बुलंदशहर में गरजीं मायावती, पहले MODI को रोकना है फिर YOGI को, इनको न बताएं अपनी जाति

लोकसभा चुनाव के दूसरे चरण के जिलों में सभी राजनीतिक दलों ने कसी कमर. आज यूपी के गठबंधन सपा-बसपा-रालोद की बुलंदशहर में संयुक्त रैली हुई. जिसमें बसपा सुप्रीमों मायावती और राष्ट्रीय लोकदल के उपाध्यक्ष जयंत चौधरी शामिल हुए. रैली में बड़ी संख्या में भीड़ जुटी है.

mayawati election campaign in bulandshahr for jayant chaudhary
mayawati election campaign in bulandshahr for jayant chaudhary

गठबंधन की इस रैली में सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव मौजूद नहीं थे. मायावती यहां बसपा प्रत्याशी योगेश वर्मा के पक्ष में चुनावी सभा करने आई हैं. बीएसपी-सपा-आरएलडी की ये दूसरी साझा चुनावी रैली है. यहां से सपा के धर्मेंद्र यादव सपा प्रत्याशी हैं. बुलंदशहर में दूसरे चरण में जबकि बदायूं में तीसरे चरण में मतदान होगा.

मायावती ने मंच पर चढ़ते ही सीएम योगी आदित्यनाथ पर हमला बोल दिया. उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ ने अली व बजरं बली को लेकर बयान दिया था. मैं तो उनको यह बता दूं कि हमारे अली भी हैं और बजरंगबली भी हैं. हमें दोनों चाहिए. दोनों के गठजोड से अच्छा रिजल्ट मिलने वाला है. प्रदेश में योगी आदित्यनाथ को न तो अली और ना ही मेरी जाति का वोट मिलेगा. दोनों वर्ग कांग्रेस व भाजपा को छोड़ चुके हैं. हमारी पार्टी धर्म जाति पर वोट नहीं मांगती है. ये काम सिर्फ और सिर्फ भाजपा करती है.

मायावती ने आगे कहा बीजेपी ने घोषणा पत्र में जो वादे किए हैं वे कांग्रेस की तरह खोखले रहे हैं. 15 लाख रुपये देने की घोषणा की थी मगर वो गरीबों का मजाक व जुमला बनकर रह गया. अब कंग्रेस भी इसी राह पर है जबकि कांग्रेस को देश की जनता पहले ही उखाड़ चुकी है. यदि हमारी सरकार केंद्र में आई तो छह हजार नहीं स्थायी नौकरी दी जाएगी. गरीबी नौकरी देने से दूर होगी. पहले मोदी को केंद्र से रोको फिर प्रदेश में योगी को रोकना है.

मायावती ने लोगों से कहा कि वोट के समय घबराएं नहीं. मुझे नेता मानते हो तो पहले वोट दें और खाना बाद में खाएं. अगर कोई आपकी जाति पूछे तो उसको टरका देना वरना कोई गड़बड़ कर सकता है. गठबंधन को मजबूत रखना है. बतादें बुलंदशहर सुरक्षित सीट से भाजपा ने भोला सिंह को मैदान में उतारा है. कांग्रेस ने पूर्व विधायक बंसी सिंह पहाडिय़ा को प्रत्याशी घोषित किया है. यहां पर दूसरे चरण में 18 अप्रैल को मतदान होना है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *