ममता ने रोक दिया योगी का हेलीकॉप्टर, रैलियां रद्द, दीदी को चुभ गई थी मोदी की ये बात-

आज रविवार को पश्चिम बंगाल में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की होने वाली दोनों रैलियां रद्द हो गई हैं. दरअसल पश्चिम बंगाल की ममता सरकार ने योगी आदित्यनाथ के हेलीकॉप्टर को वहां उतरने की इजाजत ही नहीं दी है. और सबसे बड़ी बात की ममता ने इसका कारण भी नहीं बताया.

mamta banerjee denied permission cm yogi adityanath meetings west bengal
mamta banerjee denied permission cm yogi adityanath meetings west bengal

ममता के इस फैसले से योगी को अपनी सभी रैलियां रद्द करनी पड़ीं. लोकसभा चुनाव से पहले बीजेपी प्रदेश में 100 से ज्यादा रैली करने वाली है. इसी कड़ी में आज योगी बांकुरा और पुरुलिया में दो रैली करने वाले थे. मुख्यमंत्री कार्यालय से पता चला कि ममता सरकार ने बिना किसी नोटिस के रैली की इजाजत खारिज कर दी है. बीजेपी के स्थानीय कार्यकर्ताओं ने ममता सरकार के इस फैसले के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है.

रैली रद्द होने के बाद सीएम योगी अपने सरकारी आवास 5 कालीदास मार्ग पर वापस लौट आए हैं. और उधर योगी का दौरा रद्द होने के बाद यूपी में सियासत भी तेज हो गई है. मुख्यमंत्री के सूचना सलाहकार मृत्युंजय कुमार ने कहा कि यह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की लोकप्रियता का असर है कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हेलीकॉप्टर लैंडिंग की इजाजत तक नहीं दी है.

कल ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ममता दीदी के गढ़ पश्चिम बंगाल में लोकसभा चुनाव के प्रचार का बिगुल फूंका था. और अपनी जनसभा में भारी संख्या में भीड़ देखकर ममता पर तंज कस्ते हुए कहा था की आज इस भीड़ को देखकर पता चला की दीदी क्यों इतना हिंसक हैं. ये देश का दुर्भाग्य रहा कि आज़ादी के बाद भी अनेक दशकों तक गांव की स्थिति पर उतना ध्यान नहीं दिया गया, जितना देना चाहिए था. यहां पश्चिम बंगाल में तो स्थिति और भी खराब है.

बस मोदी की ये बात ममता दीदी को हज़म नहीं हुई और आज उन्होंने योगी को पश्चिम बंगाल में कदम ही नहीं रखने दिया. आपको बतादें कि इस रैली के अलावा 5 फरवरी को भी योगी की रायगंज और दिनाजपुर जिले के बालूरघाट में रैली है. वहीँ प्रधानमंत्री 8 फरवरी को दार्जिलिंग या जलपाईगुड़ी में रैली को संबोधित करेंगे.