बात करेंगी…

    Reply
  • May 30, 2021 at 6:48 pm
    Permalink

    Mam ek bat btay jo vacation lgayi ja rhi h kya vo shi h muje lg rha h k us vacation ko lgwa k log jada mar rhe h

    Reply
    • May 31, 2021 at 4:04 pm
      Permalink

      आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

      Reply
      • May 31, 2021 at 9:19 pm
        Permalink

        Mam par is par ek video jrur bnana plz taki hme pta lg ske ye vacation hmare liye shi h ya nhi or logo ko bhi pta lg jaye or mam me ek pryvet company me job krta hu or jo boss log h unhone kha k vacation lgwani jruri h or hm dar k mare lgwa nhi rhe

        Reply
  • May 30, 2021 at 8:13 pm
    Permalink

    Mam I’m worried that BJP will become dictator nd we will live under threat.
    What’s ur view on that
    Btw I’m ur huge fab

    Reply
  • May 30, 2021 at 8:29 pm
    Permalink

    मैम आप का बहुत बहुत आभार। आप के निडर व सच्ची पत्रकारिता को सलाम 🙏🙏

    Reply
    • May 31, 2021 at 4:02 pm
      Permalink

      आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

      Reply
  • May 30, 2021 at 8:35 pm
    Permalink

    Jis needarta se aap sach baat kaheti ho woh sab baat kai log samaj rahe hai, parantu, khoolkar bolke ne ki himmat jootana bahot mushkil hai. Himmat nahi joota paane walo mein shaayad mera naam sabse upar ho shakta hai. Abhi itni taakat to aa her gayi hai ke ek Ladki agar itna dam rakh shakti hai to ees Ladki (Pragya Mishra) ko khoolkar Support jarur karna chahiye Aur Aaj ki Indian Government ke decision makers ko unki galatiya batani hee chahiye.
    Keep it Pragya Mishra.

    Reply
    • May 31, 2021 at 4:02 pm
      Permalink

      आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

      Reply
  • May 30, 2021 at 8:45 pm
    Permalink

    बहुत सुंदर लेख है

    Reply
    • May 31, 2021 at 4:01 pm
      Permalink

      साजिद जी आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

      Reply
  • May 30, 2021 at 9:08 pm
    Permalink

    Main andh bhakt nehi hoon . mera chawal news
    dete wakht patrakar ko apni anubhab batana kitni wazib hai. News ko wesehi diya ja Sakta hai kiya, jeshe ki woh hain.

    Reply
    • May 31, 2021 at 4:00 pm
      Permalink

      साजिद जी आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

      Reply
  • May 30, 2021 at 9:27 pm
    Permalink

    iss bar up election mein kon jeet sakta hai BJP ya sp

    Reply
    • May 31, 2021 at 3:58 pm
      Permalink

      आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

      Reply
  • May 30, 2021 at 10:02 pm
    Permalink

    सिस्टर आप जैसे ही पत्रकार की जरूरत है हमारे भारत देश में आपको दिल से सैल्यूट

    Reply
    • May 31, 2021 at 3:56 pm
      Permalink

      आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

      Reply
  • May 30, 2021 at 11:46 pm
    Permalink

    Good evening,
    Your style of journilism is aggrassuve are you worry ? for future concern about this .
    Keep it as natural journalism।

    Reply
    • May 31, 2021 at 3:55 pm
      Permalink

      आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

      Reply
  • May 31, 2021 at 1:29 am
    Permalink

    प्रज्ञा दीदी प्रणाम🙏,,,, मैं उत्तर प्रदेश दरोगा भर्ती 2016 का चयनित अभ्यर्थी हू दीदी इस भर्ती में कुल विज्ञापित पद 3307 थे जिसमें अंतिम रूप से 2486 लोगों का चयन हुआ जिसमें महिला और पुरुष दोनों शामिल थे,,,,,,,,, जून 2019 में हम सभी लोगों को प्रशिक्षण में बुलाया गया अलग-अलग प्रशिक्षण केंद्रों पर इसी बीच कुछ अचयनित अभ्यर्थी रिजल्ट को लेकर हाईकोर्ट में चले गये* *जिसमें हाई कोर्ट ने रिजल्ट को रिवाइज करने का आदेश दिया इस बात को लेकर हम सभी चयनित अभ्यर्थी और सरकार सुप्रीम कोर्ट में एसएलपी दायर कि जिसमें सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि आप प्रशिक्षण पूरा करा लीजिए नियुक्ति नहीं दे सकते,,,,, 1 साल के कठिन प्रशिक्षण के उपरांत जून 2020 में सरकार के द्वारा हम लोग को घर भेज दिया गया यह बोलकर की सुप्रीम कोर्ट में आपका मामला लंबित है इसलिए अभी आप को नियुक्ति नहीं दी जा सकती,,,,,,,,,, वर्तमान मैं 2486 अभ्यर्थी जिस पीड़ा से गुजर रहे हैं आपका ध्यान आकर्षित कराना चाहूंगा 1- विगत 1 वर्ष से हम सभी चयनित प्रशिक्षु प्रशिक्षण के उपरांत भी घर पर बेरोजगार बैठर सामाजिक आर्थिक मानसिक सभी प्रकार की प्रताड़ना झेल रहे हैं जो बहुत ही असहनीय है,,,,,,, 2- प्रशिक्षण में मात्र ₹3500 मानदेय भत्ता दिया जाता था जबकि खर्च प्रत्येक महीने 10000 से ₹12000 थे जिसकी वजह से प्रत्येक अभ्यर्थी कर्ज में डूब गया है,,,,,,,। 3- 2486 में लगभग 1000 लोग पहले भी नौकरी कर रहे थे जिनकी नौकरी भी वह छूट गई इस भर्ती के चक्कर में,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,4 – समाज के द्वारा अलग-अलग नामों से नवाजा जा रहा है जैसे फर्जी दरोगा,,, डॉक्यूमेंट फर्जी थे ,,आदि अनेक अनेक उपाधियों से नवाजा जा रहा है,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,, 5-प्रशिक्षण के दौरान हम सभी प्रशिक्षुओं से वीआईपी ड्यूटी ,,,,कोरोना ड्यूटी,,,, एन आर सी सी ए ए प्रोटेस्ट ड्यूटी भी कराई गई है फिर भी हम लोग बेरोजगार घर बैठे हैं 6- इस पीड़ा के दौर में जो सबसे बड़ी पीड़ा मिली वह यह कि हम अपने बीच के एक प्रशिक्षित दरोगा को खो दिये जिसकी पिछले महीने 30 अप्रैल को शादी हुई थी अब उसको कोई भी लाभ नहीं मिलने वाला है,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,, वर्तमान समय में हम लोग का आर्डर 5 फरवरी 2021 से सुप्रीम कोर्ट में रिजर्व पड़ा हुआ है,,,,,,,,,,,,, आपसे हाथ जोड़कर 🙏🙏2486 लोगों की तरफ से बस यही विनती है कि आप अपने माध्यम से हम लोगों की पीड़ा😢😢 को सरकार के समक्ष रखें ताकि सरकार ऑर्डर डिलीवर करा कर हम लोग को नियुक्ति दे हम लोगों की पीड़ा को समझने की कोशिश करें बहुत ही असहनीय दौर से हम लोग गुजर रहे हैं,,,,,,,*

    Reply
    • May 31, 2021 at 1:50 am
      Permalink

      *प्रणाम प्रज्ञा दीदी🙏 ,,,,,,,,,, मेरा नाम पप्पु कुमार मैं मूल रूप से जनपद वैशाली बिहार का मूल निवासी हूं,,,,,,,,, और एक मध्यमवर्गीय परिवार से आता हूं,,,,,,,,,,,,,,,,,,,दीदी वर्ष जून 2016 में उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 3307 दरोगा की भर्ती निकाली जाती है,,,,,,,, लगभग 18 महीने बाद दिसंबर 2017 में इसकी लिखित परीक्षा संपन्न कराई जाती जिसमें लगभग 6 लाख अभ्यर्थी शामिल होते हैं,,,,,, लगभग 6 महीने बाद जुलाई 2018 में सफल अभ्यर्थियों की दौड़ कराई जाती है जिसमें लगभग 11500 अभ्यर्थी शामिल होते हैं जिसमें 6500 अभ्यर्थीथी दौड़ क्लियर कर पाते हैं,,,,,, फिर लगभग 6 महीने बाद 28 फरवरी 2019 को अंतिम चयन परिणाम आता है जिसमें 2486 लोगों को अंतिम रूप से सफल घोषित किया जाता है,,,,,,,,, दीदीजी जो संख्या फॉर्म भरते वक्त लगभग 6 लाख थी उसमें मात्र 2486 लोग सफल होते हैं लगभग 0.414%रिजल्ट बनता है,,,,,, इससे आप कंपटीशन का लेवल समझ सकते हैं,,,,,, इतना होने के बाद अप्रैल में सफल अभ्यर्थियों का मेडिकल परीक्षण कराकर,,,,, जून 2019 मे उत्तर प्रदेश के अलग-अलग प्रशिक्षण केंद्रों पर सभी सफल अभ्यर्थियों को प्रशिक्षण के लिए बुलाया जाता है,,,,,,,,,,,,मतलब जो भर्ती जून 2016 में शुरू हुई थी वह जून 2019 संपन्न हुई और अंतिम रूप से सफल अभ्यर्थी अपने मन में एक उत्साह लिए समाज व देश की सेवा का संकल्प लेकर प्रशिक्षण केंद्र पहुंचते हैं,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,, इस भर्ती में अब एक नया मोड़ आता है कुछ असफल अभ्यर्थियों के द्वारा रिजल्ट को लेकर हाईकोर्ट में एक रिट दाखिल की जाती है जो अक्सर यूपी के हर भर्ती में होता है,,,,,,,, सरकार के ढुलमुल पैरवी की वजह से सरकार हाईकोर्ट में केस हार जाती है और हाई कोर्ट के द्वारा आदेश दिया जाता है कि रिजल्ट को दोबारा बनाया जाए,,,,,,,, अब इसको लेकर सरकार और सफल अभ्यर्थी जो प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे थे दोनों लोग सुप्रीम कोर्ट पहुंच जाते हैं सुप्रीम कोर्ट के द्वारा कहा जाता है कि आप प्रशिक्षण पूरा करा लीजिए लेकिन इनको नियुक्ति नहीं दे सकते जब तक मामले को पूरा सुन न लिया जाये,,,सुप्रीम कोर्ट के इस दिशा निर्देश के अनुसार प्रशिक्षण अनवरत चलता रहा और जून 2020 में प्रशिक्षण पूरा हो जाता है सभी अभ्यर्थियों का। जून 2020 में हम लोगों को यह करके कह कर घर भेज दिया जाता है कि अभी आपका मामला सुप्रीम कोर्ट में लंबित है इसलिए आपको नियुक्ति नहीं दी जा सकती और सभी लोग अपने अपने गृह जनपद को चले जाएं अब बात आती है उन 2486 सफल अभ्यर्थियों की जो 0.41% थे उनको 12 महीने कठिन शिक्षण के उपरांत क्या प्राप्त हुआ👇👇👇👇👇👇👇1-पूरी वेतन का आदेश होने के बावजूद मात्र रु3500प्रति माह का गुजरा भत्ता पर ट्रेनिंग करने वालों में 85% लोग दो से ढाई लाख रुपए कर्ज में चले गए क्योंकि ट्रेनिंग में प्रत्येक माह का खर्चा 10 से 15हजार था जबकि मात्र ₹3500 मानदेय भत्ता मिलता थ,,,,,,,2-लगभग 24 86 लोगों में 1हजार लोग अपनी पुरानी नौकरी छोड़ कर आए थे जिसमें मैं भी शामिल था उन सभी लोगों की वह नौकरी भी चली गई 3-प्रशिक्षण करने के बावजूद 10 महीनों से घर बैठे होने की वजह से समाज के द्वारा अलग-अलग उपाधियों से नवाजा जा रहा है जैसे फर्जी दरोगा,, डॉक्यूमेंट फर्जी थी,,, चले थे दरोगा बनने और बहुत कुछ उपाधियां दी जा रही है जो अक्सर हमारे पूर्वांचल में होता है 4- समाज के द्वारा मिल रही इस प्रताड़ना की वजह से प्रत्येक अभ्यर्थी अवशाद के पथ पर अग्रसर हो रहा है वह अपनी पीड़ा किसी से नहीं कह पा रहा है 5- सबसे बड़ा नुकसान जो हुआ इस बैच के लिए वह यह हम ही लोग के साथ प्रशिक्षु दरोगा शशांक चौधरी जो मूल रूप से मेरठ का रहने वाला था करोना से अपनी जिंदगी हार गया सबसे दुख की बात यह है कि उसकी पिछले महीने 30 अप्रैल को शादी हुई थी वह अपने सपनों को अधूरा छोड़ कर चला गई,,,,,,,,,,,,,,,,,,,, दीदी सब्र का बांध टूट रहा है कोई हम लोग का सुनने वाला नहीं है** आपसे 2486 लोगों की तरफ से हाथ🙏🙏🙏 जोड़ कर विनती है हम लोग की बात किसी भी माध्यम से सरकार तक पहुंचाएं और जो हम लोगों का सुप्रीम कोर्ट में केस चल रहा था उसका आर्डर 5 फरवरी 2021 से रिजर्व पड़ा हुआ है सरकार उस आर्डर को डिलीवर करा कर हम सभी प्रशिक्षु दारोगा को नियुक्ति दे,,,,,,,,,,,,,,,। आपसे बहुत उम्मीद है क्योंकि आप हर मुद्दे को सरकार के समझ बहुत ही सही तरीके से रखते हैं मैंन यूट्यूब पर बहुत सारे वीडियो आपके देखे हैं और आपका मैं व्यक्तिगत रूप से बहुत बड़ा फैन हूं*

      Reply
      • May 31, 2021 at 3:49 pm
        Permalink

        लाइव सेशन के दौरान आपकी बात जरूर उठाऊंगी

        Reply
      • June 1, 2021 at 1:14 pm
        Permalink

        Maine socha tha ki app mera comment dekhoge par nehin Sorry comment karne ke liye our reply deneke liye main our kabhi apko youtube channel ya kahin bhi comment nehin karunga
        Maaf karna Sister…

        Reply
        • June 1, 2021 at 2:08 pm
          Permalink

          dekh liya mitra, आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

          Reply
    • May 31, 2021 at 3:52 pm
      Permalink

      आपकी आवाज जरूर उठाई जाएगी आज ही लाइव करूंगी

      Reply
  • May 31, 2021 at 1:33 am
    Permalink

    प्रज्ञा दीदी आपसे यूपी दरोगा भर्ती 2016 के सभी ट्रेंनिग दरोगा 2486 लोगों की तरफ से हाथ🙏🙏🙏 जोड़ कर विनती है हम लोग की बात किसी भी माध्यम से सरकार तक पहुंचाएं और जो हम लोगों का सुप्रीम कोर्ट में केस चल रहा था उसका आर्डर 5 फरवरी 2021 से रिजर्व पड़ा हुआ है सरकार उस आर्डर को डिलीवर करा कर हम सभी प्रशिक्षु दारोगा को नियुक्ति दे,,,,,,,,,,,,,,,। आपसे बहुत उम्मीद है क्योंकि आप हर मुद्दे को सरकार के समझ बहुत ही सही तरीके से रखते हैं मैंन यूट्यूब पर बहुत सारे वीडियो आपके देखे हैं और आपका मैं व्यक्तिगत रूप से बहुत बड़ा फैन हूं*

    Reply
  • May 31, 2021 at 4:01 am
    Permalink

    Aap apne domain ko secure kijiye apka domain protected nhi hai … apka website secured na hone ke karan apke users ko kabhi kqbhi takleefein uthani padti hogi .. baki aap achha work kar rahi hain aap karti rahein upar wala apke sath hai aur ham sab ki dua apke sath hai

    Reply
    • May 31, 2021 at 3:48 pm
      Permalink

      आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

      Reply
  • May 31, 2021 at 7:06 am
    Permalink

    Jai Bharat ♥️🇮🇳

    Reply
    • May 31, 2021 at 3:48 pm
      Permalink

      आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

      Reply
  • May 31, 2021 at 7:51 am
    Permalink

    Kiä kahe Rona aa raha hai per ro nahi sakte neend aa rehi hai per khuli aankho se so bhi nahi sakte zindaghi narak ban gai hai Ab tu Ab Iss se jiyada hum bol bhi nahi sakte Kia kahu Rona aa raha hai inn halat mein per ro bhi nahi sakte kitne chale gaiye apno se bichad kar Kia Kare ki Ab aur kho nahi sakte Rona aa raha hai inn halato mein Kiä kahe ab ro bhi nahi sakte ….

    Reply
    • May 31, 2021 at 3:48 pm
      Permalink

      आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

      Reply
  • May 31, 2021 at 10:18 am
    Permalink

    “देश में बढ़ रही अशिक्षा , या रैली के लिए झंडा धारी हो रहे तैयार”

    Journalist Nitesh Upadhyay

    Reply
    • May 31, 2021 at 3:48 pm
      Permalink

      नितेश जी आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

      Reply
  • May 31, 2021 at 12:14 pm
    Permalink

    आपका नम्बर चाहिए शिक्षा की बातें कार्यक्रम फेसबुक पेज @newsplatform.in लाइव परिचर्चा हेतु।

    @newsplatform.in

    Reply
    • May 31, 2021 at 3:47 pm
      Permalink

      दिनेश जी आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..मुझे मेल पर संपर्क करें.. pragyamishra1396@gmail.com

