लखनऊ के चार इलाकों में आज से पूर्ण लॉकडाउन लागू, मरीजों की संख्या 4 हज़ार के पार

राजधानी लखनऊ में लगातार कोरोना संक्रमण बढ़ता ही जा रहा है. केवल लखनऊ में ही मरीजों की संख्या 4 हज़ार के पार हो गई है. बढ़ते मामले को देखते हुए जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश ने चार थाना क्षेत्रों में टोटल लॉकडाउन लगा दिया है.

lucknow complete lockdown four police station area
lucknow complete lockdown four police station area

आज यानी सोमवार 20 जुलाई सुबह 5 बजे से चार थाना क्षेत्रों गाजीपुर, इंदिरानगर, सरोजनी नगर और आशियाना में टोटल लॉकडाउन लगाया है. ये लॉकडाउन 24 जुलाई रात्रि 10 बजे तक लागू रहेगा. कोरोना के ज्यादा मरीज इन्ही क्षेत्रों से मिले हैं. इन चारो थाना क्षेत्र को ज़िला मजिस्ट्रेट ने वृहद कन्टेनमेन्ट जोन घोषित किया है.

सर्वाधिक कोरोना वायरस के मामले आने वाले इलाकों में पूर्ण लॉकडाउन लागू होने के बाद वहां से न कोई बाहर आ सकेगा न ही कोई बाहर से उन इलाकों में जा सकेगा. लखनऊ को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गंभीर हैं. लखनऊ में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को लेकर सीएम योगी ने समस्त वरिष्ठ अधिकारियों को तलब किया है.

इन वृहद कन्टेनमेन्ट जोन में स्थित सभी बाजार, गल्ला, मंडी, व्ययसायिक प्रतिष्ठान बंद रहेंगे. हालांकि इन चारों थाना क्षेत्र में सभी आवश्यक सेवाएं खुली रहेंगी. सब्जी, दवा और फल की दुकानें भी खुली रहेंगी. अगर आंकड़ा ऐसे ही बढ़ता रहा तो जुलाई के आखिर में संक्रमितों की संख्या 6 हज़ार तक हो सकती है. बता दें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिलों में अतिरिक्त लॉकडाउन के लिए जिलाधिकारी को अधिकार दे रखा है.

लेकिन राजधानी में कोरोना मरीजों की संख्या इतनी बढ़ गई है कि अब उन्हें इलाज मिलना भी मुश्किल होता जा रहा है. कंट्रोल रूम में मदद के लिए कॉल लगती ही नहीं और लग भी गई तो मरीजों को सिर्फ आश्वासन ही मिल रहा है. मरीजों को सूचना मिलने के दो घंटे में भर्ती कराने के दावे हवा हो गए हैं. लोगों को दो-दो दिन तक भटकने के बाद भी कोविड अस्पतालों में जगह नहीं मिल रही है. इससे इलाज के अभाव में कई मरीज दम तोड़ दे रहे हैं.

रविवार को 392 मरीज मिलने से सीएमओ दफ्तर की व्यवस्था चरमराई गई है. रवि‍वार को शहर में कोरोना से मृतकों की संख्या 53 पहुंच गई है. मगर, वि‍भाग के आंकड़ों में 47 पर टीकी है. वहीं कुल मरीजों की बात करें तो ये संख्या 4009 पहुँच गई है.

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *