डकैत बनी लखनऊ पुलिस, आगरा के सोनार को लूट लिया

lucknow-police
प्रतीकात्मक तस्वीर
चेकिंग की कहा बेटा तुम लुटेरे हो निकालो साढ़े तीन लाख और जाओ

विशाल जैन आगरा के सर्राफा व्यापारी हैं. लखनऊ परिवार के साथ काम के सिलसिले में आए थे. मड़ियांव में पुलिस ने सोनार को रोक लिया. विशाल जैन के पास से सोने चांदी के गहने जेवरात मिले, लखनऊ पुलिस ने कहा तुम चोर हो, विशाल जैन ने कहा मैं चोर नहीं व्यापारी हूं. लखनऊ पुलिस ने कहा पुलिस कौन है तुम या हम. विशाल जैन ने कहा आप. उसके बाद पुलिस वाले उसको पास की चौकी ले गए और कहा तुम आगरा के हो एक ही शर्त पर छोड़ सकते हैं. 5 लाख दो और चलते बनो.

रात भर थाने में बिठाकर साढ़े तीन लाख रूपए लूट लिए

अपनी गुंडई दिखाते हुए पुलिस वालों ने विशाल जैन से साढ़े तीन लाख रूपए लिए और सर्राफा व्यापारी को छोड़ दिया. सर्राफा व्यापारी छूटते ही आगरा पहुंचा. फिर तुरंत बड़े पुलिस अधिकारियों से मिलकर पूरी घटना बताई. अपने ही पुलिस वालों की डकैती की खबर सुनकर बड़े पुलिस अधिकारियों के होश उड़ गए. एक तरफ मुख्यमंत्री व्यापारियों को सुविधाएं देने की बातें करते हैं दूसरी तरफ उनके ही पुलिस वाले व्यापारियों को लूट रहे हैं.

 

-----
lucknow-police-loot
प्रतीकात्मक तस्वीर

 

-----
तीन दोषी पुलिस वालों को लाइन हाजिर किया गया

जांच बैठी इंस्पेक्टर प्रदीप सिंह, दारोगा दलवीर सिंह, और आफताब आलम को लाइन हाजिर कर दिया गया. तीनों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई. तीनों को सस्पेंड करने की भी कार्रवाई की जा रही है. मामला दीवाली से एक दिन पहले का है, दीवारी पर सर्राफा व्यापारी लखनऊ आए थे रात का करीब डेढ़ बजा था मड़ियांव के चौराहे पर पुलिस ने गाड़ी की तलाशी ली, गाड़ी से बड़ी मात्रा में कैस और चांदी मिली पुलिस ने दो मिनट में उसे लूट का माल घोषित कर दिया. और साढ़े तीन लाख रूपए लेकर छोड़ दिया.

सर्राफा व्यापारी की कार में 35 किलो चांदी थी

कार में 35 किलो चांदी का सामान था. पुलिसवालों ने रात भर चौकी में बिठाकर सर्राफा व्यापारी को धमकाया था. जब जांच बैठी तो विशाल जैन ने फोटो देखकर तीनों पुलिसवालों की पहचान की. ये यूपी की लखनऊ पुलिस कभी राह चलते आदमी को गोली मार देती है कभी राह चलते आदमी को लूट लेती है.

 

lucknow-police
प्रतीकात्मक तस्वीर

कॉन्सटेबल के 49,568 पदों पर निकलीं भर्तियां, 19 नवंबर से यहाँ करें अप्लाई-

HINDI NEWS से जुड़े अपडेट और व्यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ FACEBOOK और TWITTER हैंडल के अलावा GOOGLE+ पर जुड़ें.

web title- lucknow police

-----