      Reply
  • May 31, 2021 at 12:40 pm
    Permalink

    मैम क्या कहा जाए जिनके परिवार के लोग मर गए है या मर रहे है उनके ऊपर क्या गुजरता होगा ये सोचने के बजाय हमारी सरकार अपनी बदनामी की फिकर कर रही है इससे ज्यादा घटिया और क्या हो सकता है ।
    सायद सरकार को इस बात का मालूमात नही है कि सब लोग अपने परिवार के लिए खुद एक सरकार या भगवान होते है । अगर हमारी सरकार बस इतना समझ जाए तो शायद फिर हमारा देश वापस पटरी पे आ सकती है ।

    और आपकी पत्रकारिता को सलाम है जो आप निडरता की पत्रकारिता करती है

    Reply
    • May 31, 2021 at 3:46 pm
      Permalink

      ताहिर जी आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

      Reply
  • May 31, 2021 at 1:59 pm
    Permalink

    समाजवादी पार्टी से हो आप

    Reply
    • May 31, 2021 at 3:46 pm
      Permalink

      जी नहीं..उत्तर प्रदेश में सच्चाई की प्रार्टी से हूं मैं..मेरे सच से लोगों के कानों से धुआं विकलने लगता है..शुक्ला जी..

      Reply
  • May 31, 2021 at 3:42 pm
    Permalink

    Didi, ek bjp samarthak ne mujhse kaha, jab sarkar ne kaha mask lagao, social distancing banake rakho to janta nhhi maani, to itni deaths to honi hi thi…
    Aur jo ganga me dead bodies dikhayi gayi, prayagraj me ghat pe bodies dafn hain, wo sab ek 2015 se hai…ek news paper ne daawa bhi kiya hai.
    To fir abhi hi kyo un bodies ko dikhaya jaa raha hai.
    Wo bjp supporter hai aur wo kehta hai gov. Ki koi galti nahi hai.

    Reply
    • May 31, 2021 at 3:44 pm
      Permalink

      आदित्य जी आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

      Reply
    • May 31, 2021 at 3:53 pm
      Permalink

      आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

      Reply
      • May 31, 2021 at 5:29 pm
        Permalink

        Dear pragya ma’am !
        #Ashaworker raise voice
        ये goverment hospital वालों ने आशा बहुओ को जानवर समझ रखा हैं क्या ! खुद तो साले टाइम से आते नही.. अगर आ भी जाये तो कोई काम करना नही होता.. मरीजों को जानवरो की तरह ट्रीट करते हैं! CHC वाले पुरे corona time आराम के सिवा कुछ नहीं किया… और sallary पूरी 50,000 उठाते हैं! और अपने ड्यूटी के time के आलावा 1 भी मिनट ज्यादा नही रुकते.. काम किससे करते हैं बेचारी आशा बहुओ से और sallary मात्र 2000/month.. काम का कोई समय निर्धारित नहीं… दिन के 10-10घंटे काम करती हैं.. फील्ड से काम ख़तम होता तो उसको भी 4 जगह एक ही बात को लिख के.. एक ANM को एक आंगनवाड़ी को एक प्रधान और एक स्वयं रखे.. पता नहीं इन रिकॉर्ड का क्या करते हैं.. गावेर्मेंट को कुछ करना होता नही हैं. बस सर्वे करवाती रहती हैं.. भाई ANM और सांगनी रात में 11बजे कॉल करके पता नी कौन से रिकॉर्ड माँगा करती हैं… रजिस्टर पेन फोटोकॉपी में sallary से खर्च हो जाता हैं.. और इन सभी बातो को बोलो तो CMO आशा बहुओ को धमकी देता हैं. की नौकरी से निकल देंगे ये कर देंगे वो कर देंगे.. CMO गुंडई दीखता हैं.. आशा बहुओ का दर्द कौन समझें.sallry बढ़ाने की बात बोलो तो गोवेर्मेंट को साप सुंग जाता हैं..🙏🙏🙏प्लीज हेल्प…

        Reply
        • May 31, 2021 at 5:42 pm
          Permalink

          surabh ji noted your issue, आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें, so that i can raise your voices..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

          Reply
        • May 31, 2021 at 5:52 pm
          Permalink

          संडे को भी काम करती हैं.. इनके कभी काम ख़तम ही नहीं होते.. भारी धूप में बेचरी घर घर मारी घूमती हैं.. गॉवमेंट क्या 2000 रुपये खरीद रखा हैं.. और जो 50000 sallary ले रहै… उनको का देखने के लिये रखे हैं आशा बहुओ का भी परिवार हैं. उनके बच्चे भी घर पर उनका इंतजार करते हैं.. उन्हें भी घर पर काम होता हैं.. इतना ही काम करने का शौक हैं सर्वे कराने का.. रिकॉर्ड रखने का 35000 sallry कर दीजिये.. वो नही थकती क्या दिनभर घूम घूम कर.. उनके घर का काम क्या गवर्नमेंट आएगी.. मैडम….

