चंद्रग्रहण आज, 5 राशियों को है ख़तरा, वैज्ञानिकों के लिए बेहद ख़ास, जानें इसका विशेष महत्व

आषाढ़ मास की पूर्णिमा की रात यानि आज मंगलवार को रात 1.31 बजे चंद्रग्रहण लगेगा. वैसे चंद्रमा है तो एक उपग्रह ही, जोकि हमारी धरती के चक्कर काटता है, लेकिन प्रतीक के तौर पर देखा जाये तो इसके अलग अलग मायने हैं.

lunar eclipse full moon effect and guru purnima sawan month
lunar eclipse full moon effect

ये साल 2019 का अंतिम चंद्र ग्रहण है. भारत के साथ ही ये ग्रहण आस्ट्रेलिया, अफ्रीका, एशिया, यूरोप और दक्षिण अमेरिका में दिखाई देगा. ये तो सभी को पता है कि चांद किसी के लिए महबूब, किसी के लिए उसकी प्रेयसी, बच्चों के लिए मामा और आध्यात्मिक दृष्टि से देवता माने जाते हैं. ये चंद्र ग्रहण रात एक बजकर 31 मिनट से शुरू होगा और तीन बजकर एक मिनट पर पूरे चरम पर होगा फिर चार बजकर 30 मिनट ग्रहण ख़त्म हो जायेगा.

ऐसा 149 साल बाद होने जा रहा है जब गुरु पूर्णिमा के दिन ही चंद्र ग्रहण भी पड़ेगा. इससे पहले मंगलवार शाम 5.31 बजे ही सूतक लग जाएगा. मंदिरों के दरवाजे बंद कर दिए जाएंगे. इस दौरान पूजा-अर्चना नहीं होगी. लेकिन मंत्रों का जाप चलता रहेगा. सूतक लगने के बाद सभी को खाने-पीने से थोड़ा परहेज करना चाहिए.

मंदिर के कपाट इसलिए बंद कर दिए जाते हैं क्युकी ग्रहण और सूतक के समय चंद्र से निकलने वाली नकारात्मक तरंगों के संपर्क में आने वाली सभी चीजें अपवित्र हो जाती हैं. मंदिर में रखी पूजन सामग्री, मंदिर परिसर भी अशुद्ध हो जाती है. ग्रहण के बाद मंदिर की शुद्धि की जाती है, भगवान की प्रतिमा को स्नान कराया जाता है, इसके बाद ही आम भक्तों के लिए मंदिर को खोला जाता है. ये परंपरा पुराने समय से चली आ रही है.

राशि के हिसाब से देखा जाये तो इस चंद्र ग्रहण से मेष, वृष, कन्या, धनु और मकर राशि वाले लोगों को संभलकर रहना होगा. इन 5 राशियों के लिए दिन ठीक नहीं है. ग्रहों की अशुभ स्थिति का सीधा असर इन राशि वालों की आर्थिक स्थिति पर पड़ेगा. जिससे फालतू खर्चा और नुकसान हो सकता है. लेन-देन में सावधानी रखनी होगी. निवेश भी सोच-समझकर ही करें.

खगोल विज्ञान में दिलचस्पी रखने वाले लोगों के लिए यह नजारा बेहद शानदार होगा, बशर्ते मौसम साफ हो. खगोल वैज्ञानिकों को इस घटना का बेसब्री से इंतजार है. चंद्र ग्रहण के दौरान वैज्ञानिकों को ब्रह्मांड के रहस्यों को समझने में मदद मिलेगी. इस दौरान चंद्रमा धरती के नजदीक और आकार में काफी बड़ा दिखाई देगा.

775 total views, 1 views today

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *