माया के जन्मदिन पर पहुंचे अखिलेश, ये करने से खुद को रोक नहीं पाए

आज मायावती अपना 63वां जन्मदिन मना रहीं हैं. इस मौके पर लखनऊ के माल एवेन्यू रोड स्थित बसपा कार्यालय में मायावती के स्वागत के लिए भव्य आयोजन किया गया. जैसे ही माया कार्यालय पहुंची तुरंत मीडिया ने उनको अपने घेरे में ले लिया. मीडिया को सम्बोधित करते हुए माया ने कहा कि मेरा जन्मदिन जनकल्याणकारी दिवस के रूप में मनाया जाता है.

mayawati celebrate 63rd birthday today in lucknow
mayawati celebrate 63rd birthday today in lucknow

उन्होंने कहा, मैंने अपना जीवन दलित और गरीब कल्याण के लिए समर्पित कर दिया है. इस दौरान सपा के कार्यकर्ता भी बसपा कार्यालय में मौजूद रहे. माया ने कहा, मेरी बसपा व सपा कार्यकर्ताओं से यही अपील है कि वे 25 साल के आपसी गिले-शिकवे दूर कर चुनाव की तैयारी में जुट जाएं और मुझे जीत का तोहफा दें.

इस मौके पर उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि जिन राज्यों में कांग्रेस ने कर्जमाफी का वादा किया था वहां से अब शिकायतें आने लगी हैं. हम कहते हैं कि एक बार देश के सारे किसानों का पूरा कर्जमाफ किया जाना चाहिए. तभी किसानों की परेशानियों का हल निकलेगा नहीं तो किसाना आत्महत्या करता रहेगा.

जन्मदिन पर पहुंचे अखिलेश

इस मौके पर सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव भी मायावती को बधाई देने उनके आवास पर पहुंचे. और मायावती को शाल उढ़ा कर जन्मदिन की बधाई दी. साथ ही फूलों से भरा गुलदस्ता भी दिया. प्रदेश भर के सभी जिलों में बसपा कार्यकर्ता और पदाधिकारी गरीबों को कपड़े, भोजन और अन्य जरूरी सामान बांटकर मायावती का जन्मदिवस मनाएंगे.

इसके बाद उनका दिल्ली जाने का कार्यक्रम है. जहां सहयोगी दलों के नेता उनसे मुलाकात करेंगे और जन्मदिन की बधाई देंगे. जन्मदिन समारोह में बसपा के सहयोगी दलों- इंडियन नेशनल लोकदल, सपा, आरजेडी, टीएमसी, छत्तीसगढ़ कांग्रेस सहित कई राजनीतिक दलों को न्योता दिया गया है.

सपा-बसपा प्रमुख अखिलेश और मायावती ने लखनऊ में संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस करके अपने गठबंधन का ऐलान पहले ही कर दिया है. इसके साथ ही लोकसभा सीटों को लेकर माया ने कहा की सपा-बसपा ने पिछली 4 जनवरी को दिल्ली में ही सीटों पर चर्चा कर ली थी. यूपी की 80 लोकसभा सीटों में से बसपा 38 सीटों पर, सपा 38 सीटों पर और 2 सीट अन्य सहयोगी दलों के लिए छोड़ दी हैं. और दो अमेठी (राहुल गांधी की सीट) और रायबरेली (सोनिया गांधी की सीट) की सीटें कांग्रेस को बिना शामिल किये उसके लिए छोड़ दी हैं.

2014 के लोकसभा चुनाव की स्थिति- कुल सीटें: 80

पार्टी                           सीटें                    वोट शेयर
भाजपा+                     73                       42.6%
सपा                           05                        22.3%
बसपा                         00                       19.8%
कांग्रेस                        02                        7.5%