          इस टॉपिक पर एक कम से कम 10 मिनट का विडिओ बना कर लतड दीजिये पुरे सिस्टम को.. प्लीज 🙏🙏🙏🙏

          Reply
  • May 31, 2021 at 4:08 pm
    Permalink

    Hi Mam

    Here is the some questions which you should ask to Gov.

    1) as you know CAA is trending again for few last days so my question is
    Why muslim are not included in under CAA law as per the law every can get citizenship but not muslim.. Is it not partitility ???

    2) PM said every indian citizen can ask the account for anything and he will prodvide.. So what he did after taking 20% of GDP amount i. 20 lac crore. Where he invested ??? Also peoples donated last year so much where are those amount???

    3) why we need new sadan development ??? Old one is not enough ??

    4) Why petrol and oil is going so high even base price is low then tax ??

    5) Why he did not do any conference with media ??

    6) If lockdown is only way to handle covid.. Then why he did not think about normal citizen or poor citizens who earn daily?? How he will survive.??

    7) spreading hate is only work for bjp ??

    Reply
    • May 31, 2021 at 5:07 pm
      Permalink

      adil baig ji आपने अपने विचार रखने के लिए समय निकाला..हम चाहते हैं आप हमेशा आप हमारे पाठक और दर्शक परिवार का हिस्सा रहें..आपकी राय के लिए बहुत बहुत शुक्रिया..

      Reply
    • May 31, 2021 at 8:27 pm
      Permalink

      प्रज्ञा दीदी आप हमेशा सरकार के खिलाफ ही क्यों बोलती हो ?

      Reply
      • June 1, 2021 at 2:26 pm
        Permalink

        mai sarkar ke khilaf nahi sarkar se sawal karti hun, aur jo bhi sarkar satta mei rahegi usse karti rahungi , sacchi pattrakarita ki aadat dal lijiye 🙂

        Reply
  • May 31, 2021 at 5:55 pm
    Permalink

    संडे को भी काम करती हैं.. इनके कभी काम ख़तम ही नहीं होते.. भारी धूप में बेचरी घर घर मारी घूमती हैं.. गॉवमेंट क्या 2000 रुपये खरीद रखा हैं.. और जो 50000 sallary ले रहै… उनको का देखने के लिये रखे हैं आशा बहुओ का भी परिवार हैं. उनके बच्चे भी घर पर उनका इंतजार करते हैं.. उन्हें भी घर पर काम होता हैं.. इतना ही काम करने का शौक हैं सर्वे कराने का.. रिकॉर्ड रखने का 35000 sallry कर दीजिये.. वो नही थकती क्या दिनभर घूम घूम कर.. उनके घर का काम क्या गवर्नमेंट आएगी.. मैडम….

    इस टॉपिक पर एक कम से कम 10 मिनट का विडिओ बना कर लतड दीजिये पुरे सिस्टम को.. प्लीज 🙏🙏🙏🙏

    Reply
    • June 1, 2021 at 2:45 pm
      Permalink

      noted,आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

      Reply
  • May 31, 2021 at 7:37 pm
    Permalink

    क्या covid के समय सरकार की असंवेदशीलता से जो मोदी के प्रति जो गुस्सा है, क्या वो चुनाव आते आते लोग भूल जाएंगे? या चुनाव से ठीक पहले पाकिस्तान से झगड़ा करके फिर से लोकप्रियता हासिल कर ली जाएगी?

    Reply
    • June 1, 2021 at 2:45 pm
      Permalink

      ye to desh ki janta ko hi tay karna hoga.आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

      Reply
  • May 31, 2021 at 7:37 pm
    Permalink

    didi Mujhe laptop ki jarurat hai please help me 😭😭😭😭didi Mujhe laptop ki jarurat hai please help me 😭😭😭😭didi Mujhe laptop ki jarurat hai please help me 😭😭😭😭

    Reply
  • May 31, 2021 at 7:57 pm
    Permalink

    Pragya ji Main West Bengal ke Malda Zilla Se hu main apki har ek Video jo ap ULTA Chasma UC per ya Pragya ke panna pe dete ho sab dekhta hu….
    Majhe bahut prabhabit karta hain
    Love U my Best Anchor Didi…..
    Malda (World me Aam ke liye famous)

    Reply
    • June 1, 2021 at 2:42 pm
      Permalink

      it was nice to hear from you, pls keep supporting like that.. आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

      Reply
  • May 31, 2021 at 8:00 pm
    Permalink

    मैडम में आपको पहले भी सुनता था, लेकिन पिछले दो महीने से लगातार फॉलो कर रहा हूं, आपके जैसे सच बोलने वाले बहुत कम है आज देश में कुछ होंगे तो सायद मंच नहीं होगा, लेकिन आपके जैसा बेबाक निर्भीक इतिहास इसी को याद रखेगा कि कौन स्वाभिमान से जिया किसने बेच दिया या डरकर स्वाभिमान से समझौता किया🙏👍

    Reply
    • June 1, 2021 at 2:38 pm
      Permalink

      thanks for supporting , आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

      Reply
  • May 31, 2021 at 8:26 pm
    Permalink

    उत्तराखंड के विषय पर भी वीडियो बनाये

    Reply
  • May 31, 2021 at 8:29 pm
    Permalink

    वैसे अच्छी बात है सरकार से सवाल पूछना।

    Reply
    • June 1, 2021 at 2:25 pm
      Permalink

      आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

      Reply
  • May 31, 2021 at 8:44 pm
    Permalink

    Do report on Punjab 2022 election

    Reply
  • May 31, 2021 at 9:59 pm
    Permalink

    I love you pragya ji 🥰

    Reply
  • May 31, 2021 at 10:17 pm
    Permalink

    शिक्षा के सुधार हेतु प्रत्येक भारतीय कर्मचारियों व मंत्री के बच्चों को विद्यालय में पढ़ाना चाहिए

    Reply
  • May 31, 2021 at 10:50 pm
    Permalink

    आप की पत्रकारिता को सलाम

    Reply
  • May 31, 2021 at 11:37 pm
    Permalink

    Hi Pragya Bahan,

    Mai Md Altaf Raza, Vaishali District, Bihar, Se Hun.

    Mai jab aapki Ek videos Pahli Martaba dekha to mujhe laga ki aaj Bhi kucch *Patrkaar* Hai Jo Sachchai Koi Aaina Ki Tarah Saaf Dikhate Hain, Mai ye dekh Ke Bahut Khush hua aur Mai Apne *Ammi* Ko aapka video dikhaya To Wo Bhi Bahut Khush Hui, Aur Ab Meri Ammi Aap Ke New Video Ka Wait Karti Hai, aur jab Bhi new video AATA hai to use turant Dekhti hai Aur like bhi Karti hain.

    Aur Mai Bhi aap Ka Sara videos dekhta hun Mai to aap Ka Video jaise on Karta Hun aur on karte hi Video start hone Se pahle Mai Aapke video ko like Karta hun fhir jakar Pura video Bahut hi gaur Se dekhta hun,

    Aap bas isi tarah Sachchai ko AainaKi tarah Saaf Dikhate rahiye,
    Humlogon Ka pyar Dua Hamesha aapke sath hai Aur rahega.

    Mai ishwar Se aap Ke Ujjawal Jiwan Ki Kamna Karta Hun.

    Ek baat Aur aapse ye kahna hai ki Ek Video Aisi Bhi Banaeye jo abhi Hamare Mulk-E-Hindustan Jo Abhi Dharam Ke Naam Pe Mulk Ka Mahaul Aisa bana Hua Hai Ki Kuchh Hindu Jo Muslim Ko Pasand Nahi karte Aur Kuchh Muslim Jo Hai Wo Hindu Ko Pasand Nahi Karte, please Bahan Ispe Koi Ek Chhoti Si vdeo Bana Ke Post Kijiye.

    Ram Ram Dua Salam

    Jai Hind

    Reply
    • June 1, 2021 at 2:16 pm
      Permalink

      thanks for supporting ,plz say my salam to your ammi…आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

      Reply
  • June 1, 2021 at 12:07 am
    Permalink

    प्रज्ञा मैडम, सादर नमस्कार!
    आप की पत्रकारिता उम्दा कोटि की है। आप देश के कुछ एक सच्चे पत्रकारों में से एक हैं। यूट्यूब पर आपके हर एक न्यूज को सुनता देखता हूं। ईश्वर आप को स्वास्थ्य एवं दीर्घायु प्रदान करें।

    Reply
    • June 1, 2021 at 2:13 pm
      Permalink

      thanks for supporting, आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

      Reply
    • June 1, 2021 at 2:14 pm
      Permalink

      thanks for supporting,आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

      Reply
  • June 1, 2021 at 8:59 am
    Permalink

    प्रज्ञा जी इस कोरोना काल में जिन्होंने अमूल योगदान दिया जैसे डॉक्टर और पुलिस कर्मी उनके बारे में भी कुछ बोलिए आप ।जैसा कि आप जानती है कि सरकार निरंकुश है कोई भी विरोध करता है तो उसकी नौकरी छीन ली जाती है और यह तक की उसे जेल भी भेज दिया जाता है ।और रही बात पुलिस कि तो वह आवाज भी नहीं उठा सकती ।।सरकार सभी कर्मचरियों का डी ए डकार गई ।जुलाई 2021से देने की बात कही गई लेकिन फिर से कोरॉन्ना का बहाना बना कर उसे भी डकारने की पूरी कोशिश जारी है ।इं कर्मचारियों का डी ए ये अपनी चुनावी रैलियों में खर्च करते है चुनाव कराने के लिए इनके पास पता नहीं कहा से फंड आ जाता है लेकिन हॉस्पिटल और education k liye भीख मांगते है।सरकारी कर्मचरियों का अब तक ये लोग 75000करोड़ रुपए डकार गए और आगे भी यही योजनाएं है ।कृपया आप इसमें भी कुछ बोले ।आप ही आखिरी उम्मीद हैं।पुलिस सुधार के बारे में भी कुछ बात रखे आप।

    Reply
    • June 1, 2021 at 12:41 pm
      Permalink

      जरूर

      Reply
  • June 1, 2021 at 10:46 am
    Permalink

    मेम हम 2486 लड़के जो Upsi2016 में ट्रेनिंग कर चुके है।उसके बाद भी 12 माह से घर पर बेरोजगार बैठे है सरकार की उदासीनता झेल रहे है हम में से कुछ की तो भूको मरने की नोबत आ गई है।हम लोगो ने कोरोना ओर caa में ड्यूटी की मात्र 3500rs अब एक साल से घर बेठ कर सरकार के फैसले का ििइंतजार कर रहे है हम लोगो की कोई नही सुन रहा हम में से कुछ लड़के तो अब इस दुनिया मे भी नही रहे ।आप हमारी मदद करिये।

    Reply
    • June 1, 2021 at 12:41 pm
      Permalink

      जरूर

      Reply
  • June 1, 2021 at 2:06 pm
    Permalink

    Hlo mam,
    I’m your very biggest fan
    Mam mai jharkhand se hun
    1 video jharkhand sarkar per bhi bana dijiye please

    Reply
    • June 1, 2021 at 2:09 pm
      Permalink

      noted, आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें 🙂

      Reply
  • June 1, 2021 at 2:51 pm
    Permalink

    मेरा एक बहुत अलग टाइप का क्वेश्चन है मैं मालदा जिला का रहने वाला जो बिहार के कटिहार के बहुत ही पास रहता हूं मेरा एक प्रश्न यह है कि हम लोग हर साल खेती करते हैं और बहुत लगभग 50 पैकेट से ज्यादा हम लोग खाद यूज करते हैं डीएपी यूरिया फोटोस सुपर फास्फेट मैंने कई दिन पहले यह न्यूज़ में देखा था कि डीएसपी का दाम बढ़ाकर और सब्सिडी सब्सिडी भी बढ़ा दिया गया था और उसमें सब्सिडी का जितना पैसा वह किसान को मिलेगा मेरे सबसे बड़ा एक क्वेश्चन है कि हम लोग हर साल खेती करते हैं लेकिन सब्सिडी मिलना तो दूर की बात हमें पता ही नहीं है सब्सिडी आखिर क्या होता है अगर आपको चाहिए तो मेरे पास सबूत भी है मेरी आधार कार्ड से मेरे मोबाइल पर मैसेज भी है मैंने कितने बोरी आज बॉर्डर किया मैंने कितना लिया सब कुछ मेरा मोबाइल नंबर पर मेरे मैसेज से भी है आप से रिक्वेस्ट है प्रज्ञा जी अगर अगर आप ए देखते हैं जो आपका जितना भी आप कोशिश कीजिए कि कटिहार या मालदा जिला के गांव की किसी भी लोक से या अगर आप चाहते हैं कि मैं इसका सबूत दूं तो मैं दे सकता हूं

    Reply
    • June 1, 2021 at 2:59 pm
      Permalink

      noted, आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

      Reply
  • June 1, 2021 at 7:17 pm
    Permalink

    जो भी आप लिखती हैं एकदम सही है आपको बहुत बहुत धन्यावाद l

    Reply
    • June 1, 2021 at 7:18 pm
      Permalink

      आपने समय निकालकर अपने विचार रखे..इसके लिए धन्यवाद..हम चाहते हैं आप हमारे नियमित पाठक बने..हमारे आर्टिकल पढ़ें और शेयर करें.

      Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *